scorecardresearch
 

वेबसीरीज में काम दिलाने के नाम पर लड़कियों को करता था ब्लैकमेल, अब गया जेल

पुलिस के मुताबिक आरोपी मामचंद वेब सीरीज में रोल दिलाने के नाम पर लड़कियों से उनकी न्यूड और सेमी न्यूड फोटो मंगवाता था. और जब कोई लड़की उसे फोटो भेज देती थी, तो तब उस लड़की के साथ शुरू होता था ब्लैकमेलिंग का खेल.

साइबर सेल की टीम ने आरोपी मामचंद को उसके ठिकाने से गिरफ्तार कर लिया साइबर सेल की टीम ने आरोपी मामचंद को उसके ठिकाने से गिरफ्तार कर लिया
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सोशल मीडिया पर बनाए फेक प्रोफाइल
  • महिलाओं के नाम से बनाता था प्रोफाइल
  • लड़कियों को बनाता था अपना शिकार

दिल्ली पुलिस की साइबर क्राइम ब्रांच ने एक ऐसे शातिर बदमाश को गिरफ्तार किया है, जो महिलाओं के नाम से सोशल मीडिया के अलग-अलग प्लेटफार्म पर अपने प्रोफाइल बना कर उन लड़कियों को टारगेट करता था, जो मॉडलिंग की दुनिया में अपना करियर तलाश रही हैं. पुलिस के मुताबिक आरोपी मामचंद वेब सीरीज में रोल दिलाने के नाम पर लड़कियों से उनकी न्यूड और सेमी न्यूड फोटो मंगवाता था. और जब कोई लड़की उसे फोटो भेज देती थी, तो तब उस लड़की के साथ शुरू होता था ब्लैकमेलिंग का खेल.
 
दिल्ली के सराय रोहिल्ला थाने में कुछ दिन पहले 17 साल की एक लड़की ने शिकायत दर्ज कराई कि सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर राशि गोयल नाम की एक महिला उसे मिली, जिसने कहा कि वह एक नई वेब सीरीज के लिए नई मॉडल की तलाश में है. शिकायतकर्ता लड़की उस महिला के जाल में फंस गई. इसके बाद राशि गोयल ने इस लड़की से कहा कि वह उसे अपने कुछ फोटोग्राफ्स भेज दे. लड़की ने राशि गोयल को अपने कुछ फोटोग्राफ्स भेज दिए.

इसके बाद राशि ने फिर से पीड़ित लड़की से कुछ सेमी न्यूड और न्यूड फोटोग्राफ्स की मांग की. लड़की पूरी तरह से उसके जाल में फंस चुकी थी. उसे लगा कि शायद उसे रोल मिल जाएगा. ये सोचकर नाबालिग लड़की ने राशि गोयल की हर बात मान ली.
 
लड़की का कहना है कि इसके बाद उसने कुछ और फोटोग्राफ्स की बात की. तब उसे शक हुआ. उसने राशि गोयल को ब्लॉक कर दिया लेकिन उसको ब्लॉक करने के कुछ ही दिन बाद एक सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से ही उसके पास मैसेज आया. जिसमें उसके उन्हीं फोटोग्राफ्स का इस्तेमाल किया और उन फोटोग्राफ्स को वायरल करने की धमकी दी गई. इसके बाद यह लड़की डर गई और सीधे सराय रोहिल्ला थाने पहुंच गई.
 
पुलिस ने तुरंत एफआईआर दर्ज की. साइबर क्राइम ब्रांच की मदद से पुलिस ने इन्वेस्टिगेशन की शुरुआत की. पुलिस ने उस डिवाइस का पता लगाया, जिससे वो धमकी देने वाले प्रोफाइल चलाए जा रहे थे. फिर पुलिस को एक मोबाइल नंबर मिला, जिसके जरिए सोशल मीडिया प्रोफाइल बनाए गए थे. मोबाइल नंबर दिल्ली के सुल्तानपुरी इलाके से चलाया जा रहा था.

जांच में पता चला कि एक ही नंबर से अलग-अलग सोशल मीडिया पर अलग-अलग नामों से प्रोफाइल भी बनाए गए थे. फिर पुलिस ने सुल्तानपुरी इलाके से मामचंद नाम के आरोपी को गिरफ्तार कर लिया. यही वो शख्स था, जो सोशल मीडिया तमाम फेक प्रोफाइल्स चला रहा था. आरोपी मामचंद की उम्र 37 साल है.

वह खुद कभी राशि कभी दीपक और कभी किसी प्रोडक्शन हाउस के नाम से सोशल मीडिया पर प्रोफाइल बनाता था और ऐसी लड़कियों की तलाश करता जो मॉडलिंग की दुनिया में अपनी किस्मत आजमा रही हो, या आजमाना चाहती हों. फिर वह लड़कियों को वेब सीरीज में काम दिलाने का झांसा देकर उनके फोटोग्राफ्स मांगने लगता था. 

पुलिस ने मामचंद का मोबाइल फोन जब्त कर लिया है, जिसमें कुछ और लड़कियों के तस्वीरें मिली हैं. लेकिन पुलिस का कहना है कि मामचंद ने पूछताछ में अब तक बताया है कि वह किसी भी लड़की से मिला नहीं है. फिलहाल पुलिस इस पूरे मामले की तफ्तीश कर रही है. यह पता लगाने की कोशिश की जा रही है कि आखिर मामचंद किस इरादे से ऐसा कर रहा था और अब तक कितनी लड़कियों को उसने अपना शिकार बनाया है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें