scorecardresearch
 

काबुल में अफगान मूल के भारतीय कारोबारी का अपहरण, सहयोगी ने भागकर बचाई जान

अफगानिस्तान में अफगान मूल के भारतीय नागरिक का अपहरण कर लिया गया है. 50 साल के बंसरी लाल की काबुल में दवा उत्पादन की दुकान है. उन्हें दुकान के पास से ही बंदूक की नोक पर अगवा कर लिया गया है.

तालिबान अपने विरोधियों को निशाना बना रहा है. (फाइल फोटो- AP/PTI) तालिबान अपने विरोधियों को निशाना बना रहा है. (फाइल फोटो- AP/PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • अफगान मूल के सिख नागरिक का अपहरण
  • काबुल में फार्मा की दुकान चलाते हैं बंसरी
  • भारतीय विदेश मंत्रालय से सहयोग की अपील

अफगानिस्तान (Afghanistan) से भारतीय कारोबारी की अपहरण की खबर आई है. बताया जा रहा है कि अफगान मूल के भारतीय नागरिक का अपहरण कर लिया गया है.  

इंडियन वर्ल्ड फोरम के अध्यक्ष पुनीत सिंह चंढोक ने बताया कि काबुल (Kabul) में अफगान मूल के एक भारतीय कारोबारी का बंदूक की नोक पर अपहरण कर लिया है. उनका नाम बंसरी लाल अरेन्देही है. बंसरी सिख समुदाय के हैं. 

हालांकि, अब तक ये बात साफ नहीं हो पाई है कि किसने उनका अपहरण किया है. लेकिन ऐसा माना जा रहा है कि तालिबानी लड़ाकों ने ही उनको अगवा किया होगा. 

उन्होंने बताया कि 50 साल के बंसरी की काबुल में दवा उत्पादन की दुकान है. उन्हें मंगलवार सुबह 8 बजे उनकी दुकान के पास से अगवा कर लिया गया.बंसरी के साथ उनके स्टाफ के लोगों को भी किडनैप कर लिया था, लेकिन वो लोग किसी तरह किडनैपर्स के चंगुल से बचकर भाग निकले. स्टाफ को बुरी तरह पीटा गया था.

पुनीत सिंह ने बताया कि बंसरी का परिवार दिल्ली-एनसीआर में रहता है. स्थानीय जांच एजेंसियों ने उनके अगवा होने का केस दर्ज कर लिया है और उनकी तलाश की जा रही है.

उन्होंने बताया कि भारतीय विदेश मंत्रालय को इस बात की जानकारी दे दी गई है और सरकार से इस मामले में तुरंत हस्तक्षेप और सहयोग करने की अपील की है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें