scorecardresearch
 

ISI को पहुंचा रहा था सेना की खुफिया जानकारी, पाक जासूस हरपाल सिंह गिरफ्तार

हरपाल को दिल्ली से गिरफ्तार किया गया, पूछताछ में हरपाल ने बताया कि वो पाकिस्तान के लाहौर में बैठे पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी के जसपाल को सेना की मूवमेंट भेजा करता था. लाहौर में बैठे जसपाल से हरपाल मैसेंजर ऐप के जरिये बातचीत करता था. जिसके बाद जसपाल ने उसे जासूसी के लिए मोटिवेट किया. 

ISI का जासूस गिरफ्तार (फोटो- आजतक) ISI का जासूस गिरफ्तार (फोटो- आजतक)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल को मिली बड़ी कामयाबी
  • ISI से जुड़े जासूस हरपाल को किया गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल ने पंजाब के एक जासूस को गिरफ्तार किया है. जानकारी के मुताबिक वह पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी ISI के लिए काम कर रहा था. वह भारतीय सेना और बीएसएफ की जासूसी कर रहा था. डीसीपी स्पेशल सेल संजीव यादव के मुताबिक पंजाब के तरनतारन का रहने वाला हरपाल सिंह को पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी ISI के लोगों ने काफी महीने तक रेडिक्लाइज किया और मोटिवेट किया. 

इसके बाद हरपाल सिंह भारतीय सेना से जुड़े लोगों की, भारतीय सेना की हर मूवमेंट की लोकेशन के साथ साथ भारत और पाकिस्तान के बॉर्डर पर बने बीएसएफ के पोस्ट और बंकर की तमाम जानकारी पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी ISI तक पहुंचा रहा था.

स्पेशल सेल के मुताबिक हरपाल को हर इन्फॉर्मेशन पहुंचाने के बदले मोटी रकम मिल रही थी. ISI के लोग हरपाल को अलग अलग देशों से रूट करते हुए हवाला के जरिये पैसे भिजवा रहे थे. फिलहाल हरपाल से पूछताछ की जा रही है, जिससे कि और भी जानकारी निकाली जा सके. 

हरपाल के पास से स्पेशल सेल ने सेना से जुड़े कई दस्तावेज, सेना और बीएसएफ से जुड़ी खुफिया जानकारियों वाले दस्तावेज, मोबाइल फोन जिसके जरिये वो पाकिस्तानी हैंडलर से सम्पर्क में था, सिम कार्ड बरामद किया है. मोबाइल फोन से कई पाकिस्तानी नम्बर मिले हैं जिनसे हरपाल लगातार संपर्क में रहता था.

हरपाल को दिल्ली से गिरफ्तार किया गया, पूछताछ में हरपाल ने बताया कि वो पाकिस्तान के लाहौर में बैठे पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी के जसपाल को सेना की मूवमेंट भेजा करता था. लाहौर में बैठे जसपाल से हरपाल मैसेंजर ऐप के जरिये बातचीत करता था. जिसके बाद जसपाल ने उसे जासूसी के लिए मोटिवेट किया. 

हरपाल एक बार ओमान गया था जहां जसपाल से उसकी एक बार मुलाकात भी हुई थी. हरपाल के खिलाफ पंजाब में हत्या की कोशिश और झगड़े की एफआईआर भी दर्ज है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें