scorecardresearch
 

Share Market Close: आईटी और रियल्टी ने बाजार को संभाला, शुरुआती गिरावट की हुई भरपाई

अमेरिकी सेंट्रल बैंक फेडरल रिजर्व के एक अधिकारी ने संकेत दिया है कि मार्च में ब्याज दर बढ़ाए जा सकते हैं. इसके बाद गुरुवार को वॉल स्ट्रीट में गिरावट देखी गई. आज सारे एशियाई बाजार लाल निशान में हैं.

गिर गया बाजार गिर गया बाजार
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 5 दिनों की रैली पर फेड रिजर्व ने लगाया ब्रेक
  • अमेरिका में रेट हाइक के संकेत से प्रेशर में बाजार

Share Market Update: सप्ताह के अंतिम कारोबारी दिन आईटी और रियल्टी सेक्टर ने घरेलू शेयर बाजार को संभाल लिया. इसके दम पर शुरुआत में आई बड़ी गिरावट की काफी हद तक भरपाई हो गई. कारोबार समाप्त होने के बाद सेंसेक्स और निफ्टी लगभग फ्लैट बंद हुए. हालांकि लगातार पांच दिनों की रैली पर ब्रेक लग गया.

घरेलू बाजार ने शुक्रवार को कारोबार की कमजोर शुरुआत की और सेशन खुलते ही 0.70 फीसदी से ज्यादा गिर गया. बीएसई सेंसेक्स और एनएसई निफ्टी प्री-ओपन सेशन से ही दबाव में रहे. बाद में बाजार ने कुछ हद तक गिरावट की भरपाई की. कारोबार समाप्त होने के बाद सेंसेक्स 12.27 अंक की मामूली गिरावट के साथ 61,223.03 अंक पर बंद हुआ. निफ्टी महज 2.05 अंक नीचे 18,255.75 अंक पर रहा.

इससे पहले गुरुवार को बीएसई सेंसेक्स 85.26 अंक (0.14 फीसदी) बढ़कर 61,235.30 अंक पर और एनएसई निफ्टी 45.45 अंक (0.25 फीसदी) की बढ़त के साथ 18,257.80 अंक पर बंद हुआ था. बाजार लगातार पांचवें दिन बढ़त के साथ बंद हुआ था.

अमेरिकी सेंट्रल बैंक फेडरल रिजर्व के एक अधिकारी ने संकेत दिया है कि मार्च में ब्याज दर बढ़ाए जा सकते हैं. इसके बाद गुरुवार को वॉल स्ट्रीट में गिरावट देखी गई. आज सारे एशियाई बाजार लाल निशान में रहे. घरेलू बाजार के ऊपर भी इसका दवाब देखने को मिला.

घरेलू बाजार को आईटी और रियल्टी जैसे शेयरों ने मदद की. बीएसई पर आईटी समूह 0.95 फीसदी और रियल्टी 1.10 फीसदी की बढ़त में रहा. सेंसेक्स में शामिल तीनों बड़ी आईटी कंपनियां फायदे में रहीं. सेंसेक्स की कंपनियों में टीसीएस सबसे ज्यादा 1.84 फीसदी की बढ़त में रही. दूसरे स्थान पर 1.64 फीसदी की तेजी के साथ इंफोसिस रही. टेक महिंद्रा और एचसीएल टेक के शेयर भी चढ़कर बंद हुए.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×