scorecardresearch
 
यूटिलिटी

जोमैटो का स्वाद शेयर बाजार को पसंद, पहले दिन ही टाटा मोटर्स-ब्रिटानिया से आगे!

शेयर बाजार में जोमैटो का ग्रैंड वेलकम
  • 1/8

फूड डिलिवरी स्टार्टअप जोमैटो (Zomato) की शेयर बाजार में दमदार एंट्री हुई है. कंपनी की शानदार लिस्टिंग ने तमाम एक्सपर्ट को हैरान किया है. क्योंकि अधिकतर बाजार के जानकार इस आईपीओ को अधिकतम 100 रुपये में लिस्टिंग का अनुमान लगा रहे थे.  

मार्केट कैप में भारी इजाफा
  • 2/8

जोमैटो आईपीओ का इश्यू प्राइस 76 रुपये प्रति शेयर था. जबकि शुक्रवार को इसकी बीएसई पर 115 रुपये में लिस्ट‍िंग हुई. वहीं एनएसई पर 52.63 फीसदी प्रीमियम के साथ यह शेयर 116 रुपये पर लिस्ट हुआ. शानदार लिस्टिंग से कंपनी के मार्केट कैप में भारी इजाफा देखने को मिला है. 

लिस्टिंग के बाद भी तेजी
  • 3/8

लिस्टिंग के बाद भी इसमें तेजी देखने को मिली. जिन निवेशकों को आईपीओ में शेयर अलॉट नहीं हुए, वो लिस्टिंग के बाद इसे खरीदने लगे. जिससे लिस्टिंग के चंद मिनट के बाद एनएसई पर इस भाव बढ़कर 138.90 रुपये तक पहुंच गया. इस बीच कंपनी का मार्केट कैप भी बढ़कर 1 लाख करोड़ रुपये के पार निकल गया. 
 

मार्केट कैप अभी 98,300 करोड़ रुपये
  • 4/8


Zomato ने शेयर बाजार में एंट्री के साथ ही मार्केट कैप के मामले में कई दिग्गजों कंपनियों को पीछे छोड़ दिया है. शुक्रवार को कारोबार के अंत में जोमैटो का शेयर 126 रुपये पर बंद हुआ. इस हिसाब से इसका मार्केट कैप अभी 98,300 करोड़ रुपये है. जबकि कारोबार के दौरान आंकड़ा 1 लाख करोड़ रुपये के पार निकल गया था. 

 देश की 48वीं सबसे बड़ी कंपनी
  • 5/8

जोमैटो मार्केट कैप के लिहाज से देश की 48वीं सबसे बड़ी कंपनी बन गई है. इसने मार्केट कैप में टाटा मोटर्स समेत निफ्टी की कई दिग्गजों कंपनियों को पछाड़ दिया है. मार्केट कैप में टाटा मोटर्स, SBI कार्ड, अडानी टोटल गैस, कोल इंडिया, हिंडाल्को, डीएलफ और ब्रिटानिया जैसी बड़ी कंपनियों से जोमैटो आगे निकल गई है. 
 

टाटा मोटर्स भी मार्केट कैप में पीछे
  • 6/8

टाटा मोटर्स का मार्केट कैप 98,214 करोड़ रुपये है. जबकि जोमैटो का मार्केट कैप 98,300 करोड़ रुपये है. यही नहीं, लिस्टिंग के दिन ही जोमैटो का मार्केट कैप बढ़कर 1,08,067 करोड़ रुपये तक पहुंच गया था. इस दौरान जोमैटो ने BPCL, IOC और श्री सीमेंट को भी पीछे छोड़ दिया था. हालांकि बाजार बंद होने के बाद बहुत कम अनुपात से ये कंपनियां जोमैटा से आगे है. 

रिटर्न से निवेशक गदगद
  • 7/8

गौरतलब है कि जिन लकी लोगों को इसके शेयर आईपीओ में आवंटित हुए हैं, उनको पहले दिन ही 50% से ज्यादा का रिटर्न मिल गया है. जिन्हें शेयर नहीं मिल पाए वे निराश हो गए. लेकिन एक्सपर्ट कहते हैं कि जोमैटो के शेयर में आगे भी पैसा बनाने के काफी मौके मिलेंगे. 
 

 38 गुना सब्सक्राइब हुआ था आईपीओ
  • 8/8

बता दें, Zomato का आईपीओ 14 से 16 जुलाई के बीच खुला था. इसका आईपीओ 38 गुना सब्सक्राइब हुआ था. कंपनी का आईपीओ के जरिये 9,375 करोड़ रुपये जुटाने का प्लान था. जानकार कहते हैं कि भारत जैसे उभरते बाजार में कंपनी काफी अच्छी स्थिति में है. भारत में ऑनलाइन फूड डिलिवरी मार्केट अपने उभार पर है.