scorecardresearch
 

उड़ानें रद्द, कई ने बदला रूट; चीन के युद्धाभ्यास से दुनिया भर में टेंशन; अमेरिका ने फिर दी चेतावनी

चीनी सेनाएं ताइवान की सीमा से सिर्फ 9 समुद्री मील की दूरी पर सैन्य अभ्यास कर रही हैं. इस युद्धाभ्यास में कई युद्धपोत, फाइटर जेट हिस्सा ले रहे हैं. इतना ही नहीं चीन ने ताइवान की ओर कई मिसाइलों को भी दागा. चीन ताइवान के चारों तरफ 6 जगहों से हवा और समुद्र में अभ्‍यास कर रहा है. चीन की दागी गईं कई मिसाइलें जापान की सीमा में भी गिरीं.

X
चीन ने ताइवान पर दागीं मिसाइलें
चीन ने ताइवान पर दागीं मिसाइलें

अमेरिकी स्पीकर नैंसी पेलोसी की ताइवान यात्रा को लेकर चीन आगबबूला है. चीन ने गुरुवार को इस यात्रा के विरोध में युद्धाभ्यास के दौरान ताइवान की सीमा के पास मिसाइल भी दागी. यह पहला मौका है, जब चीन ने ताइवान की ओर मिसाइल दागी. उधर, कुछ एयरलाइन्स ने ताइपे जाने वाली अपनी फ्लाइट को कैंसल कर दिया. जबकि चीन के युद्धाभ्यास को देखते हुए कई दूसरे एयरस्पेस का इस्तेमाल कर रहे हैं. 

चीनी सेनाएं ताइवान की सीमा से सिर्फ 9 समुद्री मील की दूरी पर सैन्य अभ्यास कर रही हैं. इस युद्धाभ्यास में कई युद्धपोत, फाइटर जेट हिस्सा ले रहे हैं. इतना ही नहीं चीन ने ताइवान की ओर कई मिसाइलों को भी दागा. चीन ताइवान के चारों तरफ 6 जगहों से हवा और समुद्र में अभ्‍यास कर रहा है. चीन की दागी गईं कई मिसाइलें जापान की सीमा में भी गिरीं.  

इन फ्लाइटों पर पड़ा असर

इस युद्धाभ्यास के चलते साउथ ईस्ट एशिया से नॉर्थ ईस्ट जाने वाली फ्लाइटों पर असर पड़ा है. कोरियन एयर लाइन ने कहा है कि उसने सियोल और ताइपे के बीच चलने वाली फ्लाइटों को रद्द कर दिया है. सिंगापुर एयरलाइन ने भी सिंगापुर से ताइपे जाने वाली फ्लाइटों को रद्द कर दिया. हालांकि, जापान और हॉन्गकॉन्ग की फ्लाइट ताइपे जा रही हैं, लेकिन वे इस हवाई क्षेत्र का इस्तेमाल नहीं कर रही हैं. 

चीनी सेना ने रविवार को दोपहर तक चलने वाले युद्धाभ्यास के दौरान ताइवान की समुद्री सीमा में मिसाइलें दागने की पुष्टि की है. इतना ही नहीं चीन के इस युद्धाभ्यास में 100 से ज्यादा विमान, 10 युद्धपोत भी हिस्सा ले रहे हैं. 

ताइवान के रक्षा मंत्रालय ने कहा कि इसने 22 चीनी लड़ाकू विमान ताइवान के क्षेत्र में घुस आए थे. लेकिन पहले से अलर्ट ताइवानी लड़ाकू विमानों ने चेतावनी देकर खदेड़ दिया. इतना ही नहीं ताइवान के सैनिकों ने गुरुवार को किनमेन द्वीप पर उड़ रहे चीन के चार ड्रोनों को भी खदेड़ दिया. ताइवान की ओर से कहा गया कि चीन द्वारा दागी गई मिसाइलें ऊंची थीं, इनसे कोई खतरा नहीं हुआ. 
 
अमेरिका ने चीन को चेताया

अमेरिका ने युद्धाभ्यास को लेकर चीन को एक बार फिर चेताया है. अमेरिका के विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने कहा, उम्मीद है कि चीन नया संकट पैदा नहीं करेगा. अमेरिकी विदेश मंत्री ने कहा, अमेरिका ताइवान में शांति और स्थिरता का पक्षधर है और यथास्थिति को बदलने के किसी भी एकतरफा प्रयासों का विरोध करता है. खासकर बल का इस्तेमाल करके. ब्लिंकन ने कहा, हम चीन की वन पॉलिसी का भी समर्थन करते हैं, साथ ही ताइवान रिलेशन एक्ट को लेकर प्रतिबद्ध भी हैं. 

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें