scorecardresearch
 
ऑटो न्यूज़

भारत की इन 5 कारों से चिढ़ते हैं चीन-पाकिस्तान, लुक दमदार- काम असरदार!

भारत की इन 5 कारों से चिढ़ता है चीन-पाकिस्तान
  • 1/7

गणतंत्र दिवस (Republic Day) के मौके पर आज हम आपको बताने जा रहे हैं, भारत की सीमा-प्रहरी 5 ऐसी गाड़ियों के बारे में जिनसे पाकिस्तान और चीन दोनों ही चिढ़ते हैं. ये गाड़ियां लुक में दमदार हैं और इनका काम भी बहुत असरदार है. जानें इनके बारे में...

Maruti Suzuki Gypsy (File Photo)
  • 2/7

Maruti Suzuki Gypsy
राजस्थान में थार मरुस्थल के बीच पाकिस्तान से लगी सीमा हो या कश्मीर की घाटी में ऊंचे-नीचे पहाड़ों का संकरा रास्ता, देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति सुजुकी (Maruti Suzuki) की जिप्सी (Gypsy) भारतीय सेना की साथी देश के हर इलाके में है. इस कार की 4X4 व्हील ड्राइव इसे सेना की सबसे पसंदीदा कार बनाती है. इसमें 1.3 लीटर का टर्बोचार्ज इंजन होता है, जो 80bhp की मैक्स पॉवर जेनरेट करता है. आम पब्लिक के लिए कंपनी इस कार का उत्पादन बंद कर चुकी है, लेकिन भारतीय सेना का ये अभी भी अभिन्न हिस्सा है.

Mahindra Scorpio (Photo : PTI)
  • 3/7

Mahindra Scorpio
महिंद्रा एंड महिंद्रा की स्कॉर्पियो बहुत पॉवरफुल लुक की गाड़ी है. आम गाड़ी से अलग कुछ मॉडिफिकेशंस के साथ भारतीय सेना इस गाड़ी का इस्तेमाल लद्दाख जैसे दुर्गम इलाकों में पेट्रोलिंग के लिए करती है. इतना ही नहीं चीन से लगी सीमा पर ITBP के जवानों के दस्ते में भी इस गाड़ी की अपनी भूमिका है. इसमें 2179cc का mHawk इंजन है. ये 140bhp की पॉवर और 320Nm का पीक टॉर्क जेनरेट करती है. सेना के अधिकारियों के लिए भी इस गाड़ी को इस्तेमाल में लाया जाता है.

Toyota Fortuner (Photo : ITBP)
  • 4/7

Toyota Fortuner
टोयोटा की Fortuner दिखने में ही नहीं काम में भी असरदार गाड़ी है. इसलिए भारतीय सेना इस एसयूवी का इस्तेमाल लद्दाख जैसे इलाके में देश क सुरक्षा के लिए करती है. ये एसयूवी पेट्रोल और डीजल दोनों ऑप्शन के साथ आती है. वहीं पैंगोंग लेक में चीन से लगी सीमा के पास इसका इस्तेमाल पेट्रोलिंग में होता है. इसमें 2755cc का इंजन है जो 200 bhp की मैक्स पॉवर और 420Nm का पीक टॉर्क तक जेनरेट करता है. ये गाड़ी 4 व्हील ड्राइव के साथ आती है. 

Mitsubishi Pajero (File Photo)
  • 5/7

Mitsubishi Pajero
भारतीय सेना ने पूर्वोत्तर के इलाकों में गश्त करने के लिए मित्शुबिशी मोटर्स की Pajero SUV को अपने बेड़े में शामिल किया है. सिक्किम के इलाकों में सेना के आला अधिकारी इससे अक्सर गश्त लगाते या दौरा करते देखे जा सकते हैं. 4-व्हील ड्राइव मोड के साथ आने वाली इस कार में 2,835cc का इंजन है जो 118  bhp की मैक्स पॉवर और 292 Nm का पीक टॉर्क जेनरेट करता है. हालांकि सेना के लिए इस कार की बहुत कम यूनिट ही अब तक ऑर्डर हुई हैं.

Mahindra Marksman
  • 6/7

Mahindra Marksman
महिंद्रा की ये गाड़ी असल में एक युद्धक गाड़ी है. ये गाड़ी बख्तरबंद जैसी दिखती है, वहीं ये बुलेट प्रूफ भी है. सेना के लिए इस तरह की गाड़ियां बनाने के लिए महिंद्रा की एक अलग यूनिट काम करती है. इस गाड़ी में लैंड माइन से हुए विस्फोट को झेलने की क्षमता है. युद्ध क्षेत्र में 6 से ज्यादा सिपाहियों को ले जाने में इसका इस्तेमाल होता है. वहीं इसमें मशीन फिट करने के माउंट और नाइट विजन जैसे कई अनोखे फीचर्स हैं.

इस्तेमाल हो चुकी हैं ये गाड़ियां भी
  • 7/7

इस्तेमाल हो चुकी हैं ये गाड़ियां भी
भारतीय सेना समय-समय पर अपने गाड़ियों के बेड़े में बदलाव करती रहती है. सेना के बेड़े में Tata Sumo, Tata Safari Storme, Mahindra Bolero जैसी गाड़ियों भी शामिल होती रही हैं. हालांकि ये सभी गाड़ियां आम गाड़ियों से अलग और मॉडिफाइड करने के बाद ही सेना के काम आती हैं.