scorecardresearch
 

SBI का ग्राहकों को तोहफा, 5 लाख रुपये तक IMPS ट्रांसफर पर नहीं लगेगा चार्ज

IMPS पैसे ट्रांसफर करने के आसान तरीकों में एक है. यह रविवार के साथ ही अवकाश के सारे दिन भी 24 घंटे उपलब्ध रहता है. रिजर्व बैंक ने हाल ही में आईएमपीएस ट्रांसफर की लिमिट को 2 लाख रुपये से बढ़ाकर 5 लाख रुपये किया था. आरबीआई ने यह बदलाव अक्टूबर 2021 में किया था.

X
डिजिटल बैंकिंग से ट्रांसफर पर चार्ज नहीं डिजिटल बैंकिंग से ट्रांसफर पर चार्ज नहीं
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बढ़ गई है IMPS ट्रांसफर की लिमिट
  • ब्रांच से ट्रांसफर देने होंगे चार्ज

देश के सबसे बड़े बैंक SBI ने ग्राहकों को नए साल का तोहफा दिया है. नेट बैंकिंग या मोबाइल बैंकिंग के जरिए 5 लाख रुपये तक के IMPS ट्रांसफर पर अब चार्ज नहीं लगेगा. हालांकि ब्रांच से IMPS ट्रांसफर बिना चार्ज के नहीं हो पाएगा.

ब्रांच से IMPS ट्रांसफर पर देना होगा चार्ज

एसबीआई ने एक बयान में बताया कि ब्रांच जाकर IMPS के जरिए दो लाख रुपये तक के ट्रांसफर पहले से लग रहे चार्ज बने रहेंगे. बैंक ने बताया कि ब्रांच से 2 लाख रुपये से 5 लाख रुपये तक के IMPS ट्रांसफर पर 20 रुपये प्लस जीएसटी चार्ज देने होंगे. यह 01 फरवरी 2022 से लागू होगा. मोबाइल बैंकिंग, इंटरनेट बैंकिंग या योनो ऐप से 5 लाख तक के IMPS ट्रांसफर पर बैंक कोई चार्ज नहीं लेगा.

ब्रांच से ट्रांसफर पर इतना लगता है चार्ज

एसबीआई ब्रांच से 1 हजार रुपये तक के IMPS ट्रांसफर पर कोई चार्ज नहीं लेता है. वहीं 1 हजार रुपये से 10 हजार रुपये तक के ट्रांसफर पर 2 रुपये प्लस जीएसटी, 10 हजार रुपये से 1 लाख रुपये तक के ट्रांसफर पर 4 रुपये प्लस जीएसटी और 1 लाख रुपये से 2 लाख रुपये तक के ट्रांसफर पर 12 रुपये प्लस जीएसटी चार्ज के रूप में वसूला जाता है.

आरबीआई ने अक्टूबर में बढ़ाई लिमिट

IMPS पैसे ट्रांसफर करने के आसान तरीकों में एक है. यह रविवार के साथ ही अवकाश के सारे दिन भी 24 घंटे उपलब्ध रहता है. रिजर्व बैंक ने हाल ही में आईएमपीएस ट्रांसफर की लिमिट को 2 लाख रुपये से बढ़ाकर 5 लाख रुपये किया था. आरबीआई ने यह बदलाव अक्टूबर 2021 में किया था. इसके बाद सभी बैंकों को 2 लाख रुपये से 5 लाख रुपये के नए स्लैब के लिए चार्ज तय करने की जरूरत पड़ी.

डिजिटल बैंकिंग में RTGS और NEFT ट्रांसफर पर भी कोई चार्ज नहीं

एसबीआई आईएमपीएस के अलावा नेट बैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग या योनो से RTGS और NEFT ट्रांसफर पर भी कोई चार्ज नहीं लेता है. हालांकि ब्रांच से RTGS और NEFT ट्रांसफर करना फ्री नहीं है. RTGS ट्रांसफर के मामले में 2 लाख रुपये से 5 लाख रुपये के लिए 20 रुपये प्लस जीएसटी और 5 लाख रुपये से अधिक के ट्रांसफर के लिए 40 रुपये प्लस जीएसटी का चार्ज लिया जाता है. NEFT ट्रांसफर के मामले में यह चार्ज 2 रुपये से 20 रुपये प्लस जीएसटी के बीच है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें