scorecardresearch
 

प्रदोष व्रत

प्रदोष व्रत

प्रदोष व्रत

प्रदोष व्रत

प्रदोष व्रत (Pradosh Vrat) को हिंदू धर्म में मंगलकारी और शिव पार्वती की कृपा प्राप्त करने वाला व्रत माना गया है. हर महीने की त्रयोदशी को शाम के समय को प्रदोष काल कहा गया है. अपना और अपने परिवार के कल्याण के लिए लोग यह व्रत रखते हैं. ऐसा माना जात है कि प्रदोष व्रत को करने से हर प्रकार का दोष मिट जाता है.

पुराणों के अनुसार प्रदोष के समय महादेव कैलाश पर्वत पर प्रसन्न मुद्रा में नृत्य करते हैं और देवता उनके गुणों का पाठ करते हैं. सप्ताह के सातों दिन के प्रदोष व्रत का अपना विशेष महत्व है. प्रदोष व्रत के दौरान पूरे दिन लोग निराहार रहकर व्रत करते हैं, लेकिन सामर्थ्य अनुसार या तो कुछ न खाये या फल ले सकते हैं. इस व्रत में अन्न पूरे दिन नहीं खाना होता है.शिव पार्वती का ध्यान करके पूजा करने से काफी लाभ होता है.... और पढ़ें

प्रदोष व्रत न्यूज़