scorecardresearch
 

दिल्लीः शूटआउट के बाद बदली सुरक्षा व्यवस्था, CPMF के हवाले 7 डिस्ट्रिक्ट कोर्ट

रोहिणी कोर्ट शूटआउट के बाद दिल्ली के 7 डिस्ट्रिक्ट कोर्ट की सुरक्षा को लेकर 28 सितंबर को वरिष्ठ अधिकारियों के साथ हुई बैठक के बाद सुरक्षा में बदलाव को लेकर फैसला लिया गया है.

रोहिणी कोर्ट में शूटआउट के बाद सुरक्षा व्यवस्था में होगा बदलाव (फाइल-पीटीआई) रोहिणी कोर्ट में शूटआउट के बाद सुरक्षा व्यवस्था में होगा बदलाव (फाइल-पीटीआई)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • CP ने बैठक के बाद जिला अदालतों की सुरक्षा में किया बदलाव
  • कोर्ट में नई व्यवस्था की शुरुआत अगले हफ्ते शुक्रवार से होगी
  • जल्द से जल्द सिक्योरिटी यूनिट को ऑडिट करने का भी निर्देश

रोहिणी कोर्ट शूटआउट के बाद दिल्ली के 7 डिस्ट्रिक्ट कोर्ट की सुरक्षा में बड़ा बदलाव कर दिया गया है. दिल्ली पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना ने सिक्योरिटी मीटिंग के बाद बड़े बदलाव किए है. नई व्यवस्था की शुरुआत अगले हफ्ते शुक्रवार से होगी.

सुरक्षा व्यवस्था में बदलाव के बाद डिस्ट्रिक्ट कोर्ट की सुरक्षा अब डिस्ट्रिक्ट पुलिस की जगह दिल्ली पुलिस सिक्योरिटी यूनिट के साथ-साथ सेंट्रल पैरामिल्ट्री फोर्स (CPMF) संभालेगी. अगले हफ्ते शुक्रवार से इनकी तैनाती होगी. साथ ही जल्द से जल्द सिक्योरिटी यूनिट को ऑडिट करने के निर्देश दिए गए हैं.

दिल्ली के 7 डिस्ट्रिक्ट कोर्ट की सुरक्षा को लेकर 28 सितंबर को वरिष्ठ अधिकारियों के साथ हुई बैठक के बाद सुरक्षा में बदलाव को लेकर फैसला लिया गया है.

इसे भी क्लिक करें --- रोहिणी शूटआउट Exclusive: जेल में बैठा टिल्लू ताजपुरिया लगातार दे रहा था शूटरों को निर्देश 

क्या है मामला

रोहिणी कोर्ट में मोस्ट वॉन्टेड गैंगस्टर जितेंद्र गोगी की दो अन्य बदमाशों ने उस वक्त हत्या कर दी, जब पुलिस उसे पेशी पर लेकर पहुंची थी. वारदात को अंजाम देने के लिए दो आरोपी वकील की यूनिफॉर्म में कोर्ट रूम में घुसे और उन्होंने गैंगस्टर गोगी की गोली मारकर हत्या कर दी. जिसके बाद कोर्ट परिसर में शूटआउट हुआ और हमलावरों को भी मार गिराया गया.

कोर्ट शूटआउट में 3 लोग मारे गए. इनमें से एक जितेंद्र है, जबकि दो हमलावर हैं जो कि जितेंद्र पर ही हमला करने आए थे. स्पेशल सेल के जवानों ने दोनों हमलावरों को ढेर किया है. 

कोर्ट में हुई ऐसी गैंगवॉर के बाद 28 सितंबर को पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना ने सिक्योरिटी मीटिंग कर दिल्ली की 7 डिस्ट्रिक्ट अदालतों की सुरक्षा में बड़े बदलाव किए हैं.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×