scorecardresearch
 

शहर-शहर कोरोना की लहर: बढ़ते मामलों के बीच वैक्सीन पर संग्राम, नाइट कर्फ्यू-मास्क पर सख्ती बढ़ी

दिल्ली हो या उत्तर प्रदेश या फिर महाराष्ट्र हर जगह कोरोना के ताज़ा आंकड़ों ने चिंता बढ़ा दी है. नाइट कर्फ्यू का जो दौर महाराष्ट्र से शुरू हुआ था, वो अब दिल्ली होते हुए पंजाब पहुंच गया है. इस बीच कुछ राज्यों ने वैक्सीन को लेकर चिंता व्यक्त की है और डोज़ की कमी होने की बात कह दी है. कोरोना की इस ताज़ा लहर के बीच कैसे आज घटनाक्रम रहा, एक नज़र डालें...

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच वैक्सीन पर संकट (फाइल फोटो: PTI) कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच वैक्सीन पर संकट (फाइल फोटो: PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कोरोना वायरस की ताज़ा लहर से बढ़ी चिंता
  • महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश ने की वैक्सीन की मांग
  • पंजाब में नाइट कर्फ्यू, दिल्ली में मास्क जरूरी

कोरोना वायरस की लहर अब शहर-शहर देखने को मिल रही है. दिल्ली हो या उत्तर प्रदेश या फिर महाराष्ट्र हर जगह कोरोना के ताज़ा आंकड़ों ने चिंता बढ़ा दी है. नाइट कर्फ्यू का जो दौर महाराष्ट्र से शुरू हुआ था, वो अब दिल्ली होते हुए पंजाब पहुंच गया है. इस बीच कुछ राज्यों ने वैक्सीन को लेकर चिंता व्यक्त की है और डोज़ की कमी होने की बात कह दी है. कोरोना की इस ताज़ा लहर के बीच कैसे आज घटनाक्रम रहा, एक नज़र डालें...

कोरोना के बढ़ते केस और वैक्सीन की चिंता
बुधवार को कोरोना वायरस के जो आंकड़े आए, उन्होंने हर किसी को हैरान कर दिया. देश में बीते 24 घंटे में कुल 1.15 लाख केस दर्ज किए गए, जो अबतक का सबसे बड़ा आंकड़ा था. पिछले तीन दिन में ये दूसरी बार हुआ, जब केस एक लाख से अधिक आए. अब भारत में कोरोना के एक्टिव केस की संख्या साढ़े 8 लाख के करीब पहुंच गई है. 

सबसे अधिक मामले महाराष्ट्र से सामने आए, जहां 56 हज़ार केस दर्ज किए गए. जबकि दिल्ली, उत्तर प्रदेश, गुजरात, कर्नाटक जैसे राज्यों में भी बीते कुछ वक्त के सबसे अधिक केस दर्ज किए गए हैं. 

इस महासंकट के बीच वैक्सीन को लेकर रार छिड़ गई है. महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा है कि राज्य में सिर्फ तीन दिन का ही वैक्सीन स्टॉक बचा है. वैक्सीन मिलने की रफ्तार काफी कम है, अभी वो हर रोज़ 4 लाख से अधिक लोगों को टीका लगा रहे हैं, लेकिन वैक्सीन अधिक मिलेगी तो रफ्तार बढ़ सकती है. 

महाराष्ट्र की तरह ही आंध्र प्रदेश ने भी केंद्र को चिट्ठी लिख तुरंत प्रभाव से एक करोड़ कोरोना वैक्सीन की डोज़ मांगी हैं. आंध्र का कहना है कि उनके पास चार लाख से कम डोज़ बचे हैं, वो हर रोज़ डेढ़ लाख कोरोना वैक्सीन के डोज़ लगा रहे हैं. 

फोटो: PTI


राज्यों की तरफ से उठ रही वैक्सीन की मांग को लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने भरोसा दिलाया कि किसी को वैक्सीन की कमी नहीं होने दी जाएगी. सभी राज्यों को उनकी जरूरत के हिसाब से ही वैक्सीन दी जाएगी.

ये पढ़ें: कोरोना संकट के बीच महाराष्ट्र में सिर्फ 3 दिन का वैक्सीन स्टॉक, आंध्र ने भी मांगे 1 करोड़ डोज

पंजाब में लौटा नाइट कर्फ्यू, दिल्ली में मास्क अब जरूरी
दिल्ली हाईकोर्ट ने बुधवार को एक याचिका पर सुनवाई करते हुए दिल्ली में मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया. इतना ही नहीं, अगर आप दिल्ली में अकेले गाड़ी चला रहे हैं, तो भी आपके लिए मास्क अब जरूरी हो गया है. 

दिल्ली में कोरोना की रफ्तार के बीच एक्सपर्ट्स ने कहा है कि ये लहर काफी खतरनाक है, क्योंकि इस बार कोरोना का शिकार बच्चे, युवा और गर्भवती महिलाएं भी हो रहे हैं. पहले कोरोना की चपेट में आने वालों की अधिकतर संख्या बुजुर्गों की थी. 

कोरोना का कहर देखते हुए पंजाब की सरकार ने राज्य में नाइट कर्फ्यू लगा दिया है. 30 अप्रैल तक पंजाब में अब राजनीतिक रैलियों में रोक लगा दी गई है. पंजाब में रात के नौ बजे से सुबह पांच बजे तक सख्ती जारी रहेगी.   

ये पढ़ें: पंजाब के सभी जिलों में लगा नाइट कर्फ्यू, राजनीतिक रैलियों पर भी प्रतिबंध

आपको बता दें कि पंजाब से पहले दिल्ली, महाराष्ट्र, गुजरात, मध्य प्रदेश जैसे शहरों में नाइट कर्फ्यू लग चुका है. महाराष्ट्र और मध्य प्रदेश में तो नाइट कर्फ्यू के साथ वीकेंड लॉकडाउन भी लागू किया जा रहा है. दिल्ली में बीते दिन ही नाइट कर्फ्यू की शुरुआत हुई है. 

फोटो: PTI

 

वैक्सीन को लेकर संकट पर राजनीतिक प्रदर्शन
वैक्सीन को लेकर जहां केंद्र सरकार ने कहा है कि अभी हर किसी के लिए वैक्सीन उपलब्ध नहीं कराई जाएगी. इस मसले पर आम आदमी पार्टी, कांग्रेस ने बुधवार को प्रदर्शन किया. आम आदमी पार्टी का कहना है कि कोरोना वैक्सीन सिर्फ बीजेपी या पीएमओ की नहीं है, बल्कि सभी देशवासियों के लिए है. ऐसे में जब हमारे यहां केस ज्यादा हैं और वैक्सीन की जरूरत है तो बाहर क्यों वैक्सीन भेजी जा रही है. 

कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच वैक्सीनेशन से ही हर किसी की आस है. देश में बीते दिन 30 लाख से अधिक डोज़ लगाए गए हैं. अबतक साढ़े आठ करोड़ से अधिक टीके लगाए जा चुके हैं. वैक्सीनेशन के मामले में महाराष्ट्र नंबर वन राज्य बना हुआ है. कोरोना के बढ़ते संकट के बीच गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक बार फिर राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक करने वाले हैं. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें