scorecardresearch
 

रोहिणी कोर्ट गैंगवॉर: दिल्ली HC ने लिया स्वतः संज्ञान, पुलिस कमिश्नर से मांगा जवाब

दिल्ली के रोहिणी कोर्ट में हुए गोलीकांड पर दिल्ली हाईकोर्ट ने स्वत: संज्ञान लिया है. इस मामले में दिल्ली पुलिस कमिश्नर से जवाब मांगा गया है.

रोहिणी कोर्ट के अंदर गैंगवॉर हुई थी रोहिणी कोर्ट के अंदर गैंगवॉर हुई थी
स्टोरी हाइलाइट्स
  • रोहिणी कोर्ट के अंदर गैंगवॉर हुई थी
  • मामले पर दिल्ली हाईकोर्ट ने स्वत संज्ञान लिया

दिल्ली के रोहिणी कोर्ट में हुए गोलीकांड (Rohini Court Shooting) पर दिल्ली हाईकोर्ट ने स्वत: संज्ञान लिया है. इस मामले में दिल्ली पुलिस कमिश्नर को नोटिस भेजा गया है. मामले की सुनवाई आज यानी गुरुवार को ही होगी. बता दें कि रोहिणी कोर्ट में गैंगवॉर हुआ था. इसमें टिल्लू ताजपुरिया गैंग के दो लोगों ने जितेंद्र मान उर्फ गोगी (गोगी गैंग का सरगना) की जान ले ली थी. हालांकि, पुलिस ने उन दोनों बदमाशों को भी ढेर कर दिया था.

रोहिणी कोर्ट में यह गैंगवॉर 24 सितंबर को हुआ था. उस दिन जितेंद्र मान उर्फ गोगी की कोर्ट में पेशी थी.

एक आरोपी से चल रही पूछताछ

पुलिस ने इस मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार किया है, जिस पर शूटरों को कोर्ट तक छोड़ने का आरोप है. अभी तक की जांच में खुलासा हुआ है कि सुनील उर्फ टिल्लू ताजपुरिया मंडोली जेल के हाई रिस्क सेल में शूटआउट से पहले तक शूटरों को निर्देश दे रहा था. जितेंद्र को मारने के लिए तीन शूटर वकील की ड्रेस में कोर्ट में दाखिल हुए थे. इसमें से दो को पुलिस ने फायरिंग कर मार गिराया था, जबकि तीसरा कार सवार शूटर कोर्ट की पार्किंग में ही इंतजार कर रहा था. तीनों जिस कार से कोर्ट आए थे, उसमें वकील और कोर्ट की पार्किंग का स्टीकर भी लगा हुआ था.

बता दें कि पहले टिल्लू और गोगी दोस्त हुआ करते थे. लेकिन फिर कुछ सालों पहले दिल्ली यूनिवर्सिटी के छात्रसंघ चुनाव के दौरान दोनों के रिश्तों में खटास आ गई थी, और फिर दिल्ली में इस गैंगवॉर की शुरुआत हुई. इन दोनों की गैंगवार में करीब 100 लोग मारे जा चुके हैं. गोगी के मारे जाने के बाद भी गैंगवॉर खत्म नहीं होगी, गोगी गैंग के लोगों ने धमकी देकर यह बात साफ भी कर दी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×