scorecardresearch
 

China कौन सी मिसाइल दाग रहा है ताइवान की ओर... जानिए उसकी ताकत और रेंज

China's DF-15 Missile: चीन का युद्धाभ्यास अभी दो दिन और चलेगा. चीन अपने रॉकेट फोर्स से लगातार कम दूरी की मिसाइल ताइवान की ओर दाग रहा है. ये एक बैलिस्टिक मिसाइल है, जो पारंपरिक और परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम है. आइए समझते हैं इस मिसाइल की ताकत और रेंज को.

X
ये है चीन की रॉकेट फोर्स का DF-15 Short Range Ballistic Missile. (फोटोः PLARF) ये है चीन की रॉकेट फोर्स का DF-15 Short Range Ballistic Missile. (फोटोः PLARF)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • युद्धाभ्यास में ताइवान के चारों तरफ इसे ही दागा
  • परमाणु और पारंपरिक हथियार ले जा सकता है

चीन और ताइवान में लगातार तनाव बना हुआ है. चीन का युद्धाभ्यास अभी दो दिन और चलेगा. अमेरिका ने अपना परमाणु युद्धपोत ताइवान के पास तैनात कर दिया है. लेकिन चीन लगातार अपने रॉकेट फोर्स (Rocket Force) की मिसाइलों को ताइवान के आसपास दाग रहा है. इसमें सबसे ज्यादा जो मिसाइल दागी गई हैं, वो है- डॉन्ग-फेंग 15 (Dong-Feng 15 or DF-15). 

चीन की Rocket Force के पास 1000 से ज्यादा है ये मिसाइल. (फोटोः विकिपीडिया)
चीन की Rocket Force के पास 1000 से ज्यादा है ये मिसाइल. (फोटोः विकिपीडिया)

DF-15 कम दूरी की बैलिस्टिक मिसाइल हैं. जो चीन की रॉकेट फोर्स में 1990 से लगातार तैनात है. इस मिसाइल को ट्रक से लॉन्च किया जाता है. इसका वजन 6200 किलोग्राम है. लंबाई 9.1 मीटर और व्यास 1 मीटर है. इसके ऊपर 50 से 350 किलोग्राम वजन का पारंपरिक या परमाणु हथियार लगाकर दागा जा सकता है. 

DF-15 Short Range Ballistic Missile सिंगल स्टेज के सॉलिड ईंधन पर चलता है. इसके चार वैरिएंट्स हैं. पहला DF-15 जो 600 किलोमीटर की रेंज तक जाता है. दूसरा DF-15A मिसाइल जो 900KM, तीसरा 800 KM वाला DF-15B मिसाइल और चौथा है 700 किलोमीटर वाला DF-15C मिसाइल. इस मिसाइल की खासियत ये है कि इसकी सटीकता की रेंज 10 मीटर है. यानी टारगेट अगर मिसाइल आने की खबर सुनकर भागने की कोशिश करता है तो 10 मीटर के दायरे मौत पक्की है. उसके बाद गंभीर रूप से घायल हो सकता है. 

DF-15 Short Range Ballistic Missile नई दिल्ली तक पहुंचने की क्षमता रखती है. (फोटोः रॉयटर्स)
DF-15 Short Range Ballistic Missile नई दिल्ली तक पहुंचने की क्षमता रखती है. (फोटोः रॉयटर्स)

DF-15 मिसाइल को बनाने की अनुमति 1987 में बनी थी. इसके बाद इसके कई परीक्षण गोबी रेगिस्तान में किए गए. फिलहाल रॉकेट फोर्स के पास इस सीरीज के 1000 से ज्यादा मिसाइल मौजूद हैं. ताइवान पर हमला करने के लिए ये मिसाइल चीन के लिए सबसे उपयुक्त है. यह 600 किलोमीटर तक 500-750 किलोग्राम वजन का हथियार ले जा सकता है. लेकिन एक्यूरेसी 300 मीटर से बिगड़ सकती है. 

चीन ने DF-15 मिसाइल को इसलिए बनाया था कि वो इससे ताइवान की राजधानी ताइपे में बने हेंग शान मिलिट्री कमांड सेंटर को उड़ा सके. हालांकि यह सेंटर 20 किलोटन परमाणु ब्लास्ट या 2 किलोटन पारंपरिक ब्लास्ट को बर्दाश्त करने की क्षमता रखता है. हालांकि इस मिसाइल से होने वाले विस्फोट से 90 किलोटन ऊर्जा निकलती है. जो इस सेंटर को बर्बाद कर सकती है. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें