scorecardresearch
 

देश का गौरव

देश का गौरव: पाक की गिलगित बाल्टिस्तान पर कब्जे की साजिश

25 सितंबर 2020

कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद इमरान खान छाती पीट रहे हैं. उन्हें यहां जुल्म नजर आ रहा है. लेकिन इमरान खान और उनकी सरकार को कश्मीर से कितना प्यार है इसका सबूत आज हम आपको दिखाने जा रहे हैं. भारत की बढ़ती ताकत और एक्शन से डरे इमरान और उनके जनरल बाजवा पाक के कब्जे वाले कश्मीर के एक हिस्से गिलगित बाल्टिस्तान को जबरन कब्जाने की साजिश रच रहे हैं. उन्हें डर है कहीं भारत अपने हिस्से को उनसे छीन न ले. लिहाजा वो POK के लोगों की आवाज दबाने के लिए जुल्म की भी इंतेहा कर रहे हैं. लेकिन गिलगित बाल्टिस्तान पर इमरान और बाजवा अपने ही लोगों के निशाने पर हैं और इसके बाद भी उन्होंने कोई भी जुर्रत की तो हिंदुस्तान एक्शन से चूकेगा नहीं. देखिए ये रिपोर्ट.

बातचीत के बीच चीन की साजिश, डोकलाम के पास तैनात की मिलाइलें

24 सितंबर 2020

लद्दाख में चीनी सेना की हार से बौखलाया चीन भारत के खिलाफ बड़ी साजिश रच रहा है. एक तरफ वो बातचीत कर रहा है तो दूसरी तरफ युद्ध की बड़ी तैयारी. वो भी अकेले नहीं. बल्कि पाकिस्तान के साथ मिलकर वो दो दो फ्रंट पर भारत को चुनौती देने की तैयारी कर रहा है. भारत के साथ बातचीत के बीच वो एलएसी पर युद्ध का हर वो साजोसामान पहुंचा रहा है. जो युद्ध जैसी तैयारी का इशारा कर रहे हैं. आज चीन की इसी साजिश का पूरा सच आपको दिखाएंगे. बताएंगे कैसे कैसे चीन दिन में बात कर रहा है और पीठ पीछे पाकिस्तान के साथ मिलकर बड़े आघात की तैयारी कर रहा है. देखें

देश का गौरव: LAC पर वायुसेना की दहाड़ से क्यों कांप रहा चीन?

23 सितंबर 2020

चीन को सबक सिखाने के लिए हमारी सेना से लेकर वायुसेना तक सब पूरी तरह तैयार हैं. LAC पर चीन की हर चालबाजी को नाकाम करने के लिए मुस्तैद हैं. राफेल के साथ सुखोई और मिग 29 विमानों ने लद्दाख के आसमान में दहाड़ रहे हैं. हर चुनौती से निपटने के लिए सेना और वायुसेना दोनों अभ्यास कर रही हैं और इसके असर से ड्रैगन कांप रहा है.

बातचीत के साथ सरहद पार सैन्य जमावड़ा भी, आखिर चीन क्या चाहता है?

23 सितंबर 2020

लद्दाख में एलएसी पर तनाव इस वक्त चरम पर हैं. सोमवार को चीन के साथ 13 घंटे की मैराथन बैठक बेनतीजा रहने के बाद अब हिंदुस्तान ने अपनी तैयारी तेज कर दी है. क्योंकि बातचीत के बीच चीन एलएसी के उस पार अपने सैन्य साजोसामान में तेजी से बढ़ोत्तरी कर रहा है. यानि चीन तनाव घटाने के बजाय फिलहाल बढ़ाता हुआ नजर आ रहा है. ऐसे में सवाल है कि आखिर चीन क्या चाहता है. अगर वो बातचीत करके तनाव कम करना चाहता है तो सरहद पार सैन्य जमावड़ा क्यों कर रहा है? मिसाइल और एंटी मिसाइल सिस्टम क्यों तैनात कर रहा है. सामने ठंड भी है. कहीं ऐसा तो नहीं कि चीन के दिल में साल 1962 जैसी कोई साजिश चल रही हो?

सीमा विवाद पर बैठक से मानेगा चीन? देखें देश का गौरव

22 सितंबर 2020

लद्दाख में जबरदस्त तनाव है. दोनों तरफ लड़ाकू विमान गरज रहे हैं. चीन तो अपनी तरफ लगातार मिलिट्री ड्रिल करने में जुटा है. दोनों तरफ सेनाएं तनी हुई हैं. तनाव के इस माहौल को कम करने के लिए एलएसी पर चीनी इलाके मोल्डो में भारत और चीन के सैन्य अधिकारियों के बीच सुबह 9 बजे से लगातार बैठक चल रही है. भारत चाहता है एलएसी पर मार्च 2020 जैसी यथास्थिति कायम हो तो दूसरी ओर चीन का अपना एजेंडा है. अब तक कई दौर की बातचीत हो चुकी है. सब बेनतीजा रही हैं. ऐसे में देखना होगा कि आज की बैठक का नतीजा क्या रहता है. क्या चीन वाकई एलएसी पर शांति चाहता है? ये बड़ा सवाल है.

LAC पर चीन की चालबाजी के नए सबूत! देखें ये रिपोर्ट

18 सितंबर 2020

चीन के साथ रक्षा मंत्री से लेकर विदेश मंत्री स्तर तक की बैठकें हो चुकी हैं. विदेश मंत्री स्तर की बैठक तो महज एक हफ्ते पहले ही हुई थी, तय हुआ था बातचीत से मसला सुलझाएंगे. लेकिन 7 दिन बीत गए और चीन है कि बातचीत की टेबल पर बैठने को तैयार नहीं. तो दूसरी तरफ एलएसी पर लद्दाख से अलग डेप्सांग और अरुणाचल में भी उसकी नई साजिशें नजर आ रही हैं. चीनी की मौजूदा हरकतें बता रही हैं कि वो शांति नहीं बल्कि उपद्रव की साजिश रच रहा है. बातचीत पर चीन की खामोशी और LAC पर उसकी हरकतों को देखते हुए आज दिल्ली में हाई लेवल मीटिंग भी हुई. जिसमें रक्षा मंत्री- विदेश मंत्री, CDS और NSA डोभाल समेत तमाम अधिकारी मौजूद रहे. ऐसे में सवाल उठ रहा है कि आखिर चीन चाहता क्या है. देखें ये रिपोर्ट.

चीन स‍े न‍िपटने सरकार की तैयारी पूरी है? देखें देश का गौरव

18 सितंबर 2020

आज रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने चीन के नापाक मंसूबों पर संसद से ताबड़तोड़ सर्जिकल स्ट्राइक किया है.. 48 घंटे में लगातार दूसरी बार रक्षामंत्री ने चीन पर डायरेक्ट अटैक किया है.. मंगलवार को लोकसभा से तो आज राज्यसभा से राजनाथ सिंह ने चीन पर जमकर निशाना साधा.. आज राजनाथ सिंह ने संसद में चीनी सेना के खिलाफ जो अटैक किया है, उसमें चीनी सेना की हर हरकत और हर साजिश के खिलाफ पुख्ता सबूत भी हैं.

ऑपरेशन स्नो लेपर्ड ने लद्दाख में पलटा पासा, निकाला चीन का दम!

16 सितंबर 2020

लद्दाख में भारत से मिले झटके से चीन सदमे में है. वो बौखलाया हुआ है. एकहां वो दबाव बनाने की कोशिश कर रहा था और कहां अब भारत ने उस पर दबाव बढा दिया है. LAC पर चीन की हरकत पर भारत ने ऐसा चक्रव्यूह रचा जिसमें फंसकर चीन बिलबिला रहा है. वो चक्रव्यूह जिसका नाम है ऑपरेशन स्नो लेपर्ड. हिंदुस्तानी सेना का वो सीक्रेट मिशन, जिसने लद्दाख में पासा पलट कर रख दिया और हेकड़ी दिखाने वाला चीन अब खुद घुटनों पर आ गया है. देखें हमारी ये खास रिपोर्ट.

संसद से राजनाथ सिंह ने दी चीन को चेतावनी, सुनें रक्षामंत्री का बयान

15 सितंबर 2020

लद्दाख में एलएसी पर हिंदुस्तानी सेना अदम्य साहस और शौर्य के साथ चीनी सेना को अपना पराक्रम दिखा रही है, उन्हें पीछे खदेड़ रही है. इसी मसले पर विपक्ष की मांग के बाद आज रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने संसद में बयान दिया. उन्होंने बताया कि किस तरह हिंदुस्तानी सेना ने पूर्वी लद्दाख,गोगरा, कोंगसा और पैंगॉन्ग के इलाकों में उभरी चीनी साजिशों को फेल कर दिया. इस खास मौके पर रक्षा मंत्री ने संसद से ही चीन को साफ चेतावनी भी दीव कि हम शांति चाहते हैं लेकिन अगर चीन नहीं माना तो बुद्ध का देश युद्ध करने में भी पीछे नहीं हटेगा. देखें ये रिपोर्ट.

लद्दाख जिनपिंग की साजिशों का फ्लॉप शो, अब चीन रच रहा नई साजिश?

14 सितंबर 2020

लद्दाख में बढ़ते तनाव पर अमेरिका में बड़ा खुलासा हुआ है. अमेरिका की प्रतिष्ठित मैग्जीन 'द वीक' के मुताबिक लद्दाख में घुसपैठ की साजिश शी जिनपिंग के दिमाग की उपज थी और जिस तरह से भारत के खिलाफ शी जिनपिंग का प्लान फेल हुआ है, उस नाकामी से बचने के लिए अब वो भारत के खिलाफ युद्ध जैसी बड़ी साजिश रच सकते हैं. क्योंकि अब बात उनकी इज्जत और कुर्सी दोनों पर आ गई है. देखें ये खास रिपोर्ट