scorecardresearch
 

भारत की हार पर पाक प्रेम के कितने केस, यूपी-पंजाब-राजस्थान में क्या हुआ एक्शन?

टी 20 वर्ल्ड कप में भारत की हार के बाद देश में कई जगहों पर पाकिस्तान के प्रति प्रेम जाहिर करने के मामले सामने आए हैं. कहीं खुशी में नारेबाजी की गई तो कहीं पटाखे जलाए गए. कुछ लोगों ने सोशल मीडिया पर अपनी खुशी का इजहार किया तो कुछ ने व्हॉट्सएप पर डीपी और स्टेट्स में पाकिस्तान का झंड़ा लगा डाला.

पाकिस्तान की जीत पर खुशी मनाने वाले कोई लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है पाकिस्तान की जीत पर खुशी मनाने वाले कोई लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है
स्टोरी हाइलाइट्स
  • दुबई में खेला गया था टी20 वर्ल्ड कप
  • रविवार को था भारत-पाक के बीच मुकाबला
  • पाकिस्तान ने पहली बार भारत को हराया था

टी 20 वर्ल्ड कप में भारत की हार के बाद देश में कई जगहों पर पाकिस्तान के प्रति प्रेम जाहिर करने के मामले सामने आए हैं. कहीं खुशी में नारेबाजी की गई तो कहीं पटाखे जलाए गए. कुछ लोगों ने सोशल मीडिया पर अपनी खुशी का इजहार किया तो कुछ ने व्हॉट्सएप पर डीपी और स्टेट्स में पाकिस्तान का झंड़ा लगा डाला. अब ऐसे तमाम पाक प्रेमी भारतीयों के खिलाफ राज्य सरकारें और प्रशासन कार्रवाई कर रहा है. यूपी में तो ऐसे मामलों में राजद्रोह का केस दर्ज किया गया है. आइए आपको बताते हैं कि ऐसे कितने मामले कहां-कहां सामने आए हैं.

उत्तर प्रदेश

यूपी के अलग-अलग जिलों में पाकिस्तान के समर्थन में आए लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार किया गया है. इनके खिलाफ देशद्रोह के तहत केस चलेगा. बताया जा रहा है कि आगरा में तीन, बरेली में दो, बदायूं में एक और सीतापुर में एक शख्स को पुलिस ने नामजद किया है.

पर्यटन की राजधानी कहे जाने वाले आगरा में आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप क्रिकेट मैच में पाकिस्तान की जीत का जश्न मनाने वाले तीन कश्मीरी छात्रों को गिरफ्तार किया गया है. इसके बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के ट्विटर हैंडल से गुरुवार को एक ट्वीट किया गया. जिसमें कहा गया कि पाकिस्तान की जीत का जश्न मनाने वालों पर राजद्रोह का मामला दर्ज किया जाएगा. आगरा में गिरफ्तार किए गए तीनों छात्र राजा बलवंत सिंह कॉलेज में इंजीनियरिंग पढ़ रहे हैं. जिनमें अर्शीद यूसुफ और इनायत अल्ताफ शेख अपने कॉलेज के तीसरे वर्ष में हैं और शौकत अहमद गनई चौथे वर्ष का छात्र है.

बरेली के इज्जतनगर थाना क्षेत्र से भी दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है. जिनमें से एक ने अपने सोशल मीडिया पर पाकिस्तान की जीत का स्टेट्स लगाया. पोस्ट भी लिखी और जब एक व्यक्ति ने उसे समझाने की कोशिश की तो युवक ने साथ गाली गलौच भी की. पुलिस ने उसके खिलाफ आईपीसी की धारा 504/506 और आईटी एक्ट की धारा 66 के तहत मामला दर्ज किया है. इसी प्रकार आयान नामक युवक को अपने व्हॉट्एसएप पर पाकिस्तानी की जीत का स्टेट्स लगाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया. इनमें से एक जेल का बंदी रक्षक है. जागरण मंच बरेली के कार्यकर्ताओं की शिकायत पर पुलिस ने सेंट्रल जेल में तैनात पुलिस कांस्टेबल अर्श अली मलिक पर केस दर्ज किया है.

बरेली जोन के बदायूं जिले में फैजगंज बेहटा थाना इलाके में एक युवक नियाज को अपने सोशल मीडिया पर पाक की खुशी में पोस्ट लिखने और सोशल मीडिया स्टेट्स पर पाकिस्तान का झंडा लगाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया. बाद में उसके खिलाफ देशद्रोह का केस दर्ज किया गया है. नियाज ने अपनी पोस्ट में i love you पाकिस्तान, i Miss you पाकिस्तान, जीत मुबारक पाकिस्तान जैसे पोस्ट किए थे.

लखनऊ जोन के सीतापुर जिले में रामपुर मथुरा थाना क्षेत्र में भी एक युवक को गिरफ्तार किया गया. उसके खिलाफ आईपीसी की धारा 507 और सीआरपीसी की धारा 151 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है. आरोप है कि उसने पाकिस्तान की जीत के बाद अपने फोन में पाक समर्थित स्टेट्स लगाया था.  

राजस्थान

उदयपुर में पाकिस्तान क्रिकेट टीम का समर्थन करने वाली एक शिक्षिका को अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ा. पुलिस ने आरोपी टीचर नफीसा अटारी को गिरफ्तार किया. बाद में उसे जमानत मिल गई है. उदयपुर के खेलगांव में स्थित नीरजा मोदी स्कूल की अध्यापिका नफीसा अटारी ने रविवार को भारत-पाकिस्तान मैच के बाद पाकिस्तान की जीत पर 'वी - वॉन' और 'हम जीत गए' जैसे स्टेटस पाकिस्तान के समर्थन में लगाए थे. वहीं, सोशल मीडिया पर जैसे ही स्कूल टीचर के स्क्रीन शॉट्स वायरल हुए तो स्कूल मैनेजमेंट ने आरोपी टीचर को तुरंत स्कूल से निष्काषित कर दिया था. 

जोधपुर में भी एक युवक को पाकिस्तान प्रेम महंगा पड़ गया. टी 20 मैच में पाकिस्तान टीम की जीत के बाद सोशल मीडिया पर उस युवक ने लिखा था कि 'भारत को पाक बना देंगे.' इसके बाद जोधपुर पुलिस फौरन हरकत में आ गई और जोधपुर के पीपाड़ सिटी में रहने वाले युवक अब्दुल रशीद को को गिरफ्तार कर लिया. उसने 'पाकिस्तान वॉन' का स्टेटस भी लगाया था. लेकिन जब उसके स्टेटस पर लोगों ने सवाल उठाए, तो उसने कहा कि वह पाकिस्तान की जीत पर बहुत खुश है और 'भारत को पाक बना देंगे' का रिप्लाई भी किया. गिरफ्तार के बाद उसे कोर्ट में पेश किया गया. जहां अतिरिक्त न्यायिक मजिस्ट्रेट अलका जोशी ने आरोपी की जमानत खारिज करते हुए उसे जेल भेज दिया. 

पंजाब

टी-20 वर्ल्ड कप में भारत को पाकिस्तान से मिली हार के बाद संगरूर जिले एक प्राइवेट इंजीनियरिंग कॉलेज में कश्मीरी छात्रों के गुट ने भारत की हार के बाद पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगाए थे. इससे उत्तर प्रदेश और बिहार के छात्रों का गुट नाराज हो गया था और दोनों गुटों में विवाद हुआ. जिसके बाद कॉलेज में छात्रों के दोनों गुट आपस में भिड़ गए. भाई गुरदास इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी की निदेशक डॉ तनुजा श्रीवास्तव ने घटना की पुष्टि करते हुए आजतक को बताया कि मुद्दे को सुलझा लिया गया है. 

तनुजा श्रीवास्तव ने बताया कि कुछ छात्रों ने जीतने वाली टीम के समर्थन में जिंदाबाद के नारे लगाए थे. उन्होंने बताया कि दोनों गुट अपने अपने लैपटॉप पर मैच देख रहे थे. नारों के बाद दोनों गुटों में विवाद हो गया था. बाद में हॉस्टल में जाकर दोनों गुट भिड़ गए. यह भिड़ंत करीब 30 मिनट तक चली. हालांकि, इस दौरान किसी को चोट नहीं लगी.

महबूबा मुफ्ती ने किया समर्थन

इधर, जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने पाकिस्तान की जीत पर टिप्पणी की है. उन्होंने जम्मू कश्मीर में जीत का जश्न मना रहे लोगों का समर्थन किया है. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान की जीत का जश्न मनाने के लिए कश्मीरियों के खिलाफ इतना गुस्सा क्यों है? 

ये भी पढ़ेंः

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें