scorecardresearch
 
खेल

सूर्यकुमार ने तोड़ी चुप्पी, जानें टीम इंडिया में जगह नहीं मिलने पर क्या कहा

Suryakumar Yadav
  • 1/7

ऑस्ट्रेलिया सीरीज के लिए टीम इंडिया स्क्वॉड में नहीं चुने जाने से न केवल सूर्यकुमार यादव निराश हुए, बल्कि क्रिकेट बिरादरी को झटका लगा था. मुंबई इंडियंस का यह स्टार संयुक्त अरब अमीरात (UAE) में इंडियन प्रीमियर लीग 2020 (IPL 2020) के दौरान शानदार बल्लेबाजी कर अपनी दावेदारी रखी थी. सूर्यकुमार को टीम इंडिया से बाहर रखे जाने पर मुख्य कोच रवि शास्त्री से लेकर सीमित ओवरों के उपकप्तान रोहित शर्मा ने भी अपनी प्रतिक्रिया जताई थी. 

Suryakumar Yadav
  • 2/7

30 साल के सूर्यकमार यादव आईपीएल के 13वें सीजन के 16 मैचों में 40 की औसत से 4 अर्धशतकों के साथ 480 रन बनाए. वह चैम्पियन मुंबई इंडियंस की ओर से इस सीजन में ईशान किशन (516) और क्विंटन डी कॉक (503) के बाद तीसरे सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज रहे.  

Suryakumar Yadav
  • 3/7

टीम इंडिया में जगह नहीं मिलने पर सूर्यकुमार ने अपनी चुप्पी तोड़ी है. उन्होंने अपनी अनदेखी पर कहा, 'जब ऑस्ट्रेलियाई दौरे के लिए भारतीय टीम की घोषणा की गई तो मैं निराश था. मुझे टीम में चुने जाने की पूरी उम्मीद थी. मैं टूर्नामेंट में अच्छी बल्लेबाजी कर रहा था. मैं पिछले 2 वर्षों में केवल आईपीएल में ही नहीं, बल्कि व्हाइट-बॉल क्रिकेट में अच्छा कर रहा था.'

Suryakumar Yadav
  • 4/7

सूर्यकुमार ने स्पोर्ट्स तक से कहा, 'मैं थोड़ा निराश हो गया, लेकिन मेरा यह सफर जारी रहेगा. नहीं चुने जाने पर मैंने बहुत अधिक सोचने की कोशिश नहीं की.' सूर्यकुमार ने खुलासा किया कि वह उस समय जिम में थे, जब ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए भारतीय टीम की घोषणा की गई थी. नहीं चुने जाने की निराशा में उन्होंने ट्रेनिंग छोड़ दी.

Suryakumar Yadav
  • 5/7

उन्होंने कहा, 'मैं चयन वाले दिन जिम में प्रशिक्षण ले रहा था क्योंकि हमारे पास एक दिन की छुट्टी थी. मैं अपना ध्यान कहीं और लगाना चाहता था और चयन के बारे में बहुत अधिक नहीं सोच रहा था. जब टीम की घोषणा की गई तो मैं जिम में अपना प्रशिक्षण पूरा नहीं कर सका. मैंने आपको बताया कि मैं निराश था.'

Suryakumar Yadav,
  • 6/7

सूर्यकुमार ने कहा, 'मैं तब यह सोचने की कोशिश कर रहा था कि क्या कोई विशेष स्थान है जहां मैं भारतीय टीम में खेल सकता था... मुझे उस रात खाने का मन नहीं कर रहा था, किसी से ज्यादा नहीं बोल रहा था.'

Rohit Sharma
  • 7/7

डिकॉक और किशन के साथ सूर्य के फॉर्म की बदौलत मुंबई इंडियंस ने ट्रॉफी पर कब्जा जमाया. टीम लगातार दूसरी बार चैम्पियन बनी और कुल पांचवीं बार खिताबी जीत हासिल की.