scorecardresearch
 

Nano के साथ बार-बार दिख रहे Ratan Tata, क्या फिर लॉन्च होने जा रही 'लखटकिया कार'?

कुछ दिन पहले ही रतन टाटा ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर टाटा नैनो के बनने की पूरी कहानी शेयर की थी. उन्होंने बताया था कि इस कार को बनाने की प्रेरणा उन्हें कहां से मिली और पहले ये कार कैसी दिखने वाली थी.

X
ऐसी दिखती है इलेक्ट्रिक Tata Nano
ऐसी दिखती है इलेक्ट्रिक Tata Nano
स्टोरी हाइलाइट्स
  • रतन टाटा की ड्रीम कार है Tata Nano
  • 2008 में लॉन्च हुई थी Tata Nano
  • आ चुकी है इलेक्ट्रिक Tata Nano

Tata Nano, रतन टाटा का ड्रीम प्रोजेक्ट है. ये बात तो हम सबको पता है. हालांकि मार्केट में इस कार को सही सक्सेस नहीं मिल सकी और कंपनी इसका प्रोडक्शन भी बंद कर चुकी है. हाल में इस कार को लेकर हलचल फिर से बढ़ी है. Ratan Tata को कई बार इस कार के साथ देखा गया है. हाल में उन्होंने इसकी यादें ताजा करते हुए एक सुंदर पोस्ट भी लिखी थी. इन कारणों से कयास लगाए जा रहे हैं कि क्या जल्द ही ये कार फिर से लॉन्च होने जा रही है. आइए जानते हैं सिलसिलेवार...

सामने आई Tata Nano EV

इस साल की शुरुआत में एक इलेक्ट्रिक टाटा नैनो (Tata Nano Electric Car) सामने आई थी. रतन टाटा और उनके सहयोगी शांतनु नायडू (Shantanu Naidu) को इस कार की सवारी करते देखा गया. खास बात ये है कि इस कार को इलेक्ट्रिक बनाने का काम रतन टाटा की ही एक कंपनी Electra EV ने किया.

ये कंपनी इलेक्ट्रिक व्हीकल के लिए पॉवरट्रेन बनाती है. इस कंपनी ने अपने LinkedIn प्रोफाइल पर कस्टमाइज इलेक्ट्रिक नैनो, रतन टाटा को गिफ्ट करने की जानकारी दी थी. 72V की ये Electric Tata Nano 10 सेकेंड से कम समय में 60  किमी की रफ्तार पकड़ लेती है और सिंगल चार्ज में 160km की रेंज देती है.

कंपनी की लिंंक्डइन पोस्ट
कंपनी की लिंक्डइन पोस्ट

Ratan Tata ने लिखी खूबसूरत पोस्ट 

कुछ दिन पहले ही रतन टाटा ने अपने इंस्टाग्राम (Ratan Tata Instagram)पर टाटा नैनो के बनने की कहानी शेयर की थी. उन्होंने इसकी प्रेरणा कहां से मिली और पहले ये कार कैसी दिखने वाली थी, सब कुछ बताया था. टाटा नैनो की कहानी (The Tata Nano Story) कहते हुए उन्होंने बताया था कि वो देश में 2-व्हीलर्स की राइड को सेफ बनाना चाहते थे. इसलिए पहले एक ऐसे 4-व्हीलर का डिजाइन तैयार किया गया, जिसमें ना कोई दरवाजा था, ना ही कोई खिड़की. बाद में उन्होंने Tata Nano बनाई.

रतन टाटा की इंस्टाग्राम पोस्ट
रतन टाटा की इंस्टाग्राम पोस्ट

Taj Hotel पहुंचे Nano से

इस बीच Ratan Tata का एक और वीडियो वायरल हो रहा है. इसमें वो फिर से एक बार शांतनु नायडू के साथ टाटा नैनो की सवारी करते दिख रहे हैं. इस वीडियो में उन्हें Taj Hotel से नैनो में बैठकर बाहर निकलते हुए देखा जा सकता है. इस वीडियो की चर्चा रतन टाटा की सादगी को लेकर भी हो रही है, क्योंकि उनकी कंपनी Tata Motors जगुआर और लैंड रोवर (Jaguar & Land Rover) जैसी लक्जरी गाड़ियां भी बनाती है.

बार-बार रतन टाटा के नैनो से जुड़ी कहानियां शेयर करने और उनके नैनो में सवारी करने से लोगों के बीच संकेत जा रहा है कि कंपनी इस कार को फिर से लॉन्च कर सकती है. हो सकता है कि इस बार इसे इलेक्ट्रिक कार बनाकर लॉन्च किया जाए. अगर ऐसा हुआ तो ये देश की सबसे सस्ती इलेक्ट्रिक कार में से एक होगी.

2008 में लॉन्च हुई Tata Nano

'लखटकिया कार' या 'आम लोगों की कार' नाम से मशहूर हुई Tata Nano को कंपनी ने 10 जनवरी 2008 को लॉन्च किया था. ये उस समय के BS-3 मानक के हिसाब से डिजाइन की गई थी. इसमें 624cc का 2-सिलिंडर वाला पेट्रोल इंजन और 4-स्पीड गियर बॉक्स था. कंपनी ने इसे 3 वैरिएंट में लॉन्च किया था. कंपनी ने इसकी शुरुआती कीमत 1 लाख रुपये रखी थी.

2019 में बंद हो गई Nano

टाटा नैनो की आखिरी यूनिट 2019 में प्रोड्यूस हुई. ये रतन टाटा का ड्रीम प्रोजेक्ट थी, लेकिन ये अपने मुकाम को छू नहीं सकी. इसके बनने और बिगड़ने की यात्रा में कई पड़ाव आए, जिसमें बंगाल के सिंगूर में लगने वाली फैक्टरी के गुजरात के साणंद में शिफ्ट होने, नैनो में आग लगने की घटनाओं के बढ़ने की कहानी शामिल है. इतना ही नहीं, कई विशेषज्ञों का मानना है कि Tata Sons से साइरस मिस्त्री की विदाई में भी Nano का हाथ था.

ये भी पढ़ें: 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें