scorecardresearch
 

रोहिणी कोर्ट शूटआउट: जेल में बंद टिल्लू ताजपुरिया से पूछताछ, गैंगस्टर ने खोले कई बड़े राज

24 सितंबर को दिन दहाड़े दिल्ली की रोहिणी कोर्ट में पेशी पर आए गैंगस्टर जितेंद्र उर्फ गोगी की कोर्ट रूम में जज के सामने ही वकील बनकर आए दो हमलावरों ने गोलियों से भून कर हत्या कर दी थी. मौजूद स्पेशल सेल के जवानों ने जवाबी कार्रवाई में दोनों हमलावरों को ढेर कर दिया था. इस हमले का इल्जाम मंडोली जेल में बंद कुख्यात गैंगस्टर टिल्लू ताजपुरिया पर है

टिल्लू ताजपुरिया (फाइल फोटो) टिल्लू ताजपुरिया (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • मंडोली जेल में बंद है टिल्लू
  • टिल्लू पर रोहिणी शूटआउट की साजिश रचने का आरोप

रोहिणी कोर्ट शूटआउट मामले में दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच मंडोली जेल पहुंची. टीम ने जेल में बंद कुख्यात गैंगस्टर टिल्लू ताजपुरिया से पूछताछ की. बताया जा रहा है कि पूछताछ के दौरान टिल्लू ने शूटआउट की प्लानिंग से जुड़े कई राज बताए. 

बताया जा रहा है कि क्राइम ब्रांच की चार सदस्यों की टीम मंडोली जेल पहुंची थी. टीम ने रोहिणी कोर्ट में जितेन्द्र उर्फ गोगी की हत्या के मामले में टिल्लू ताजपुरिया से पूछताछ की. टिल्लू पर गोगी की हत्या की प्लानिंग का आरोप लगा है. बताया जा रहा है कि क्राइम ब्रांच पूछताछ के लिए टिल्लू को अपनी कस्टडी में ले सकती है. 

क्या है मामला?

 24 सितंबर को दिन दहाड़े दिल्ली की रोहिणी कोर्ट में पेशी पर आए गैंगस्टर जितेंद्र उर्फ गोगी की कोर्ट रूम में जज के सामने ही वकील बनकर आए दो हमलावरों ने गोलियों से भून कर हत्या कर दी थी. मौजूद स्पेशल सेल के जवानों ने जवाबी कार्रवाई में दोनों हमलावरों को ढेर कर दिया था. इस हमले का इल्जाम मंडोली जेल में बंद कुख्यात गैंगस्टर टिल्लू ताजपुरिया पर है. पुलिस ने इस मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार किया है, जिस पर शूटरों को कोर्ट तक छोड़ने का आरोप है. 

जेल से निर्देश दे रहा था टिल्लू

अभी तक की जांच में खुलासा हुआ है कि सुनील उर्फ टिल्लू ताजपुरिया मंडोली जेल के हाई रिस्क सेल में शूटआउट से पहले तक शूटरों को निर्देश दे रहा था. जितेंद्र को मारने के लिए तीन शूटर वकील की ड्रेस में कोर्ट में दाखिल हुए थे. इसमें से दो को पुलिस ने फायरिंग कर मार गिराया था, जबकि तीसरा कार सवार शूटर कोर्ट की पार्किंग में ही इंतजार कर रहा था. तीनों जिस कार से कोर्ट आए थे, उसमें वकील और कोर्ट की पार्किंग का स्टीकर भी लगा हुआ था. 

सूत्रों के अनुसार, जेल में बंद टिल्लू ताजपुरिया शूट आउट होने से पहले तक शूटर को लगातार फोन पर बातचीत कर रहा था. हालांकि, टिल्लू मंडोली के हाई रिस्क वॉर्ड में बंद है, जहां पर काफी सख्ती होती है, लेकिन इसके बावजूद भी वह जेल से लाइव ऑपरेशन चला रहा था. ऐसे में मंडोली जेल की सुरक्षा पर सवाल खड़े हो रहे हैं. 
 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×