scorecardresearch
 

भारत में ट्विटर हैंडल ब्लॉक हुए तो बौखलाया PAK, शीर्ष भारतीय राजनयिक को तलब किया

भारत में पाकिस्तान के दूतावासों के ट्विटर अकाउंट को बंद कर दिया गया है. आरोप है कि इन ट्विटर हैंडल से भारत के खिलाफ झूठी खबरें और दुष्प्रचार किया जा रहा था. पाकिस्तान के तुर्की, संयुक्त राष्ट्र, ईरान और मिस्त्र स्थित दूतावासों के अकाउंट को ब्लॉक किया गया है.

X
पाकिस्तान की शहबाज शरीफ सरकार ने भारतीय राजनयिक को तलब किया है. पाकिस्तान की शहबाज शरीफ सरकार ने भारतीय राजनयिक को तलब किया है.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • भारत में कुछ पाकिस्तानी ट्विटर हैंडल ब्लॉक किए गए
  • पाकिस्तान ने कहा- ये कार्रवाई पूरी तरह गलत है

भारत में हाल ही में दूतावास के ट्विटर अकाउंट ब्लॉक कर दिए जाने से पाकिस्तान बौखला गया है और उसने शुक्रवार को इस्लामाबाद में भारत के शीर्ष राजनयिक को तलब कर लिया. इसके साथ ही पाकिस्तान ने भारत के सामने कड़ा विरोध जताया है. पाकिस्तान ने यहां तक कह दिया है कि अभिव्यक्ति की आजादी को रोकने की कोशिश की जा रही है.

बताते चलें कि भारत में पाकिस्तान के दूतावासों के ट्विटर अकाउंट को बंद कर दिया गया है. आरोप है कि इन ट्विटर हैंडल से भारत के खिलाफ झूठी खबरें और दुष्प्रचार किया जा रहा था. पाकिस्तान के तुर्की, संयुक्त राष्ट्र, ईरान और मिस्त्र स्थित दूतावासों के अकाउंट को ब्लॉक किया गया है. बताया जा रहा है कि अन्य ट्विटर अकाउंट पर भी इस तरह की कार्रवाई हो सकती है. पाकिस्तान ने ट्विटर से इन अकाउंट्स की बहाली की मांग की है.

भारतीय राजनयिक को तलब कर विरोध जताया
इस घटनाक्रम से पाकिस्तान नाराज हो गया है और उसने भारत के खिलाफ गुस्सा निकाला है. शुक्रवार को पाकिस्तान ने इस्लामाबाद में भारतीय प्रभारी डी' अफेयर (Cd’A) सुरेश कुमार को तलब कर लिया और विरोध दर्ज कराया. पाकिस्तान ने एक बयान में कहा कि इस्लामाबाद में भारतीय प्रभारी डी' अफेयर्स (Cd'A) को आज विदेश मंत्रालय में बुलाया गया था और भारत सरकार द्वारा पाकिस्तान के राजनयिक मिशन के अकाउंट समेत ट्विटर पर 80 खातों पर बैन लगाने का विरोध किया गया है. 

सूचना प्रवाह के खिलाफ की गई कार्रवाई: पाकिस्तान
पाकिस्तान ने कहा कि हमारे ईरान, तुर्की, मिस्र, संयुक्त राष्ट्र और रेडियो पाकिस्तान के अकाउंट पर सेंसरशिप लगाया गया है. पाकिस्तान ने भारत पर आरोप लगाया कि ये हमारी आवाज पर अंकुश लगाने की कोशिश है. पाकिस्तान विदेश मंत्रालय ने कहा- Cd’A को बताया गया कि ये भारतीय कार्रवाई अंतरराष्ट्रीय मानकों, दायित्वों, मानदंडों और सूचना के प्रवाह के ढांचे के खिलाफ है और भारत में मौलिक स्वतंत्रता पर अंकुश लगाने का प्रयास है.

अंतरराष्ट्रीय मानकों का पालन करना चाहिए
भारत सरकार से पाकिस्तान के राजनयिक ट्विटर अकाउंट्स से तुरंत बैन हटवाने की अपील की गई है. भारत के इस कदम को 'अवैध' और 'सूचना तक पहुंच के अधिकारों और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के खिलाफ बताया गया है. पाकिस्तान ने कहा कि भारत को अंतरराष्ट्रीय मानकों का भी पालन करना चाहिए और मौलिक स्वतंत्रता और असहमति के सम्मान की सुरक्षा भी सुनिश्चित करनी चाहिए.

भारत में पाकिस्तान के 6 चैनल और 16 यूट्यूब चैनल पर बैन
बता दें कि हाल ही में भारतीय सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने भारत की राष्ट्रीय सुरक्षा, विदेशी संबंधों और सार्वजनिक व्यवस्था से संबंधित दुष्प्रचार फैलाने के लिए पाकिस्तान स्थित 6 चैनलों समेत 16 YouTube समाचार चैनलों को ब्लॉक कर दिया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें