scorecardresearch
 

LIC के IPO में विदेशी निवेशक भी लगा सकेंगे पैसे, सरकार निकाल रही है रास्ता!

देश का सबसे बड़ा आईपीओ जल्द ही आने वाला है. हर कोई इस आईपीओ में पैसा लगाना चाहता है. विदेशी निवेशक भी भारत की सबसे बड़ी इंश्योरेंस कंपनी, लाइफ इंश्योरेंस कॉर्पोरेशन (LIC) में पैसा लगाना चाहते हैं. मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो LIC में 20 फीसदी तक विदेशी निवेश की मंजूरी मिल सकती है.

X
LIC के आईपीओ में 20 फीसदी तक विदेशी निवेश संभव LIC के आईपीओ में 20 फीसदी तक विदेशी निवेश संभव
स्टोरी हाइलाइट्स
  • LIC में 20 फीसदी तक विदेशी निवेश संभव
  • केंद्र सरकार इस प्रस्ताव पर कर रही है विचार

देश का सबसे बड़ा आईपीओ जल्द ही आने वाला है. हर कोई इस आईपीओ में पैसा लगाना चाहता है. विदेशी निवेशक भी भारत की सबसे बड़ी इंश्योरेंस कंपनी, लाइफ इंश्योरेंस कॉर्पोरेशन (LIC) में पैसा लगाना चाहते हैं. मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो LIC में 20 फीसदी तक विदेशी निवेश की मंजूरी मिल सकती है.

दरअसल, केंद्र सरकार LIC में विदेशी निवेशकों को 20 फीसदी तक निवेश की अनुमति देने के एक प्रस्ताव पर विचार कर रही है. इस प्रस्ताव को सरकार की हरी झंडी मिलते ही विदेशी निवेशक भी LIC के IPO में निवेश कर पाएंगे. 

हालांकि इस रिपोर्ट पर वित्त मंत्रालय की अभी तक कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है. लेकिन सरकार इस प्रस्ताव पर विचार कर रही है. प्रस्ताव के मुताबिक सरकार एफडीआई नियमों में संशोधन कर सकती है. जिसके बाद निवेशक बिना सरकारी मंजूरी ऑटोमैटिक रूट के जरिए सीधे हिस्सेदारी खरीद सकें. 

गौरतलब है कि अधिकतर बीमा कंपनियों में 74 फीसदी तक प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (FDI) की इजाजत है. लेकिन यह नियम एलआईसी पर लागू नहीं होता है. सरकार विनिवेश के लक्ष्य को हासिल करने के लिए LIC के आईपीओ को चालू वित्त में लॉन्च करने की पूरी तैयारी में है. 

पिछले हफ्ते खबर आई थी कि देश की सबसे बड़ी बीमा कंपनी (LIC) नवंबर में भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (SEBI) के पास आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (IPO) के लिए दस्तावेज जमा कराएगी. वित्त मंत्रालय के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी थी. 

सरकार ने पिछले महीने गोल्डमैन सैश (इंडिया) सिक्योरिटीज प्राइवेट लिमिटेड, सिटीग्रुप ग्लोबल मार्केट्स इंडिया प्राइवेट लिमिटेड और नोमुरा फाइनेंशियल एडवाइजरी एंड सिक्योरिटीज (इंडिया) प्राइवेट लिमिटेड सहित 10 मर्चेंट बैंकरों को आईपीओ के प्रबंधन के लिए नियुक्त किया है.

जिन अन्य बैंकरों का चयन किया गया है, उनमें एसबीआई कैपिटल मार्केट लिमिटेड, जेएम फाइनेंशियल लिमिटेड, एक्सिस कैपिटल लिमिटेड, बोफा सिक्योरिटीज, जेपी मॉर्गन इंडिया प्राइवेट लिमिटेड, आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज लिमिटेड और कोटक महिंद्रा कैपिटल कंपनी लिमिटेड शामिल हैं.


 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें