scorecardresearch
 

EV Battery में इन्वेस्ट करें बस इतने रुपये, कमाएं बैंक से ज्यादा रिटर्न!

Invest in Electric Scooter Battery: अगर आप छोटी बचत पर भी ज्यादा रिटर्न कमाना चाहते हैं, तो इस कंपनी की इलेक्ट्रिक व्हीकल बैटरी में निवेश करना आपके लिए फायदे का सौदा हो सकता है, क्योंकि ये कंपनी इलेक्ट्रिक स्कूटर के लिए स्वैपेबल बैटरी बनाती है, जिसमें निवेश कर आप बैंक से ज्यादा रिटर्न कमा सकते हैं.

X
EV Battery में करें इन्वेस्ट, कमाएं बैंक से ज्यादा रिटर्न EV Battery में करें इन्वेस्ट, कमाएं बैंक से ज्यादा रिटर्न
स्टोरी हाइलाइट्स
  • टूट-फूट, रिपेयर की जिम्मेदारी कंपनी की
  • महीने की 7 तारीख तक खाते में आएगी कमाई
  • बीच में भी छोड़ सकते हैं बैटरी में निवेश की स्कीम

अगर आप छोटी बचत पर भी ज्यादा रिटर्न कमाना चाहते हैं, तो इस कंपनी की इलेक्ट्रिक व्हीकल बैटरी में निवेश करना आपके लिए फायदे का सौदा हो सकता है, क्योंकि ये कंपनी इलेक्ट्रिक स्कूटर के लिए स्वैपेबल बैटरी बनाती है, जिसमें निवेश कर आप बैंक से ज्यादा रिटर्न कमा सकते हैं...

बनें Bounce Battery Infra का हिस्सा

इलेक्ट्रिक व्हीकल सेगमेंट में काम करने वाली स्टार्टाअप कंपनी Bounce स्वैपेबल बैटरी वाले इलेक्ट्रिक स्कूटर Bounce Infinity बनाती है. लोग कंपनी के इस स्कूटर को बिना बैटरी के भी खरीद सकते हैं, और जगह-जगह बने कंपनी के बैटरी स्वैप स्टेशन (Battery Swap Station) से अपने स्कूटर के लिए बैटरी किराये पर भी ले सकते हैं. इसके अलावा कंपनी इलेक्ट्रिक स्कूटर को रेंट पर देकर शेयरिंग में भी चलाती है. ऐसे में कंपनी अपने Battery Infrastructure को डेवलप कर रही है. आप भी इसका हिस्सा बनकर अच्छी कमाई कर सकते हैं.

इसे भी देखें : पेट्रोल की 2-व्हीलर गाड़ियों को बनाएं इलेक्ट्रिक, बस खर्च होंगे इतने रुपये!

कैसे करें बैटरी इन्फ्रा में निवेश?

अगर आप Bounce के बैटरी इन्फ्रा में निवेश कर कमाई करना चाहते हैं, तो आप सबसे कम 10,300 रुपये का निवेश कर सकते हैं. इससे आप कंपनी की एक स्वैपेबल बैटरी को अपने एसेट की तरह इस्तेमाल कर सकते हैं, जो कंपनी आपसे अपने वेरिफाइड स्वैप स्टेशन पार्टनर के लिए ले लेगी और किराये पर बैटरी लेने वालों से जो कमाई होगी उसका एक हिस्सा आपको भी देगी. इतना ही नहीं अगर आप ज्यादा निवेश करना चाहते हैं तो आप कंपनी के Battery Swap Station के किराये पर जगह दे सकते हैं. या फिर आप खुद से कंपनी के पूरे के पूरे बैटरी स्वैप स्टेशन को लगा सकते हैं.

मिलेगा बैंक से ज्यादा रिटर्न

Bounce का दावा है कि उसके एसेट में निवेश करने वालों को बैंक से ज्यादा रिटर्न मिलेगा. कंपनी का कहना है कि अगर कोई व्यक्ति उसके एसेट में 3 साल के लिए निवेश करता है तो वह निवेश पर 10% रिटर्न की उम्मीद कर सकता है. जबकि बैंकों में पारंपरिक तरीके से निवेश करने पर एसे 5 से 6 प्रतिशत का ही रिटर्न मिलता है. लोगों को अपनी बैटरी कंपनी के पास किराये पर चढ़ाने से जो इनकम होती है, वह कंपनी उनके खाते में अगले महीने की 7 तारीख तक जमा करा देती है.

टूट-फूट, रिपेयर की जिम्मेदारी कंपनी की

Bounce का कहना है कि अगर आप उसकी बैटरी या और किसी एसेट में निवेश करते हैं, तो उससे जुड़ी टूट-फूट, मेंटिनेंस, रिपेयर की जिम्मेदारी बाउंस और उसके वेरिफाइड पार्टनर्स की होगी. अगर आप इस स्कीम की मैच्योरिटी से पहले बाहर निकलना चाहते हैं तो छोटी सी फीस देकर आप बाहर भी आ सकत हैं. वहीं जब आपके निवेश वाली बैटरी की उम्र पूरी हो जाएगी, तो आप इसे स्क्रैप के लिए कंपनी को रिटर्न कर सकते हैं.

ये भी पढ़ें: 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें