scorecardresearch
 
यूटिलिटी

राकेश झुनझुनवाला ने सरकार को दिए 10 में से 9 नंबर, कहा- कुछ नहीं बिगड़ा है

इकोमॉनी के मोर्चे पर कुछ नहीं बिगड़ेगा
  • 1/7

देश के दिग्गज निवेशक राकेश झुनझुनवाला को लगता है कि जिस तेजी से देश में कोरोना के मामले घट रहे हैं, उससे जुलाई के बाद स्थिति सामान्य हो जाएगी. उन्होंने कहा कि शेयर बाजार हमेशा फ्यूचर देखता है और कोरोना संकट अस्थाई है, इसलिए भारतीय इकोनॉमी का फ्यूचर शानदार दिख रहा है. 

भारत में कोरोना गंभीर समस्या नहीं
  • 2/7

'आजतक' के खास कार्यक्रम 'सीधी बात' में स्टॉक मार्केट के दिग्गज निवेशक राकेश झुनझुनवाला ने कहा कि कोविड एक फ्लू है, कैंसर नहीं. देश के 140 करोड़ लोगों में सिर्फ 2 करोड़ को कोरोना हुआ. अमेरिका की 30 करोड़ की आबादी में 3 करोड़ को हुआ. इससे अनुमान लगाया जा सकता है कि भारत में कितने फीसद लोग संक्रमित हुए हैं.  (Photo: Getty Images)

आर्थिक नीतियां अब तक सफल
  • 3/7

उन्होंने कहा कि पिछले एक साल में अपने देश का मेडिकल ढांचा सुधर गया है, और जल्द ही स्थिति सामान्य हो जाएगी. राकेश झुनझुनवाला ने सरकार को इकोनॉमी मैनेजमेंट के मोर्चे पर 10 में से 9 नंबर दिए. इसके पीछे उन्होंने कई सकारात्मक तर्क दिए, और सरकार की उपलब्धियां गिनाईं. 

इकोनॉमी का डिजिटाइलेजशन हुआ
  • 4/7

राकेश झुनझुनवाला ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 'डिजिटल सोशलिस्ट' की उपलब्धि दी. उन्होंने कहा कि इकोनॉमी का डिजिटाइलेजशन हुआ है, जिसका आगे फायदा होने वाला है. उन्होंने कहा कि आज की तारीख में सरकार द्वारा भेजे जा रहे 100 रुपये में से 85 रुपये लोगों तक पहुंच रहे हैं. जबकि राजीव गांधी ने कहा था कि लोगों तक 100 रुपये से में केवल 15 रुपये पहुंच रहे हैं. ये बदलाव हुआ है. 

जीएसटी कलेक्शन में इजाफा
  • 5/7

दिग्गज निवेशक ने कहा कि इकोनॉमी को लेकर उनका निगेटिव नजरिया नहीं है, क्योंकि सरकार का रेवेन्यू बढ़ा है. अप्रैल में जीएसटी कलेक्शन 1.41 लाख करोड़ रुपये रहा. और शेयर मार्केट हमेशा भविष्य देखता है. यही नहीं, देश की तमाम दिग्गज कंपनियों की आय पिछले 3-4 क्वॉर्टर में बढ़ी है. 

भारतीय इकोनॉमी सही दिशा में
  • 6/7

 बिगबुल की मानें तो भारतीय इकोनॉमी सही दिशा में है. देश नए फेज में एंट्री कर रहा है और इस साल विकास दर 10 फीसदी रहेगी. और अगले 20 साल तक जीडीपी सही दिशा में रहेगी. उन्होंने कहा कि बजट में सरकार के ग्रोथ के लिए कई कदम उठाए हैं. जिसका सही परिणाम कुछ वर्षों में देखने को मिलेगा. 

जुलाई के बाद स्थिति सामान्य होगी
  • 7/7

इस संकट के दौर में कौन भारतीय बाजार में निवेश कर रहा है? उन्होंने कहा कि एलआईसी, फॉरेनर्स और तमाम रिटेल सेक्टर इन्वेस्ट कर रहे हैं. मैं खुद बाजार की स्थिति को देखकर निवेश करता हूं. कोई भी सेक्टर डूबने वाला नहीं है, जुलाई के बाद स्थिति सामान्य होगी.