scorecardresearch
 

कैब बुक करके लूटने वाले गैंग का भंडाफोड़, 3 आरोपी गिरफ्तार

कैब बुक करके लूट की वारदात को अंजाम देने वाले गैंग के तीन बदमाशों को गिरफ्तार करने में पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है. आरोपियों ने एक दर्जन से ज्यादा लूट की वारदातों को अंजाम देने की बात कबूल ली है. आरोपियों के पास से लूट की कार भी बरामद हुई है.

पुलिस की गिरफ्तार में आरोपी पुलिस की गिरफ्तार में आरोपी

उत्तर प्रदेश की नोएडा पुलिस ने कैब लूटने वाले गैंग के तीन बदमाशों को गिरफ्तार करने में बड़ी कामयाबी हासिल की है. पुलिस को इनके पास से लूटी गई एक कार, नगदी और अवैध हथियार बरामद हुए हैं. आरोपी पहले कैब को बुक करते थे और फिर लूट लेते थे. इन बदमाशों ने राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में कैब लूट की दो दर्जन से ज्यादा वारदातों को अंजाम देने की बात भी कबूल ली है.

पुलिस इनसे पूछताछ करके और जानकारी जुटा रही है. पुलिस यह भी पता लगाने की कोशिश कर रही है कि आखिर इस गैंग में कितने लोग हैं. इन आरोपियों की पहचान दीपक, बादल  और असलम के रूप में हुई है. पुलिस ने मुखबिर की सूचना के आधार पर ही इन तीनों लूटेरों को गिरफ्तार किया है. पुलिस के मुताबिक इन बदमाशों के पास से लूटी गई एक कार, टैक्सी टाटा इंडिगो, 2000 रुपये नकद, 6 मोबाइल फोन, एक टैबलेट और अवैध हथियार बरामद हुए हैं.

इस गैंग का सरगना कुछ दिन पहले ही जेल से छूटकर आया था. उसी ने यह गैंग बनाया था और इस गैंग के सदस्य मिलकर कैब लूटने की घटनाओं को अंजाम दे रहे थे. पूछताछ के दौरान पकड़े गए बदमाशों ने पुलिस को बताया है कि वे इंटरनेट के माध्यम से ऑनलाइन ओला और उबर कैब बुक करते थे और फिर उसमें सवार होकर सुनसान जगह पंहुचते थे. इसके बाद कैब चालक के साथ मारपीट करके गाड़ी लूट लेते थे.

उन्होंने बताया कि इन बदमाशों ने बिसरख, सूरजपुर और ग्रेटर नोएडा क्षेत्र से कैब लूटने की बात स्वीकार की है. पुलिस को इन आरोपियों के पास से जो कार बरामद हुई है, उसको इन्होंने ग्रेटर नोएडा से लूटी थी. पुलिस की पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि उन्होंने राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में लूटपाट की करीब दो दर्जन वारदातों को अंजाम दिया है. उन्होंने बताया कि उनके कुछ साथी फरार हैं. अब पुलिस मामला दर्जकर गैंग के फरार बदमाशों की तलाश में जुट गई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें