scorecardresearch
 
यूटिलिटी

Post Office की ये बचत योजना, 10 साल में पैसा डबल होने की गारंटी!

छोटी बचत योजनाओं का खजाना
  • 1/6

डाकघर में सबसे कम आय वाले लोगों की भी बचत जरूरतें पूरी होती हैं. डाकघरों में लोग महीने के 100 रुपये की मामूली रकम से भी बचत शुरू कर सकते हैं. सच कहा जाए तो देशभर के लोगों में बचत की आदत डालने में डाकघर की बहुत बड़ी भूमिका है.
(Photos: Files)
 

बचत करने की कोई सीमा ही नहीं
  • 2/6

डाकघर की खासबात ये है कि यहां चलने वाली अधिकतर छोटी बचत योजनाओं में निवेश की कोई मैक्सिमम लिमिट नहीं है. जैसे राष्ट्रीय बचत पत्र (NSC) में आप 1,000 रुपये से निवेश शुरू कर सकते हैं. इस पर आपको ब्याज भी 6.8% मिलता है जो पूरे 5 साल बाद मिलता है.

10 साल में पैसा डबल करने की गारंटी!
  • 3/6

डाकघरों में एक छोटी बचत योजना चलती है ‘किसान विकास पत्र’, इस पर मौजूदा समय में सालाना ब्याज मिलता है 6.9% लेकिन ब्याज का पैसा इस बांड की मैच्योरिटी पूरा होने पर मिलता है. डाकघर का दावा है कि 124 महीने यानी 10 साल 4 महीने में इस बांड में लगाई गई रकम लगभग डबल हो जाती है. सबसे खास बात ये कि इसमें आप 1,000 रुपये जैसी मामूली रकम से निवेश शुरू कर सकते हैं और इसे 100 के मल्टीप्लाई में बढ़ा सकते हैं.

कैसे पता करें कितने दिन में होगा पैसा डबल
  • 4/6

आपका निवेश किया पैसा कितने दिन में डबल होगा इसका पता लगाने के लिए एक्सपर्ट्स एक बहुत सिंपल सा नियम बताते हैं. बस आप जिस भी योजना में निवेश कर रहे हैं उसमें मिलने वाले ब्याज को 72 से भाग दे दीजिए, फिर आपको पता चल जाएगा कि आपका पैसा कितने दिन में डबल होगा.

सुरक्षित निवेश का भरोसा
  • 5/6

कोरोना महामारी के दौर में बाजार में निवेश को लेकर रिस्क बढ़ा है. शेयर बाजार से लेकर सोने के भाव तक में कई बार उलटफेर देखा जा चुका है. ऐसे में डाकघर की बचत योजनाएं आपको सुरक्षित निवेश और गारंटीड रिटर्न का भरोसा देती हैं, इसकी वजह इन योजनाओं में लगा पैसा पूरी तरह सरकार के पास रहता है और सरकार ही इन योजनाओं पर मिलने वाला ब्याज तय करती है.

100 रुपये से खोले Post Office में RD
  • 6/6

डाकघर में RD खाता खुलवाना सबसे सस्ता निवेश विकल्प है. इस खाते को आप महीने भर में 100 रुपये मामूली रकम देकर शुरू कर सकते हैं. ऊपर से इस पर आपको ब्याज भी 5.8% मिलता है जो हर तिमाही में आपके खाते में जुड़ जाता है. हालांकि इसे 5 साल चलाना होता है लेकिन अगर आपको पैसों की जरूरत पड़ जाए तो आप इसे 3 साल बाद बंद भी कर सकते हैं.