scorecardresearch
 

UP: सोशल मीडिया पर दोस्ती के बाद हुआ प्यार, मां बनने के बाद प्रेमी के घर पहुंची तो सन्न रह गई युवती

चंडीगढ़ में उत्तर प्रदेश के रामपुर का रहने वाला एक युवक असम की युवती को धोखा देकर भागा तो उसे तलाशते हुए घर आ धमकी. नवजात के साथ युवती जब उसके घर पहुंची तो पता चला कि युवक पहले से ही शादीशुदा है.

सोशल मीडिया पर हुआ था दोनों को प्यार. (सांकेतिक तस्वीर- Reuters) सोशल मीडिया पर हुआ था दोनों को प्यार. (सांकेतिक तस्वीर- Reuters)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • फेसबुक पर हुआ था दोनों में प्यार
  • प्रेग्नेंट होने के बाद असम छोड़ आया
  • प्रेमिका के पास है 6 महीने का बच्चा

सोशल मीडिया पर प्यार करना असम की एक युवती को भारी पड़ गया. युवती, उत्तर प्रदेश के रामपुर में रहने वाले एक युवक के साथ फेसबुक पर दोस्ती की, फिर प्यार हो गया. युवक के झांसे में आकर युवती प्रेग्नेंट हो गई. जब युवक को पता चला कि वह प्रेग्नेंट है, तो उसे छोड़कर फरार हो गया.

मामला चंडीगढ़ का है. प्रेमी के फरार होने के बाद युवती पुलिस की मदद से रामपुर पहुंची तो वहां अपने प्रेमी को पत्नी और बच्चों के साथ देखकर हैरान रह गई. रामपुर के डोनकपुरी टांडा गांव में रहने वाला तकमील अहमद, चंडीगढ़ में हेयर कटिंग का काम करता था. फेसबुक के जरिए उसकी दोस्ती, असम में रहने वाली एक युवती से हो गई. दोस्ती प्यार में बदली और युवती असम छोड़कर चंडीगढ़ चली आई.

चंडीगढ़ में दोनों एक साथ रहने लगे. तकमील अहमद ने युवती को अपनी पहली शादी के बारे में नहीं बताया था. जब युवती प्रेग्नेंट हो गई, तो उसे असम वापस भेजकर खुद रामपुर चला आया. यहां पहुंचते ही उसने अपना फोन बंद कर दिया. उधर युवती एक बच्चे की मां बन गई, जो इस समय छह महीने का है. प्रेमी की तलाश में युवती ने वन स्टॉप सेंटर की मदद ली और प्रेमी के घर तक पहुंच गई.

UP: पति कर रहा था दूसरी शादी, पहली पत्नी पहुंची थाने तो हुआ हंगामा, रुकी सगाई 

9 महीने से फरार था प्रेमी!
पीड़िता ने आजतक से बातचीत में कहा, 'मेरा अफेयर हुआ था और उसके बाद उसने साथ में रखा. जब मैं गर्भवती हो गई तो मुझे उसके तीनों भाइयों ने घर भेज दिया. प्रेग्नेंसी की डिलीवरी के बाद मुझे बुलाया. उसके बाद उसने सारे फोन कॉन्टैक्ट बंद कर दिए. मैं उसे ढूंढते हुए यहां तक आई. यहां पर वन स्टॉप सेंटर पर पहुंची. मुझे घर भेजे हुए 9 महीने हो गए और मेरा बच्चा 6 महीने का है.'

साथ रहना चाहता है आरोपी
आरोपी तकमील अहमद ने भी अब सफाई दी है. उसने कहा, 'मैं चंडीगढ़ में रहता था. हम दोनों चंडीगढ़ में 8 महीने साथ में ही रहे. मैंने उसको घर पर भेज दिया था. काम हल्का हो गया था और मैं अपने घर आ गया था. काम की सेटिंग सही नहीं थी. मैं खुद मुसीबत में फंसा हुआ था इसलिए मैं उसको बुला भी नहीं पाया. अब मैं इसको अपने साथ में रखना चाहता हूं.'

जिला प्रोबेशन अधिकारी पल्लवी सिंह ने कहा कि इस पूरे मामले की शुरुआत चंडीगढ़ से हुई थी. सोशल मीडिया के जरिए असम की महिला को इसने चंडीगढ़ बुलाया. चंडीगढ़ में यह महिला आरोपी से प्रेग्नेंट हो गई. आरोपी शादी का झांसा देता रहा. महिला प्रेग्नेंट होने के बाद असम चली गई. महिला प्रेमी को ढूंढते जब रामपुर वन स्टॉप सेंटर आई, तब इसकी काउंसलिंग की गई.

उन्होंने बताया कि महिला के बच्चे की तबीयत खराब थी. उसका ट्रीटमेंट कराया गया. यह महिला, आरोपी युवक के साथ रहने को तैयार है, लेकिन उसकी पहली पत्नी, उसके साथ रहने को तैयार नहीं है. पहली शादी से ही आरोपी को 2 बच्चे हैं. सब लोग मिलकर समझाने की कोशिश कर रहे हैं कि किसी तरह से समझौता हो जाए और तीनों की जिंदगी बिखरने न पाए.
 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें