scorecardresearch
 
यूटिलिटी

खुशहाल रिटायरमेंट के लिए आखिर कितना पैसा काफी...? ऐसे क्रिएट करें अपना फंड

खुशहाल रिटायरमेंट के लिए कितना पैसा काफी
  • 1/8

अपने रिटायरमेंट के लिए निवेश करने से पहले हम सभी के मन में एक सवाल होता है कि आखिर कितना पैसा काफी होगा कि हम आराम से रिटायर होकर खुशहाल जीवन बिता सकें. यहां हम आपको बताएंगे कि इस बारे में एक्सपर्ट्स की क्या राय है और इसके लिए आपको कैसे अपना रिटायरमेंट प्लान करना चाहिए.. (Photo : Getty)

रिटायरमेंट का Thumb Rule
  • 2/8

जब भी आप रिटायरमेंट के लिए प्लान करें तो एक Rule of Thumb हमेशा एप्लाई करें. ये नियम कहता है कि आपका रिटायरमेंट फंड कम से कम आपके मौजूदा सालाना खर्चे का 50 गुना होना चाहिए. अब इसकी गणना कैसे करें...
(Photo : Getty)

अगर आपका मासिक खर्च 50,000
  • 3/8

मान लीजिए आपका मासिक खर्च अभी 50,000 रुपये महीना है. तो साल का खर्च बैठेगा करीब 6 लाख रुपये. ऐसे में आपके पास रिटायरमेंट के लिए न्यूनतम 3 करोड़ रुपये होने चाहिए, तभी आप रिटायरमेंट के बाद एक आरामदायक जिंदगी बिता पाएंगे. (Photo : Getty)

तो कैसे बनाएं अपना रिटायरमेंट फंड
  • 4/8

लैडरअप वेल्थ मैनेजमेंट के एमडी राघवेन्द्र नाथ का कहना है कि कोई भी व्यक्ति रिटायरमेंट के बाद एक आरामदायक जीवन तभी बिता सकता है, जब उनका निवेश पोर्टफोलियो एक पर्याप्त रिटर्न देता रहे. इसके लिए जरूरी है कि आप ऐसे टूल्स में निवेश करें जो अच्छा रिटर्न दें और जोखिम भी कम से कम हो. (Photo : Getty)
 

कितना रिटर्न काफी...
  • 5/8

यदि आप अपने रिटायरमेंट के लिए अच्छा-खासा फंड क्रिएट करना चाहते हैं तो ऐसी जगह पर निवेश करें जो आपको सालाना कम से कम 12% का रिटर्न दे. इसके लिए आप SIP, म्यूचुअल फंड में निवेश का रास्ता चुन सकते हैं. यदि शेयर बाजार की अच्छी जानकारी है तो सीधे वहां भी निवेश कर सकते हैं. (Photo : Getty)

म्यूचुअल फंड या SIP क्यों सही?
  • 6/8

दरअसल किसी भी टूल्स के मुकाबले आम तौर पर शेयर बाजार आपके निवेश पर बेहतर रिटर्न देता है. लेकिन शेयर बाजार जोखिम से भरा है. ऐसे में म्यूचुअल फंड या  SIP आपकी बचत पर जोखिम को कुछ हद तक कम करते हैं और सामान्य विकल्पों की तुलना में अच्छा रिटर्न देते हैं. इसमें टैक्स सेविंग ऑप्शन भी अवेलबल है. इसलिए SIP या म्यूचुअल फंड में निवेश करना शेयर बाजार की तुलना में थोड़ा सुरक्षित है. (Photo : Getty)

निवेश में रखें अनुशासन
  • 7/8

राघवेन्द्र नाथ कहते हैं कि यदि आप आरामदायक रिटायरमेंट को लेकर गंभीर हैं तो अपने निवेश में अनुशासन को अवश्य बनाए रखें.समय पर अपनी किस्तें भरें. निवेश में कटौती के बदले अपने खर्चों में कटौती करें. (Photo : Getty)

निवेश पर रिटर्न को संभालें
  • 8/8

राघवेन्द्र नाथ का कहना है कि वैसे भी आपको रिटायरमेंट के बाद अपने पूर फंड की एक साथ जरूरत नहीं पड़ेगी. ऐसे में आपको अपने निवेश पर मिलने वाले रिटर्न को एक सही जगह संभालकर रखना होगा ताकि जरूरत पड़ने पर वो आपके काम आ सके. इतना ही नहीं आप अपने फंड से जरूरत के मुताबिक ही खर्चा करें और बाकी निवेश को बचाकर रखें जिससे कि आपको रिटायरमेंट के बाद भी उस पर रिटर्न मिलता रहे. (Photo : Getty)