scorecardresearch
 
यूटिलिटी

Atal Pension Yojana: मैच्योरिटी से पहले अगर कर रहे हैं बंद, तो पैसे पाने के लिए याद रखें ये बदले नियम

Atal Pension Yojana में निवेश
  • 1/7

Atal Pension Yojana में निवेश : अगर कोई व्यक्ति 60 वर्ष की आयु के बाद एक गारंटीड मासिक पेंशन चाहता है, तो अटल पेंशन योजना (APY) उसके लिए बेहतर विकल्प हो सकती है. भारत सरकार की इस योजना का प्रबंधन PFRDA करती है. इस योजना में निवेश करने की न्यूनतम आयु 18 वर्ष है. लेकिन अब इससे जुड़े कुछ नियमों में बदलाव हुआ है. जानें इसके बारे में.
(Photo : Getty)

मैच्योरिटी से पहले बंद करने के नियम बदले
  • 2/7

मैच्योरिटी से पहले बंद करने के नियम बदले: PFRDA ने APY की मैच्योरिटी से पहले बाहर आने से जुड़े नियमों में महत्वपूर्ण बदलाव किया है. इस संबंध में  PFRDA ने एक सर्कुलर जारी किया है जिसके हिसाब से अब PFRDA समय-समय पर मैच्योरिटी से पहले APY को बंद करने के लिए नियमों की समीक्षा करेगा. अभी PFRDA ने इस संबंध में दो संभावनाओं के आधार पर बदलाव किया है.
(File Photo)

हो सकती हैं ये दो संभावनाएं :
  • 3/7

हो सकती हैं ये दो संभावनाएं : PFRDA का मानना है कि यदि कोई व्यक्ति मैच्योरिटी से पहले APY से बाहर आता है तो उसके बैंक खाते में जल्द से जल्द पैसा पहुंचाने से जुड़ी दो तरह की संभावनाएं हो सकती हैं. पहली ये कि APY सब्सक्राइबर द्वारा दी गई बचत खाते की जानकारी पहले की तरह समान हो, दूसरी ये कि उसका बचत खाता या बैंक बदल गया हो. इन दोनों ही स्थितियों के लिए उसने नियम बदले हैं.
(Photo : Getty)

अगर बचत खाते की जानकारी है पहले जैसी
  • 4/7

अगर बचत खाते की जानकारी है पहले जैसी: PFRDA का कहना है कि यदि कोई APY सब्सक्राइबर मैच्योरिटी से पहले योजना को बंद करता है तो उसे एक्जिट फॉर्म पर अपने बचत खाते के सक्रिय होने की जानकारी देनी होगी. ये नियम 15 सितंबर 2021 से अनिवार्य बना दिया गया है. वहीं सब्सक्राइबर का खाता सक्रिय है कि नहीं इसके लिए उसके बैंक खाते में तत्काल कुछ (संभवतया 1 रुपये)  रुपये की राशि डालकर वेरिफिकेशन किया जाएगा. नियम में इस बदलाव से अटल पेंशन योजना के लाभार्थी के खाते में तेजी से रकम भेजी जा सकेगी. (Photo : Getty)

अगर बदल जाती है बचत खाते की जानकारी:
  • 5/7

अगर बदल जाती है बचत खाते की जानकारी: दूसरी स्थिति में संभावना है कि मैच्योरिटी से पहले APY को बंद करने के समय लाभार्थी का बचत खाता या बचत खाते वाला बैंक बदल गया हो. इस स्थिति में PFRDA के नियमानुसार उसे अपने बदले हुए खाते की जानकारी देनी होगी और इसके लिए अनुमति अपवाद के तौर पर ही दी जा सकेगी. इसके लिए बैंक खाते के चालू होने का वेरिफिकेशन तत्काल कुछ (संभवतया 1 रुपये) रुपये डालकर किया जाएगा.
(File Photo)

मिलाया जाएगा PRAN से नाम:
  • 6/7

मिलाया जाएगा PRAN से नाम: कुछ रुपये डालकर तत्काल बचत बैंक खाता चालू होने का वेरिफिकेशन करने की एक और वजह लाभार्थी के नाम का मिलान उसके स्थायी रिटायरेमेंट खाता संख्या (PRAN) से करना भी है. इससे APY के लाभार्थी की पहचान सुनिश्चित होगी. (File Photo)

PFRDA की सलाह
  • 7/7

PFRDA की सलाह: PFRDA ने APY के लाभार्थियों को परामर्श दिया है कि वो अपने बचत खाते को चालू स्थिति में रखें ताकि इस पूरी प्रक्रिया के झंझट से बचा जा सके. वहीं खाता चालू होने के तत्काल वेरिफिकेशन के लिए जो राशि डाली जाएगी उसके लिए सब्सक्राइबर पर 2.40 रुपये का शुल्क और टैक्स अलग से लगेगा.
(Photo : Getty)