scorecardresearch
 

T20 WC: ... कभी इस खिलाड़ी से 'नफरत' करते थे ऑस्ट्रेलिया के लोग, अब बन गया 'सुपर हीरो'

मिचेल मार्श ने एक बार कहा था कि चोटिल होने के कारण अपने करियर के शुरुआती दौर में अनुकूल प्रदर्शन करने में नाकाम रहने से ऑस्ट्रेलिया के अधिकतर लोग उनसे ‘नफरत’ करते हैं.

X
Mitchell Marsh sinks to his knees. (Getty) Mitchell Marsh sinks to his knees. (Getty)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • मार्श की जोरदारी पारी की बदौलत ऑस्ट्रेलिया बना चैम्पियन
  • पहली बार टी20 वर्ल्ड कप पर कब्जा जमाने में कामयाब AUS

ऑलराउंडर मिचेल मार्श की जोरदारी पारी की बदौलत ऑस्ट्रेलियाई टीम पहली बार टी20 वर्ल्ड कप खिताब पर कब्जा जमाने में कामयाब हुई. रविवार को मार्श ने ऑस्ट्रेलिया की खिताबी जीत में 50 गेंदों पर नाबाद 77 रनों की बेहतरीन पारी खेली. उनके इस प्रदर्शन से कप्तान एरॉन फिंच गदगद हैं. उन्होंने कहा कि मार्श को अपने करियर में अनावश्यक आलोचना का सामना करना पड़ा और इसके बावजूद उन्होंने हार नहीं मानी, जिससे पता चलता है कि वह कितने क्षमतावान हैं.

मिचेल मार्श ने एक बार कहा था कि चोटिल होने के कारण अपने करियर के शुरुआती दौर में अनुकूल प्रदर्शन करने में नाकाम रहने से ऑस्ट्रेलिया के अधिकतर लोग उनसे ‘नफरत’ करते हैं.

फिंच ने आस्ट्रेलिया की फाइनल में न्यूजीलैंड पर 8 विकेट से जीत के बाद कहा, ‘उन्हें लंबे समय तक आलोचनाओं का सामना किया, वह भी तब, जब उनका प्रदर्शन किसी भी प्रारूप में बुरा नहीं था. अगर आप उसके वनडे के आंकड़ों पर गौर करो तो वह बहुत अच्छे हैं.’ उन्होंने कहा, ‘लोगों की आलोचनाओं और संदेह के बावजूद वह वापसी करते रहे, जिससे पता चलता है कि वह कितने क्षमतावान हैं.’

... चोटों से जूझते रहे हैं मार्श

30 साल के मार्श अपने करियर में अब तक चोटों से जूझते रहे हैं. पिछले साल भी वह टखने की चोट से परेशान रहे. वह पिछले एक दशक से ऑस्ट्रेलियाई टीम का हिस्सा हैं, लेकिन एशेज के दो शतकों और एक वनडे शतक के अलावा वह कुछ खास नहीं कर पाए थे. अब वह टी20 विश्व कप में ऑस्ट्रेलिया के तीसरे नंबर के बल्लेबाज के रूप में लोगों का ध्यान अपनी तरफ खींचने में सफल रहे.

मार्श ने कुछ साल पहले कहा था कि अधिकतर ऑस्ट्रेलियाई उनसे नफरत करते हैं और जब फिंच से इस संदर्भ में सवाल किया गया तो उन्होंने इस ऑलराउंडर की जमकर प्रशंसा की.

तीसरे नंबर पर भेजने का फैसला

फिंच ने कहा, ‘आप अपनी जिंदगी में जितने लोगों से मिलेंगे उनमें से वह सबसे अच्छे हैं. वह निश्चित तौर पर विशेष खिलाड़ी हैं. मिच (मार्श) को वेस्टइंडीज में तीसरे नंबर पर भेजने का फैसला महत्वपूर्ण था. हमें लगा कि वह इस नंबर पर अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं. वह तेज गेंदबाजी को अच्छी तरह से खेलते हैं.’

मार्श को नंबर तीन पर भेजने के कारण स्टीव स्मिथ को अपने पसंदीदा स्थान से नीचे बल्लेबाजी के लिए आना पड़ा. फिंच ने इस बारे में कहा, ‘हमने वेस्टइंडीज दौरे से पहले इस पर चर्चा की थी. स्मिथ की राय भी इसको लेकर स्पष्ट थी और वह टीम के लिए कुछ भी करने का तैयार रहते हैं.’ उन्होंने कहा, ‘यह केवल एक संरचनात्मक बदलाव था, लेकिन जिस तरह से उन्होंने (मार्श) वापसी की वह अविश्वसनीय थी.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें