scorecardresearch
 

आईएसआईएस का खात्मा करेगा अमेरिकाः ओबामा

राष्ट्रपति बराक ओबामा ने यह स्वीकार किया कि इस्लामिक स्टेट के खिलाफ लड़ाई मुश्किल बनी हुई है. उन्होंने कहा कि अमेरिका इस बर्बर आतंकवादी संगठन को नष्ट कर देगा. राष्ट्रपति के मुताबिक सीरियाई संघर्ष का खात्मा इस कोशिश में बड़ा कदम होगा.

ओबामा ने आईएसआईएस का खात्मा करने की बात कही ओबामा ने आईएसआईएस का खात्मा करने की बात कही

राष्ट्रपति बराक ओबामा ने यह स्वीकार किया कि इस्लामिक स्टेट के खिलाफ लड़ाई मुश्किल बनी हुई है. उन्होंने कहा कि अमेरिका इस बर्बर आतंकवादी संगठन को नष्ट कर देगा. राष्ट्रपति के मुताबिक सीरियाई संघर्ष का खात्मा इस कोशिश में बड़ा कदम होगा.

ओबामा ने इस्लामिक स्टेट के लिए एक अन्य पर्याय का इस्तेमाल करते हुए कहा कि आईएसआईएल के खिलाफ यह लड़ाई मुश्किल बनी हुई है, लेकिन अपने समुदायों की ताकत और अमेरिकियों के रूप में अपने मूल्य और राष्ट्रीय ताकत के सभी तत्वों के साथ हम इसमें लगे रहेंगे. और हमें विश्वास है कि हम जीतेंगे.

ओबामा ने अपने साप्ताहिक संबोधन में कहा कि हम इस बर्बर आतंकवादी संगठन को नष्ट कर देंगे और दुनिया में उन लोगों के साथ हमेशा खड़ें रहेंगे, जो बेहतर और सुरक्षित भविष्य के लिए प्रयासरत रहेंगे. उन्होंने कहा कि आईएस को नष्ट करने का मिशन मुश्किल है. सीरिया और इराक में स्थिति वाकई जटिल है.

सीरिया में आईएस को हराने के लिए अमेरिकी कमांडो आईएस विरोधी लड़ाकों के साथ मिलकर काम कर हैं. इन लड़ाकों में मुख्य तौर पर कुर्द समूह सीरियन डेमोक्रेटिक फोर्सेज के लडाके शामिल हैं.

टीम को अभि‍यान तेज करने के निर्देश
ओबामा ने कहा कि आईएसआईएस शहरी क्षेत्रों सहित इलाके में अपनी जड़ें जमा चुका है. वह निर्दोष नागरिकों को मानव कवच की तरह इस्तेमाल करता है. इन चुनौतियों के बाद भी वो कह सकते हैं कि वो आगे बढ़ रहे हैं. इस हफ्ते ओबामा ने अपनी टीम को अभियान तेज करने का निर्देश दिया है.

उन्होंने कहा कि अरब साझेदारों समेत 66 सदस्यीय गठबंधन लगातार मजबूत होता जा रहा है और इस लड़ाई में अधिकाधिक देश अधिक से अधिक योगदान कर रहे हैं. इराक में आईएसआईएल जितने क्षेत्रों पर अपने नियंत्रण में ले चुका था, उसमें 40 फीसदी से अधिक क्षेत्र उसके हाथ से निकल गए हैं.

ओबामा के मुताबिक सीरिया में स्थानीय शक्तियों का गठबंधन आईएसआईएस की पकड़ वाले रक्का में उस पर नकेल कस रहा है. हम उसके तेल वाले बुनियादी ढांचों पर बम बरसाते हैं और ऐसे में आईएसआईएल अपने लड़ाकों की तनख्वाह घटाने को बाध्य हुआ है.

ओबामा ने कहा कि आईएस की निश्चित हार का एकमात्र तरीका सीरिया में गृहयुद्ध और अराजकता बंद करना है. शुक्रवार के दिन शासन और विद्रोहियों के बीच संयुक्त राष्ट्र समर्थित संघष र्विराम हुआ है और उसके लिए सोमवार को ही रूस और अमेरिका के बीच सहमति बनी थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें