scorecardresearch
 

चिप शॉर्टेज: Xiaomi को लगा झटका, ऐपल ने छीनी नंबर-2 की जगह

ग्लोबल चिप शॉर्टेज की वजह से शाओमी को हुआ नुकसान. नंबर-2 की जगह पर अब ऐपल का कब्जा है. शाओमी खिसक कर नंबर-3 पर आ चुकी है.

Photo for representation Photo for representation
स्टोरी हाइलाइट्स
  • शाओमी दूसरे नंबर से खिसक कर तीसरे नंबर पर आ गई है
  • ऐपल अब इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर है

चीनी स्मार्टफोन मेकर Xiaomi को ग्लोबल चिप शॉर्टेज की वजह से बड़ा झटका लगा है. इस वजह से तीसरी तिमाही में कंपनी की ग्रोथ कम हुई है और अब दूसरे नंबर ऐपल आ चुका है. 

Xiaomi दूसरे पायदान से खिसक कर तीसरे नंबर पर आ गया है. ऐसे में अब दुनिया के दूसरा सबसे बड़ा स्मार्टफोन मेकर Apple बन गया है. 

गौरतलब है कि Xiaomi ने हाल ही में अमेरिकी टेक कंपनी ऐपल को पीछे छोड़ते हुए नंबर-2 का स्पॉट हासिल किया था. लेकिन अब कंपनी तीसरे नंबर पर चली गई है. कंपनी ने इसके लिए चिपसेट शॉर्टेज को जिम्मेदार बताया है. 

टॉप स्मार्टफोन मेकर की लिस्ट में नंबर-1 पर Samsung है. स्मार्टफोन सेग्मेंट में सैमसंग का मार्केट शेयर सबसे ज्यादा है. दूसरे नंबर पर अब ऐपल है, जबकि तीसरे पर शाओमी आ चुका है. 

शाओमी ने कहा है कि इस साल ग्लोबली कॉम्पोनेंट्स की शॉर्टेज हुई है. उन्होंने कहा है कि कंपनी के लिए चिप शॉर्टेज काफी बड़ा चैलेंज है. हालांकि कंपनी ने ये भी उम्मीद जताई है कि चिप शॉर्टेज के बावजूद भी 2021 के खत्म होने तक लगभग 190 मिलियन डिवाइस बेचने की तैयारी में है. 

पिछले साल के मुकाबले कंपनी के लिए ये आंकड़ा लगभग 29% ज्यादा है. कंपनी के मुताबिक शाओमी का कोर बिजनेस आगे बढ़ रहा है. लेकिन बावजूद इसके ग्लोबल चिप शॉर्टेज की वजह से स्मार्टफोन शिपमेंट में भी गिरावट दर्ज की गई है. 

पिछले कुछ समय से भारत में स्मार्टफोन खरीदने में लोगों को दिक्कतें हो रही हैं. ग्लोबल चिप शॉर्टेज की वजह से भारत में लेटेस्ट iPhone के लिए भी कंपनी की वेबसाइट पर वेटिंग पीरियड दिखाया जा रहा है. बताया जा रहा है कि ये स्थिति अगले साल के मिड तक ऐसी ही बनी रहेगी. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें