scorecardresearch
 

Kanwar Yatra पर रोक, फिर Kerala में बकरीद पर बाजार खोलने की इजाजत क्यों?

Kanwar Yatra पर रोक, फिर Kerala में बकरीद पर बाजार खोलने की इजाजत क्यों?

कोरोना की तीसरी लहर का खतरा मंडरा रहा है. कोरोना की तीसरी लहर को रोकने के लिए सुप्रीम कोर्ट तक ने कांवड यात्रा पर रोक की बात की और यह आवश्यक भी था. जान है तो जहान है. राईट टू लाईफ ओवर राईट टू रिलीजन की बात की गई. लेकिन यही सब कारण क्या केरल में भी लागू नही होते? वो भी तब जब केरल में करोना के मामले तेज़ी से बढ रहे हैं. कोरोना की रोकथाम के लिए उत्तर प्रदेश हो या उत्तराखंड कांवड़ यात्रा रोक दी गई थी लेकिन केरल में बकरीद के लिए क्या किया जाए मामला कल फिर सुप्रीम कोर्ट में आएगा. लेकिन क्या स्वास्थ्य के साथ राजनीति हो रही है. विपक्ष तो पिनराई विजयन सरकार पर तुष्टीकरण का आरोप भी लगा रहा है. देखिए देश का गौरव का ये एपिसोड.

The Supreme Court on Monday asked the Kerala government to file its response during the day on an application against the three-day relaxation of Covid-19 restrictions in the state in view of the upcoming Bakrid festival. The matter came up for hearing in the apex court before a bench of Justices R F Nariman and B R Gavai. Watch this report.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें