scorecardresearch
 

UNGA में भाषण से चर्चा में इमरान, लीबिया के तानाशाह के बाद किया ऐसा काम

दुनिया के सबसे बड़े मंच से जिस तरह उन्होंने जेहाद की धमकी दी और परमाणु युद्ध की बात की, उसने पूरे विश्व को चौंका दिया था. अब इसी भाषण से इमरान खान ने एक नया रिकॉर्ड बनाया है, जिसकी वजह से उनकी तुलना लीबिया के तानाशाह रहे कर्नल गद्दाफी से होने लगी है.

इमरान खान ने संयुक्त राष्ट्र में दिया सबसे बड़ा भाषण इमरान खान ने संयुक्त राष्ट्र में दिया सबसे बड़ा भाषण

  • संयुक्त राष्ट्र महासभा के आंकड़े आए सामने
  • इमरान खान ने दिया सबसे बड़ा भाषण
  • 2009 में कर्नल गद्दाफी ने दिया था 96 मिनट का भाषण

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के द्वारा संयुक्त राष्ट्र महासभा में दिया गया भाषण अभी तक चर्चा का विषय बना हुआ है. दुनिया के सबसे बड़े मंच से जिस तरह उन्होंने जेहाद की धमकी दी और परमाणु युद्ध की बात की, उसने पूरे विश्व को चौंका दिया था. अब इसी भाषण से इमरान खान ने एक नया रिकॉर्ड बनाया है, जिसकी वजह से उनकी तुलना लीबिया के तानाशाह रहे कर्नल गद्दाफी से होने लगी है.

दरअसल, संयुक्त राष्ट्र के द्वारा इस बार की UNGA के आंकड़े साझा किए गए हैं. इनमें बताया गया है कि इस बार का सबसे लंबा भाषण पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के द्वारा दिया गया है. इमरान खान ने UN में कुल 50 मिनट का भाषण दिया था, जो कि एक रिकॉर्ड ही है. जबकि रवांडा की ओर से सबसे छोटा भाषण दिया गया, जो कि सिर्फ 7 मिनट का था.

ca7ceb99-30c7-4120-9935-838523a72a19_101819101751.jpg

अगर कर्नल गद्दाफी की बात करें तो उन्होंने 2009 में 96 मिनट का भाषण किया था. 23 सितंबर, 2009 को कर्नल गद्दाफी ने 64वीं संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित किया था. हालांकि, ये सबसे बड़ा भाषण नहीं है. संयुक्त राष्ट्र में सबसे बड़ा भाषण जेनुआ के राष्ट्रपति रहे सिकोयू तोरू के नाम है. 1960 में उन्होंने 144 मिनट लंबा भाषण दिया था.

संयुक्त राष्ट्र में इस बार भाषण देने वालों में पुरुष राष्ट्राध्यक्ष आगे रहे, करीब 91 फीसदी पुरुष और 9 फीसदी महिला राष्ट्रप्रमुखों ने इस बार संयुक्त राष्ट्र की महासभा को संबोधित किया था.

पीएम मोदी ने दिया था बुद्ध का संदेश

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी इस बार संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित किया. करीब 17 मिनट के अपने भाषण में पीएम मोदी ने दुनिया को शांति का संदेश दिया, पीएम ने कहा था कि भारत ने दुनिया को युद्ध नहीं बल्कि बुद्ध का संदेश दिया और हमेशा शांति की राह पर चला है. प्रधानमंत्री का भाषण भले ही छोटा रहा हो, लेकिन उनकी शब्दों की हर किसी ने तारीफ की थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें