scorecardresearch
 

पर्यावरण के लिए ऐतिहासिक कदम उठा रहा भारत, संयुक्त राष्ट्र ने की तारीफ

एंटेनियो गुटरेस ने कहा कि सोलर के क्षेत्र में भारत ने निवेश बढ़ाया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में भारत क्लीन इंडिया कैंपेन चलाकर बड़ा कदम उठा रहा है, जिसका असर काफी बड़ा है.

UN ने की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कदमों की तारीफ UN ने की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कदमों की तारीफ

  • संयुक्त राष्ट्र ने की भारत की तारीफ
  • पर्यावरण के क्षेत्र में काम की तारीफ
  • सोलर ऊर्जा के क्षेत्र में भी उठाए कदम
पर्यावरण को बचाने के लिए भारत ने अभी तक जो भी कदम उठाए हैं, उनकी संयुक्त राष्ट्र ने जमकर तारीफ की है. संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटेनियो गुटरेस का कहना है कि क्लाइमेट चेंज से मुकाबले में भारत एक महत्वपूर्ण रोल अदा कर रहा है, साथ ही अन्य देशों को दिशा भी दे रहा है. UN चीफ का कहना है कि भारत ने सोलर एनर्जी के क्षेत्र में ऐतिहासिक कदम उठाए हैं.

एंटेनियो गुटरेस ने कहा कि सोलर के क्षेत्र में भारत ने निवेश बढ़ाया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में भारत क्लीन इंडिया कैंपेन चलाकर बड़ा कदम उठा रहा है, जिसका असर काफी बड़ा है. संयुक्त राष्ट्र में इस बार क्लाइमेट चेंज के ऊपर भी एक सेशन किया जाएगा, जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बोलना है.

दरअसल, संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में अब हरित ऊर्जा का इस्तेमाल किया जाएगा. भारत द्वारा संयुक्त राष्ट्र को उपहार में दिया गया गांधी सोलर पार्क 24 सितंबर को काम करने लगेगा, यह जलवायु परिवर्तन से लड़ने की भारत की प्रतिबद्धता का प्रतीक है.

लगभग 10 लाख डॉलर लागत से लगाए गए 193 सौर पैनलों से 50 किलोवाट बिजली पैदा होगी. संयुक्त राष्ट्र में कुल 193 सदस्य देश हैं, और प्रत्येक सोलर पैनल प्रत्येक सदस्य राष्ट्र का प्रतिनिधित्व करेगा.

भारत 150 पेड़ों से बने गांधी पीस गार्डन का भी दान कर रहा है, जो ओल्ड वेस्टबरी के एक विश्वविद्यालय परिसर में एक अन्य पर्यावरणीय उपहार के रूप में लगाया जाएगा. गांधी जयंती मनाने के लिए संयुक्त राष्ट्र मंगलवार को एक विशेष डाक टिकट भी जारी करेगा.

आपको बता दें कि सौर ऊर्जा के क्षेत्र में भारत ने कई बड़े कदम उठाए हैं. 2016 में बने वैश्विक सौर ऊर्जा ग्रुप की शुरुआत भी भारत ने ही की थी, जिसमें 100 से अधिक देश शामिल हैं. केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने देश में स्वच्छ भारत, सिंगल यूज़ प्लास्टिक पर पाबंदी, शौचालय निर्माण जैसे कई प्रोग्राम शुरू किए हैं. इसके साथ ही सौर ऊर्जा, न्यूक्लियर ऊर्जा के क्षेत्र में भी बड़े फैसले लिए गए हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें