scorecardresearch
 

नोएडा: सोनू पंजाबन गैंग के दो गुर्गे गिरफ्तार, हनी ट्रैप-मसाज के नाम पर करते थे लूटपाट

सोनू पंजाबन के गिरफ्तार गुर्गों के पास से पुलिस ने घटना में प्रयुक्त कार सहित लूट के 3 हजार रुपये बरामद किए हैं. वही पुलिस गैंग की अन्य लड़कियों सहित फरार युवकों की तलाश कर रही है. इनके खिलाफ एनसीआर समेत आसपास के इलाकों में करीब 2 दर्जन मुकदमे दर्ज हैं.

सोनू पंजाबन गैंग के दो गुर्गे गिरफ्तार सोनू पंजाबन गैंग के दो गुर्गे गिरफ्तार
स्टोरी हाइलाइट्स
  • रात में सुनसान जगहों पर लोगों को फंसाते थे
  • गैंग की कोई लड़की भेजकर हनी ट्रैप कराते
  • लिफ्ट देने के बहाने दूर ले जाकर करते लूटपाट

नोएडा में रात में लड़कियों के साथ कार में घूमकर सड़कों और बस स्टॉप पर अकेले लोगों को हनी ट्रैप और मसाज के नाम पर लूटने वाले दो बदमाशों को गिरफ्तार किया गया है. ये लोग मसाज के नाम पर बुकिंग करने का झांसा देते थे और लोगों को अपनी जाल में फंसाते थे. थाना 58 की पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार किया है. इनके पास से पुलिस ने घटना में प्रयुक्त कार सहित लूट के 3 हजार रुपये बरामद किए हैं. वही पुलिस गैंग की अन्य लड़कियों सहित फरार युवकों की तलाश कर रही है. इनके खिलाफ एनसीआर समेत आस पास के इलाकों में करीब 2 दर्जन मुकदमे दर्ज हैं. 

पुलिस की गिरफ्त में आए दोनों आरोपी युवक संजय भाटिया और अर्जुन लूटपाट करने वाले सोनू पंजाबन गैंग के सक्रिय सदस्य हैं. दअरसल ये कार में अपने साथी महिला को बैठाकार नोएडा-दिल्ली एनसीआर के पॉश और सुनसान इलाके में देर रात सड़कों पर घूमते या बस स्टॉप पर अकेले खड़े लोगों को शिकार बनाते थे. इनका तरीका ये था कि अपने गैंग से एक लड़की को कार से उतार कर उस शख्स के पास भेजते और हनी ट्रैप में उसे फंसाते. 

जब युवक इनकी बातों पर राजी हो जाता तो उसके साथ दूर ले जाकर लूटपाट की घटनाओं को अंजाम देते थे. ऐसा ही मामला नोएडा थाना 39 क्षेत्र के कुलेसरा गांव से आया था जहां एक युवक के साथ पहले मारपीट और फिर लूटपाट की गई. इसकी शिकायत उसने पुलिस से की थी जिसके बाद पुलिस इस गैंग की तलाश में जुट गई थी. वही दूसरा तरीका इनका ये भी था कि ये एक नंबर अपना सोशल मीडिया पर जारी करते और लोगों को मसाज और अन्य सेवाएं देने के नाम पर बुक करवाते. जैसे ही कोई इनके पास पहुंचता तो ये उसके साथ लूटपाट कर लेते. अगर पीड़ित विरोध करता है तो आरोपी फरार महिलाओं द्वारा झूठे केस में फंसाने की धमकी देते हैं. 

घटना के बारे में एडीसीपी रणविजय सिंह ने बताया कि ये गैंग एक तो बस स्टॉप या कहीं कोई अकेले युवक को देखते और उसके पास लड़की को भेजते हैं. फिर हनी ट्रैप का शिकार बनाते हैं. वहीं दूसरा तरीका इनका ये भी है कि सोशल मीडया पर एक एक नंबर जारी कर मसाज और अन्य सेवाओं के लिए बुकिंग करवाते हैं. कोई व्यक्ति बुकिंग करता है तो उसे अपने पास बुलाकर लूटपाट की घटना को अंजाम देते हैं.

एडीसीपी ने बताया कि नोएडा थाना 58 पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है जो कि संजय भाटिया और अर्जुन हैं. दोनों दिल्ली के निवासी हैं. दो दिन पहले भी इसी गैंग के एक सदस्य हरीबहादुर को पुलिस ने गिरफ्तार किया था. हरीबहादुर मूलरूप से नेपाल का रहने वाला है और अभी गोविंदपुरी, दिल्ली में रह रहा था. सोनू पंजाबन गैंग के अन्य साथी, महिला और लड़कों की गिरफ्तारी की कोशिश चल रही है. इन्होंने एनसीआर में ऐसी सैकड़ों लूट की घटनाओं को अंजाम दिया है. जांच में सामने आया है कि इन पर करीब 2 दर्जन मामले दर्ज हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें