scorecardresearch
 

आज का दिन: कोरोना से खतरा सिर्फ फेफड़ों को नहीं दिमाग को भी

आजतक रेडियो' के मॉर्निंग न्यूज़ पॉडकास्ट 'आज का दिन' में सुनेंगे, क्यों चल रही है पंजाब में अमरिंदर सिंह और सिद्धू समर्थकों के बीच पोस्टर वॉर? कोरोना वायरस से जुड़ी नई रिसर्च कौन सी है जिसके मुताबिक़ ख़तरा सिर्फ़ फेफड़ों को नहीं दिमाग़ को भी है.

सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर

आजतक रेडियो पर हम रोज़ लाते हैं देश का पहला मॉर्निंग न्यूज़ पॉडकास्ट ‘आज का दिन’, जहां आप हर सुबह अपने काम की शुरुआत करते हुए सुन सकते हैं आपके काम की ख़बरें और उन पर क्विक एनालिसिस भी. साथ ही, सुबह के अख़बारों की सुर्ख़ियाँ और आज की तारीख में जो घटा, उसका हिसाब-किताब. आगे लिंक भी देंगे लेकिन पहले जान लीजिए कि आज के एपिसोड में हमारे पॉडकास्टर जमशेद क़मर सिद्दीक़ी किन ख़बरों पर बात कर रहे हैं? 

पंजाब का पोस्टर वार!
पंजाब में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं और उसी को लेकर यहां तैयारियां शुरू हो गई हैं लेकिन इस बीच कैप्टन अमरिंदर सिंह और नवजोत सिंह सिद्धू के बीच की खींच-तान उनके पोस्टरों से ज़ाहिर हो रही है. इस घमासान को शांत करने के लिए कांग्रेस आलाकमान ने मल्लिकार्जुन खड़गे, हरीश रावत और जयप्रकाश अग्रवाल की अगुवाई में एक कमेटी भी बनाई गई थी. कल दोपहर इस कमेटी ने चार पन्ने की रिपोर्ट पार्टी की चीफ सोनिया गांधी को सौंप दी. तो इस कमेटी ने रिपोर्ट में क्या बातें रखी हैं?  बता रही हैं आज तक रेडियो रिपोर्टर मौसमी सिंह  

सिर्फ फेफड़ों नहीं, दिमाग़ के लिए भी खतरनाक है कोरोना: रिसर्च  
अमेरिका की जॉर्जिया स्टेट यूनिवर्सिटी ने एक रिसर्च में खुलासा किया है कि कोरोना वायरस दिमाग़ के लिए भी बेहद ख़तरनाक है। रिसर्च में यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों ने कोरोना मरीजों के सीटी स्कैन का एनालिसिस किया. इस स्टडी में 120 लोगों को शामिल किया गया और इनमें से 58 कोविड पॉजिटिव थे जबकि 62 मरीज़ो को कुछ और बीमारियां थीं. CT scan को एनालिसिस करने के बाद उन्होंने पाया कि कुछ मरीजों में ब्रेन के frontol lobe यानी ललाट में ग्रे मैटर की मात्रा कम हो गई है. क्या होता है ग्रे मैटर, इस बारे में डीटेल में बता रही हैं डॉ श्वेता शर्मा से जो पालम विहार दिल्ली के एशिया कोलंबिया हॉस्पिटल में कनसल्टेंट क्लिनीकल साइकॉलोजिस्ट हैं।

वेंटिलेटर अब आपकी पॉकेट में
कोरोना के खिलाफ लड़ाई को और मज़बूत करने के लिए हर दिन नए-नए अविष्कार किये जा रहे हैं, इसी कड़ी में एक नया अविष्कार सामने आया है जिसके चलते ऑक्सीजन की कमी को पोर्टेबल साइज़ वैंटिलेटर से दूर किया जा सकेगा. इस अविष्कार का नाम है - पॉकेट वेंटिलेटर. कैसे काम करता है ये पॉकेट वेंटिलेटर, इस बारे में जानकारियाँ साझा कर रहे हैं इसे बनाने वाले साइंटिस्ट डॉ रमेंद्र लाल मुखर्जी।

 पीलीभीत के बीमार अस्पताल : ग्राउंड रिपोर्ट
उत्तर प्रदेश के ज़िला पीलीभीत के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में जब लल्लनटॉप के हमारे साथी सिद्धांत मोहन पहुंचे तो उन्होंने देखा कि वहां ना तो डॉक्टर थे, और ना ही कोई मेडिकल स्टॉफ। हालात तो ये थे कि इंसानों के अस्पताल में मुर्गियां और गायें बंधीं थी। सिद्धांत मोहन सुना रहे हैं स्वास्थ्य केंद्र की बदहाली का आंखों देखा हाल।

इसके अलावा आज के पॉडकास्ट में सुनिए कि आज की तारीख़ में पहले क्या घट चुका है और साथ ही देश-विदेश के अख़बारों की सुर्ख़ियाँ भी, जिन्हें लेकर आए हैं प्रतीक वाघमारे. 

आज का दिन सुनने के लिए यहां क्लिक करें

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें