scorecardresearch
 

ताइवान के विदेश मंत्री की दो टूक- हमें किसका स्वागत करना है चीन न बताए

नैंसी पेलोसी की ताइवान यात्रा के बाद चीन भड़का हुआ है. वह ताइवान के आसपास लगातार फायर ड्रिल कर रहा है. वहीं ताइवन के विदेश मंत्री जोसेफ वू ने कहा कि चीन हमें डराने की कोशिश कर रहा है, लेकिन वो यह जान ले कि हम डरे हुए नहीं है. वू ने कहा कि हम किसका स्वागत करें किसका नहीं, ये बात हमें चीन नहीं बताएगा. उन्होंने कहा कि हमें अब ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत है.

X
शी जिनपिंग और जोसेफ वू (फाइल फोटो) शी जिनपिंग और जोसेफ वू (फाइल फोटो)

US की हाउस स्पीकर नैंसी पेलोसी ने हाल ही में ताइवान की यात्रा की थी. उनकी यात्रा के बाद से ही चीन भड़का हुआ है. चीन ने ताइवान को चारों तरफ से न सिर्फ घेर लिया है, बल्कि लाइव फायर ड्रिल भी कर रहा है. मिसाइलें दाग रहा है. इसी बीच ताइवान के विदेश मंत्री ने चीन को साफ तौर पर कड़े शब्दों में कहा है कि चीन हमें यह यह निर्देश नहीं दे सकता है कि ताइवान को किसका स्वागत करना चाहिए और किसका नहीं .

ताइवान के विदेश मंत्री जोसेफ वू ने कहा कि हमें चीन से खतरा पहले की अपेक्षा बहुत ज्यादा बढ़ गया है. लेकिन फिर भी हम अपनी स्वतंत्रता और लोकतंत्र की रक्षा के लिए दृढ़ रहेंगे. वू ने कहा कि चीन हमेशा से ताइवान को धमकी देता रहा है और पिछले कुछ सालों में यह और बढ़ गया है. उन्होंने कहा कि चाहे यूएस की स्पीकर नैंसी पेलोसी ताइवान का दौरा करें या नहीं, ताइवान के खिलाफ चीनी सैन्य खतरा हमेशा से रहा है. यह एक ऐसा संकट है जिससे हमें निपटने की सख्त जरूरत है.

'चीन हमें निर्देश नहीं दे सकता'
 

विदेश मंत्री जोसेफ वू ने कहा कि चीन किसी भी हालत में ताइवान को यह निर्देश नहीं दे सकता है कि हम किसका वेलकम करें और किसका नहीं. दरअसल, ताइवान ने पिछले हफ्ते यूएस हाउस स्पीकर नैन्सी पेलोसी के नेतृत्व में अमेरिकी कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल की यात्रा का स्वागत किया और कहा कि यह यात्रा एक बार फिर ताइवान के लिए ठोस अमेरिकी प्रतिबद्धता पर जोर देती है.

चीन लगातार लाइव फायर ड्रिल कर रहा
 

नैंसी पेलोसी की 2 दशकों में ताइवान की पहली यात्रा भी थी. पेलोसी की यात्रा के मद्देनजर चीन ने ताइवान के पास कई सैन्य अभ्यास करना शुरू कर दिया था. पिछले कुछ दिनों में ताइवान के आसपास 100 से अधिक चीनी फाइटर जेट और 10 युद्धपोतों ने लाइव-फायर ड्रिल की थी. ताइवान के आसपास कई चीनी विमानों और जहाजों को देखा गया है. हाल ही में ताइवान ने कहा था कि चीन लगातार मुख्य द्वीप पर हमले कर रहा है.
 
'चीन हमें डराने की कोशिश कर रहा'
 

जोसेफ वू कहते हैं कि उन्हें चिंता है कि चीन वास्तव में ताइवान के खिलाफ युद्ध छेड़ सकता है. लेकिन वह हमें डराने की कोशिश कर रहा है और इससे निपटने का सबसे अच्छा तरीका ये है कि हमें भी चीन को बताना होगा कि हम डरे हुए नहीं हैं.

'हमारी आजादी कोई नहीं छीन सकता'
 

चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) ने ताइवान के आसपास के कम से कम 6 क्षेत्रों में संयुक्त अभ्यास करना शुरू किया, जो कि रविवार को समाप्त होने वाला था. लेकिन चीनी सेना ने सोमवार को कहा कि वह ताइवान के पास अभ्यास जारी रखेगाी. इस पर प्रतिक्रिया देते हुए ताइवान के विदेश मंत्री वू ने कहा कि चीन को यकीन नहीं है कि उन्होंने  ताइवान को हड़पने के लिए बल का प्रयोग करने का मन बना लिया है. विदेश मंत्री जोसेफ वू ने कहा कि हमारे लिए महत्वपूर्ण बात यह है कि हमें हर हाल में तैयार रहने की जरूरत है. हम उस स्वतंत्रता और लोकतंत्र की रक्षा करना चाहते हैं, जिसका हम यहां आनंद लेते हैं और इसे कोई भी हमसे छीन नहीं सकता.

ये भी देखें
 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें