scorecardresearch
 

Buxar: गैंगरेप पीड़िता के पति ने कहा- जैसे मेरे बेटे को मारा, वैसे ही हत्यारों को मारा जाए

बिहार के बक्सर में महिला के साथ गैंगरेप की घिनौनी वारदात को अंजाम दिया गया. आरोपियों ने महिला के 5 साल के बेटे की भी हत्या कर दी. पुलिस ने इस मामले में पूछताछ के लिए एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. वहीं घटना के बाद परिवार में शोक की लहर है. बक्सर पहुंचे पीड़ित महिला के पति ने कहा कि मुझे इंसाफ चाहिए. जिस तरह मेरे बेटे को मारा गया है, उसी तरह हत्यारों को भी मारा जाए.

Gang rape Dalit Woman husband demand death for accused Gang rape Dalit Woman husband demand death for accused
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बैंक जा रही दलित महिला का हुआ था अपहरण
  • अपराधियों ने गैंगरेप कर नदी में फेंक दिया था
  • विशाखापट्टनम से बक्सर लौटा पीड़िता का पति

बिहार के बक्सर में महिला के साथ गैंगरेप की घिनौनी वारदात को अंजाम दिया गया. आरोपियों ने महिला के 5 साल के बेटे की भी हत्या कर दी. पुलिस ने इस मामले में पूछताछ के लिए एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. वहीं घटना के बाद परिवार में शोक की लहर है. बक्सर पहुंचे पीड़ित महिला के पति ने कहा कि मुझे इंसाफ चाहिए. जिस तरह मेरे बेटे को मारा गया है, उसी तरह हत्यारों को भी मारा जाए. 

ये घटना मुरार थाना क्षेत्र के ओझा बराव गांव की है. यहां की रहने वाली दलित महिला अपने पांच वर्षीय बेटे के साथ बैंक जा रही थी. रास्ते में उसका अपहरण कर लिया गया. आरोपी मां बेटे को एकांत स्थान पर ले गए. जहां महिला के साथ गैंगरेप हुआ. आरोपियों ने गैंगरेप के बाद महिला के साथ उसके पांच वर्षीय मासूम को कपड़े से बांधा और नदी में फेंक दिया. इस घटना में पांच वर्षीय मासूम की मौत हो गई थी, जबकि महिला को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया था. 

पीड़िता की हालत में सुधार बताया जा रहा है, लेकिन बेटे की मौत से वह आहत है. गैंगरेप पीड़िता का पति विशाखापटनम में नौकरी करता है. घटना की जानकारी के बाद वह ​बक्सर पहुंच गया. उसने कहा कि पत्नी और बेटे से बहुत प्रेम करता है. वह नौकरी करने के लिए जब विशाखापटनम गया, तो पत्नी और पांच साल के बेटे को ससुराल में छोड़ गया था, जिससे वहां उनकी अच्छे से देखभाल हो सके. लेकिन उसे नहीं मालूम था, कि उसका ये फैसला बेटे की जान ले लेगा. 

पत्नी द्वारा मेहनत मजदूरी कर कुछ पैसे जमा किए गए थे. इन पैसों को वो बैंक खाते में डालने के लिए गई थी. इसकी जानकारी पत्नी ने फोन पर दी थी. उस दिन पत्नी बहुत खुश थी. बैंक के बाद वह बेटे के लिए कपड़े लेने के लिए बाजार जाने वाली थी, लेकिन उससे पहले ही दरिंदों ने उसे अपना निशाना बना लिया. पति ने मांग की है कि जिस तरह उसके बेटे को नदीं में फेंकर मार डाला, उसी तरह आरोपियों को भी पानी में डुबाकर मौत की सजा दी जानी चाहिए.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें