scorecardresearch
 

कोरोनाकाल में माता-पिता को खोने वाले बच्चों को कल हेल्थ कार्ड-स्कॉलरशिप सौंपेंगे Prime Minister Narendra Modi

Pm Cares For Children: स्कीम की शुरुआत 29 मई 2021 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की थी. इसमें उन बच्चों को शामिल किया गया था, जिन्होंने 11 मार्च 2020 से लेकर 28 फरवरी 2022 की अवधि में अपने माता पिता दोनों को कोरोना महामारी के चलते खो दिया.

X
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (File Photo) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (File Photo)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 11 मार्च 2020 से 28 फरवरी 2022 की अवधि के बच्चों को किया गया है शामिल
  • कोरोना महामारी के दौरान पालकों को खोने वाले बच्चों के लिए है योजना

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कल (30 मई) को पीएम केयर्स फॉर चिल्ड्रन स्कीम के लाभार्थियों को सौगात देंगे. स्कीम के हकदार बच्चों को स्कॉलरशिप, पीएम केयर्स फंड की पासबुक और आयुष्मान भारत के हेल्थ कार्ड दिए जाएंगे.

इस स्कीम की शुरुआत 29 मई 2021 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की थी. इसमें उन बच्चों को शामिल किया गया था, जिन्होंने 11 मार्च 2020 से लेकर 28 फरवरी 2022 की अवधि में अपने माता पिता दोनों को कोरोना महामारी के चलते खो दिया. इस योजना के तहत पीएम केयर्स फॉर चिल्ड्रन डॉट इन नामक पोर्टल भी लॉन्च किया गया था.

आत्मनिर्भर बनाने की कोशिश

योजना का उद्देश्य ऐसे बच्चों के लिए रहने और शिक्षा की व्यवस्था करना है. इसके साथ ही इन बच्चों को छात्रवृत्ति के माध्यम से सशक्त और आत्मनिर्भर बनाने की कोशिश भी की जा रही है. योजना का एक उद्देश्य यह भी है कि इन बच्चों को आर्थिक मदद मुहैया कराकर देखभाल सुनिश्चित की जा सके.

मिलेगी 10 लाख रुपए की मदद

योजना के अंतर्गत आने वाले बच्चों को 23 साल की उम्र पूरे होने पर 10 लाख रुपए की मदद उपलब्ध कराई जाती है. इसे सिंगल विंडो सिस्टम पर आधारित बनाया गया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें