scorecardresearch
 

NATO देशों को रूस की सीधी धमकी, यूक्रेन को हथियार भेजे तो उड़ा देंगे वाहन

रूस की तरफ से नेटो देशों को एक बार फिर धमकी दी गई है. साफ कर दिया गया है कि अगर यूक्रेन की हथियारों के जरिए मदद की जाएगी तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी.

X
रूस राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन रूस राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन
स्टोरी हाइलाइट्स
  • नेटो देश लगातार यूक्रेन को दे रहे हथियार
  • एक्सपर्ट को चिंता- रूस कर सकता नेटो पर हमला

रूस और यूक्रेन के बीच जारी युद्ध दो महीने से भी ज्यादा लंबा हो चुका है. स्थिति इतनी विस्फोटक है कि अभी भी रूस की तरफ से ताबड़तोड़ हमले जारी हैं, यूक्रेन भी सरेंडर के मूड में नहीं है और लगातार जवाबी कार्रवाई हो रही है. ऐसे में जमीन पर तनाव बढ़ता जा रहा है. अब इस बीच रूस की तरफ से एक बार फिर नेटो देशों को धमकी दी गई है.

रूस के रक्षा मंत्री Sergei Shoigu ने कहा है कि अगर नेटो देशों द्वारा यूक्रेन को कोई भी हथियार सप्लाई किया गया तो अब हमला सीधे उन वाहनों पर होगा जिनमें ये हथियार ले जाए जा रहे होंगे. ये कोई पहली बार नहीं है जब रूस की तरफ से नेटो को चेतावनी दी गई हो. इससे पहले भी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन द्वारा नेटो को इस युद्ध से दूर रहने की नसीहत दी गई है. दूसरे कई नेता भी इस बात पर चिंता जाहिर कर चुके हैं कि रूस कभी भी नेटो पर हमला कर सकता है.

ऐसे में उन तमाम धमकियों के बीच अब रूस के रक्षा मंत्री ने फिर नेटो को ही सावधान कर दिया है. इस धमकी पर किसी भी नेटो देश ने अभी तक प्रतिक्रिया नहीं दी है. लेकिन पहले कई मौकों पर साफ कहा गया है कि यूक्रेन की मदद लगातार की जाएगी. इस समय डेनमार्क, जर्मनी जैसे देश यूक्रेन को हथियार से लेकर दूसरे जरूरी संसाधन भेज रहे हैं.

वैसे इन धमकियों के बीच रूस में राजनीतिक हलचल काफी तेज हो गई है. ऐसी खबरे हैं कि कुछ दिनों के लिए व्लादिमीर पुतिन राष्ट्रपति की कुर्सी छोड़ सकते हैं. उनकी जगह सुरक्षा परिषद के सचिव निकोलाई पैट्रुशेव ये जिम्मेदारी संभाल सकते हैं.  निकोलाई पैट्रुशेव वहीं हैं जिन पर पुतिन सबसे ज्यादा भरोसा जताते हैं. विदेशी मीडिया के मुताबिक पैट्रुशेव को इस बारे में पहले ही सबकुछ बताया जा चुका है. उन्हें कहा गया है कि अगर पुतिन कुछ दिनों के लिए राष्ट्रपति पद छोड़ते हैं तो उन्हें ही देश की बागडोर संभालनी होगी.

इसको लेकर कोई औपचारिक ऐलान नहीं किया गया है, लेकिन पुतिन की तबीयत की वजह से अटकलों का बाजार गर्म है. ऐसा कहा जा रहा है कि व्लादिमीर पुतिन को अपने कैंसर का इलाज करवाना है. इसके लिए उन्हें एक ऑपरेशन करवाना पड़ेगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें