scorecardresearch
 

हॉकी के उत्थान में जुटी है मोदी सरकार, पिछले पांच साल में खर्च किए इतने करोड़ रुपए

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने पिछले कुछ सालों में शानदार प्रदर्शन किया है. टोक्यो ओलंपिक में मनप्रीत सिंह की अगुवाई में भारतीय टीम का शानदार प्रदर्शन रहा था और वह कांस्य पदक जीतने में सफल रही थी. वहीं, भुवनेश्वर में जारी जूनियर हॉकी विश्व कप में भी भारत की यूथ टीम सेमीफाइनल में जगह बना चुकी है.

X
Indian Hockey Team (Getty) Indian Hockey Team (Getty)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • हॉकी टीम पर खर्च हुए 65 करोड़ से ज्यादा रुपए 
  • अनुराग ठाकुर ने लोकसभा में दी इस बात की जानकारी 

Hockey: भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने पिछले कुछ सालों में शानदार प्रदर्शन किया है. टोक्यो ओलंपिक 2020 में मनप्रीत सिंह की अगुवाई में भारतीय टीम का शानदार प्रदर्शन रहा था और वह कांस्य पदक जीतने में सफल रही थी. वहीं, भुवनेश्वर में जारी जूनियर हॉकी विश्व कप में भी भारत की यूथ टीम सेमीफाइनल में जगह बना चुकी है.

अब भारतीय पुरुष हॉकी टीम को लेकर एक नई जानकारी सामने आई है. पिछले पांच वर्षों के दौरान केंद्र सरकार ने पुरुषों की हॉकी टीम पर 65 करोड़ से ज्यादा रुपए खर्च किए. केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने गुरुवार को राज्यसभा में एक लिखित उत्तर के जरिए इस बात की जानकारी दी.

जवाब के मुताबिक सीनियर पुरुष टीम पर 45.05 करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं. वहीं, पुरुषों की जूनियर टीम को कोचिंग शिविरों, विदेशी प्रतियोगिताओं, घरेलू प्रतियोगिताओं, कोचों के वेतन के लिए पिछले पांच वर्षों 2016-17 से 2020-21 के दौरान 20.23 करोड़ रुपए आवंटित किए गए.

इसके अलावा हॉकी की 20 बुनियादी ढांचागत परियोजनाओं के लिए 2016-17 के बाद से खेलो इंडिया स्कीम के तहत 103.98 करोड़ रुपए मंजूर किए गए हैं.

खत्म हुआ था चार दशक पुराना इंतजार

टोक्यो ओलंपिक में भारत ने पुरुष हॉकी में 41 साल का सूखा खत्म करते हुए कांस्य पदक जीता था. कांस्य पदक के मुकाबले में भारत ने जर्मनी को 5-4 से मात दी. खास बात यह रही कि टीम इंडिया एक समय 1-3 से पीछे थी, लेकिन उसके बाद भारतीय जांबाजों ने शानदार वापसी करते हुए देशवासियों को जश्न मनाने का मौका दिया.

अगले मिशन में जुटी टीम इंडिया

भारतीय सीनियर पुरुष हॉकी टीम का सारा ध्यान अब एशियाई चैम्पियंस ट्रॉफी को लेकर है. एशियाई चैम्पियंस ट्रॉफी 14 से 22 दिसंबर तक ढाका में आयोजित की जाएगी. इस टूर्नामेंट में गत चैम्पियन भारत, पाकिस्तान, दक्षिण कोरिया, जापान, मलेशिया और मेजबान बांग्लादेश की टीमें भाग लेंगी. भारतीय टीम चौथी बार इस खिताब जीतने की कोशिश करेगी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें