scorecardresearch
 

LIC IPO: SEBI के पास इस तारीख को जमा होंगे ड्राफ्ट पेपर, भर जाएगी सरकार की झोली

एलआईसी (LIC) अधिकारियों ने ग्लोबल इन्वेस्टर्स के साथ चर्चा में इसकी जानकारी दी. इस चर्चा में इन्वेस्टर्स को इस बात की भी जानकारी दी गई कि आने वाले समय में कंपनी कैसे अपने पोर्टफोलियो का विस्तार करने वाली है.

X
इस महीने सेबी को सौंपे जाएंगे ड्राफ्ट पेपर इस महीने सेबी को सौंपे जाएंगे ड्राफ्ट पेपर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सेबी के पास इसी महीने फाइल होंगे ड्राफ्ट पेपर
  • एक लाख करोड़ रुपये तक का हो सकता है आईपीओ

सरकारी बीमा कंपनी एलआईसी के आईपीओ (LIC IPO) का इंतजार अब जल्दी ही समाप्त होने जा रहा है. सेबी (SEBI) के पास आईपीओ के ड्राफ्ट पेपर बस कुछ ही दिनों में फाइल होने वाले हैं.

ड्राफ्ट पेपर सामने आने के बाद आईपीओ से जुड़े कई ऊहापोह भी समाप्त हो जाएंगे. सरकार को इस आईपीओ से मोटी कमाई होने वाली है. इसे वित्त वर्ष 2021-22 समाप्त होने से पहले बाजार में लिस्ट कराने की तैयारी है.

एलआईसी अधिकारियों ने दी जानकारी

टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट में एलआईसी के अधिकारियों के हवाले से बताया गया है कि आईपीओ के ड्राफ्ट पेपर सेबी को इस महीने के तीसरे सप्ताह में सौंपे जा सकते हैं.

रिपोर्ट के अनुसार, एलआईसी अधिकारियों ने ग्लोबल इन्वेस्टर्स के साथ चर्चा में इसकी जानकारी दी. इस चर्चा में इन्वेस्टर्स को इस बात की भी जानकारी दी गई कि आने वाले समय में कंपनी कैसे अपने पोर्टफोलियो का विस्तार करने वाली है. कंपनी यूलिप, पेंशन, एन्यूटी और हेल्थ इंश्योरेंस जैसे नॉन-पार्टिसिपेटिंग प्रोडक्ट पर अधिक फोकस करने वाली है.

सरकार को मिल सकते हैं एक लाख करोड़

सरकार इस आईपीओ के माध्यम से एलआईसी में अपनी 5 से 10 फीसदी हिस्सेदारी बेचने की तैयारी में है. यह इतिहास के अब तक के सबसे बड़े आईपीओ में से एक होने वाला है. इस आईपीओ का साइज 80 हजार से एक लाख करोड़ रुपये तक हो सकता है. प्रस्तावित आईपीओ से पहले एलआईसी की Embedded Value करीब 11.15 लाख करोड़ रुपये आंकी गई है.

इस साल कतार में हैं ये आईपीओ

उल्लेखनीय है कि 2021 आईपीओ बाजार के लिए ऐतिहासिक साल साबित हुआ. करीब 65 आईपीओ के जरिए कंपनियों ने ओपन मार्केट से 1.3 लाख करोड़ रुपये का फंड जुटाया. आईपीओ मार्केट का यह बूम इस साल भी जारी रहने वाला है.

एलआईसी के रिकॉर्ड आईपीओ के अलावा डेल्हीवरी, ओयो, ओला, फार्मईजी, बजाज एनर्जी, गो एयरलाइंस, मोबिक्विक, इक्सिगो, एनएसई, एनएसडीएल और अडानी विल्मर जैसे आईपीओ 2022 में आने वाले हैं. इनमें कइयों का आईपीओ 5 हजार करोड़ से अधिक का रहने वाला है. इस तरह 2022 में दो लाख करोड़ रुपये से अधिक के आईपीओ लाए जाने के अनुमान हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें