scorecardresearch
 

'मुस्लिम बनो और लाखों कमाओ', लालच देकर धर्म परिवर्तन कराने का आरोप, 3 अरेस्ट

बनारस के युवक को नौकरी बहाने पहले फतेहपुर बुलाया. उस पर धर्म परिवर्तन का दबाव बनाया. युवक से कहा गया कि उसे इसके बदले लाखों रुपये मिलेंगे. साथ ही एक मकान भी दिया जाएगा. युवक ने मना किया तो उसे बंधक बना लिया गया. जैसे-तैसे युवक वहां से भाग निकला और पुलिस को इसकी शिकायत दी. मामले में 3 लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

X
पुलिस गिरफ्त में आरोपी. पुलिस गिरफ्त में आरोपी.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • नौकरी का झांसा देकर बुलाया फतेहपुर
  • धर्म परिवर्तन का बनाया युवक पर दबाव
  • मना करने पर युवक को बना लिया बंधक

उत्तर प्रदेश के फतेहपुर जिले में युवक को नौकरी के बहाने लाखों रुपयों का लालच देकर उसका जबरन धर्म परिवर्तन करवाया जा रहा था. जब वह नहीं माना तो उसे बंधक बना लिया गया. आरोपियों के चुंगल से युवक जैसे-तैसे भाग निकला और पुलिस के पास इसकी शिकायत दी. पुलिस ने मामले में मौलवी समेत सात लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है, जिनमें से तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है. मामले की जांच अभी जारी है.

बनारस के रहने वाले सुधांशु चौहान की शिकायत के मुताबिक, नौकरी को लेकर उसकी बात गाजीपुर के रहने वाले अरमान अली से हुई थी. अरमान ने उसे फतेहपुर बुलाया. जब वह फतेहपुर पहुंचा तो उसे अनजान जगह ले जाया गया. वहां उससे रजिस्ट्रेशन के नाम पर एक हजार रुपये ले लिए गए. फिर थोड़ी देर बाद उसे कहा गया कि वह घर वालों से 10 हजार रुपये मंगवा ले, ताकि उसके रहने और खाने का इंतजाम किया जा सके.

मुस्लिम धर्म अपनाने और प्रचार करने को कहा

सुधांशु ने बताया कि अरमान के बोलने पर उसने घर वालों से पैसे मंगवा लिए. 17 जून को कुछ लोग उसे 20 हिंदू और 30-40 मुस्लिम लड़कों के साथ मदरसे में ले गए. वहां सभी लोगों को किसी संगठन से जोड़ने की बात कही गई. कहा गया कि संगठन से जुड़कर वे लोग हर महीने एक से डेढ़ लाख रुपये तक कमा सकते हैं. 19 जून को फिर 50 हिंदू और 100 मुस्लिम लड़कों समेत उसे मस्जिद लेकर गए. वहां मुस्लिम धर्म अपनाने का दबाव बनाया गया. साथ ही इसका प्रचार करने को भी कहा गया. 

लाखों रुपयों और मकान का दिया लालच

पीड़ित सुधांशु ने आगे बताया कि वे लोग ऐसा करने के लिए उसे लाखों रुपये और मकान देने का लालच दे रहे थे. जब उसने ऐसा करने से इनकार कर दिया तो उन लोगों ने उसे बंधक बना लिया. वहां एक मौलवी को बुलाया गया और जबरन उसका धर्म परिवर्तन करवाने की बात कहने लगे. पीड़ित किसी तरह वहां से जान बचाकर भाग निकला और सीधे पुलिस स्टेशन पहुंचा. वहां उसने पुलिस को सारी बात बताई.

एसपी राजेश कुमार सिंह के मुताबिक, शिकायत के बाद पुलिस ने जांच शुरू की और मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया. जबकि, कुल 7 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. मामले की जांच अभी भी जारी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें