scorecardresearch
 

सिर कलम करने वाले जिहादी जॉन पर अमेरिका ने किए हवाई हमले

दुनिया में आतंक का क्रूर चेहरा माने जाने वाले ISIS आतंकी जिहादी जॉन को निशाना बनाकर अमेरिका ने सीरिया में हवाई हमले किए हैं. जिहादी जॉन वह व्यक्ति है, जो वीडियो में नकाब पहनकर बंधकों को मौत के घाट उतारता दिखाई देता है. अमेरिकी रक्षा विभाग पेंटागॉन ने सीरिया में हुए हवाई हमलों की जानकारी दी.

सीरिया में सक्रिय है क्रूर आतंकी जिहादी जॉन सीरिया में सक्रिय है क्रूर आतंकी जिहादी जॉन

दुनिया में आतंक का क्रूर चेहरा माने जाने वाले ISIS आतंकी जिहादी जॉन को निशाना बनाकर अमेरिका ने सीरिया में हवाई हमले किए हैं. जिहादी जॉन वह व्यक्ति है, जो वीडियो में नकाब पहनकर बंधकों को मौत के घाट उतारता दिखाई देता है. अमेरिकी रक्षा विभाग पेंटागन ने सीरिया में हुए हवाई हमलों की जानकारी दी.

पेंटागन के प्रेस सचिव पीटर कुक ने एक बयान में कहा, 'हम आज रात के अभियान के नतीजों का आकलन कर रहे हैं.'

पेंटागन ने कहा कि हवाई हमला राका में बोला गया. जिहादी जॉन के रूप में पहचाने जाने वाले 26 वर्षीय ब्रितानी आतंकी मोहम्मद एमवाजी के बारे में माना जाता है कि उसने आतंकी समूह छोड़ दिया है और वह सीरिया में फरार है. यह भी माना जाता है कि वह उत्तरी अमेरिका जाने की कोशिश में है.

कुक ने बयान में कहा, 'एमवाजी एक ब्रितानी नागरिक है और वह उन कई वीडियो में दिखा है, जिनमें अमेरिकी पत्रकारों स्टीवन सोटलोफ और जेम्स फोले, अमेरिकी सहायताकर्मी अब्दुल-रहमान कासिग, ब्रितानी सहायताकर्मी डेविड हेंज और ऐलन हेनिंग और जापानी पत्रकार केंजी गोटो और कई अन्य बंधकों की हत्याएं दिखाई गई हैं.'

एमवाजी की पहचान उस रहस्यमयी व्यक्ति के रूप में कई गई थी जो कि इस्लामिक स्टेट द्वारा फरवरी में जारी वीडियो में चाकू थामे खड़ा था. इस्लामिक स्टेट के इन वीभत्स वीडियो में बंधकों को मौत के घाट उतारते दिखाया गया था. ब्रिटिश मीडिया ने इसे जिहादी जॉन कहकर पुकारा क्योंकि यह उन चार ब्रिटिश आतंकियों में से एक था, जिसे उसके बंधकों द्वारा 'द बीटल्स' कहकर पुकारा जाता था.

वर्ष 2013 में सीरिया के लिए रवाना होने से पहले एमवाजी पश्चिमी लंदन में रहता था और कंप्यूटर साइंस में ग्रेजुएट था. सुरक्षा सेवाएं इसे जानती थीं और वर्ष 2009 से कई बार इसे हिरासत में लिया गया था. हालांकि, इससे कई बार पूछताछ की गई थी लेकिन उसे कभी गिरफ्तार नहीं किया गया और न ही उस पर कभी आरोप तय किए गए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें