scorecardresearch
 

दिल्ली के रोहिणी कोर्ट में बम धमाका, खाली कराया गया परिसर, फोरेंसिक टीम पहुंची

पुलिस ने कोर्ट को खाली करा दिया है और गेट बंद कर दिए हैं. पुलिस के मुताबिक, दिल्ली के रोहिणी में जो धमाका हुआ है वो, लो इंटेसिटी बम ब्लास्ट है. यह एक तरह का क्रूड बम है. पुलिस को मौके से आईईडी विस्फोटक और एक टिफिननुमा चीज मिली. एनएसजी को भी मौके पर बुलाया गया है.

X
इसी बैग में रखे सामान में हुआ धमाका इसी बैग में रखे सामान में हुआ धमाका
स्टोरी हाइलाइट्स
  • रोहिणी कोर्ट में धमाका
  • पुलिस ने कहा- लो इंटेसिटी बम ब्लास्ट है
  • दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने जांच शुरू की

दिल्ली के रोहिणी कोर्ट में गुरुवार सुबह बम धमाका हो गया. इसके बाद कोर्ट में हड़कंप मच गया. धमाके में कोर्ट नंबर 102 में तैनात पुलिसकर्मी घायल हुआ है. उधर, पुलिस का कहना है कि यह लो इंटेसिटी बम ब्लास्ट है. यह एक तरह का क्रूड बम है. दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने जांच शुरू कर दी है. फॉरेंसिक टीम भी जांच के लिए कोर्ट पहुंच रही है. 

पुलिस ने कोर्ट को खाली करा दिया है और गेट बंद कर दिए हैं. पुलिस के मुताबिक, दिल्ली के रोहिणी में जो धमाका हुआ है वो, लो इंटेसिटी बम ब्लास्ट है. यह एक तरह का क्रूड बम है. पुलिस को मौके से आईईडी विस्फोटक और एक टिफिननुमा चीज मिली. एनएसजी को भी मौके पर बुलाया गया है. उधर, दिल्ली पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना भी रोहिणी कोर्ट के लिए रवाना हो गए.  

लैपटॉप बैग में रखे टीन के बॉक्स में था विस्फोटक

दिल्ली पुलिस सूत्रों के मुताबिक, 102 रूम नंबर कोर्ट में जो धमाका हुआ, वो लैपटॉप बैग में रखे टीन के बॉक्स में हुआ. धमाके के बाद डब्बा फट गया और कोर्ट रूम में उसका पार्ट बिखरा हुआ मिला. इसके अलावा जिस बैग में ब्लास्ट हुआ उसमें कुछ बैटरी और वायर भी था. 

धमाके में घायल नायब कोर्ट को हल्की चोट लगी है. उसका नाम राजीव कुमार है. राजीव को हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है. वह सुल्तानपुरी थाने में तैनात है. इससे पहले डीसीपी रोहिणी ने बताया कि ब्लास्ट लैपटॉप बैग में हुआ है. बैग के अंदर क्या था वो अभी नहीं पता चला है. धमाके के वक्त कोर्ट में सुनवाई चल रही थी. लेकिन किसी सेंसटिव केस में सुनवाई नहीं चल रही थी.  

रोहिणी कोर्ट में हुई थी फायरिंग
रोहिणी कोर्ट में कुछ दिनों पहले फायरिंग की घटना हुई थी. इसमें तीन लोगों की मौत हो गई थी. कोर्ट में दो हमलावरों ने गैंगस्टर जितेंद्र गोगी पर गोलीबारी कर दी थी. इस हमले में उसकी मौत हो गई थी. जितेंद्र गोगी कोर्ट में सुनवाई के लिए पेश हुआ था. इसके बाद पुलिस ने जवाबी कार्रवाई करते हुए दोनों बदमाशों को ढेर कर दिया था. दोनों बदमाश टिल्लू ताजपुरिया गैंग से जुड़े हुए थे और खुद टिल्लू जेल से ही उन्हें निर्देश भी दे रहा था. 

रोहिणी कोर्ट में हुए ब्लास्ट के मामले में Explosive Substances Act के तहत दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल ने एफआईआर दर्ज की है, चूंकि इस मामले में एक शख्स मामूली तौर पर घायल हुआ है लिहाजा IPC के सेक्शन भी एड किए गए हैं. 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें