scorecardresearch
 

सेमीफाइनल में बेस्ट प्लेइंग इलेवन के साथ नहीं खेली टीम इंडिया: अजहरुद्दीन

पूर्व भारतीय कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन और पूर्व क्रिकेटर मदन लाल ने इस हार के लिए टीम इंडिया की प्लेइंग इलेवन और बैटिंग ऑर्डर को निशाना बनाया है.

वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में बुधवार को न्यूजीलैंड ने भारत को 18 रन से मात दी. वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में बुधवार को न्यूजीलैंड ने भारत को 18 रन से मात दी.

इंग्लैंड की मेजबानी में 20 साल बाद खेले जा रहे क्रिकेट विश्व कप से टीम इंडिया बाहर हो गई है. मैनचेस्टर में खेले गए पहले सेमीफाइनल मुकाबले में बुधवार को न्यूजीलैंड ने भारत को 18 रन से मात दी. इस हार के साथ ही भारत के हाथ से तीसरी बार विश्व विजेता बनने का मौका भी फिसल गया. पूर्व भारतीय कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन ने इस हार के लिए टीम इंडिया की प्लेइंग इलेवन और बैटिंग ऑर्डर को निशाना बनाया है.

केदार की जगह कार्तिक क्यों?-

अजहरुद्दीन ने आज तक से बातचीत में बताया कि वह सेमीफाइनल में टीम इंडिया की प्लेइंग इलेवन और बैटिंग ऑर्डर से असंतुष्ट हैं. अजहर ने कहा, 'कप्तान कोहली ने सेमीफाइनल में कार्तिक पर भरोसा किया, लेकिन वर्ल्ड कप में कार्तिक ने बहुत ज्यादा मैच नहीं खेले थे. किसी भी नए बल्लेबाज के लिए ऐसी परिस्थितियों में रन बनाना आसान नहीं होता.

एक मैच में चार विकेटकीपर-

अजहर ने आगे कहा, 'वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में दिनेश कार्तिक से ज्यादा बेहतर विकल्प केदार जाधव थे. लेकिन इस मैच में उन्हें मौका नहीं दिया गया. एक मैच में चार विकेटकीपर्स के साथ खेलने का भी कोई मतलब नहीं बनता. इससे बैटिंग ऑर्डर को मैनेज करने में भी काफी दिक्कतें आई.'

पंत पर देरी से दिखाया भरोसा-

सेमीफाइनल में एक वक्त ऋषभ पंत काफी अच्छी लय में नजर आ रहे थे. पंत को देरी से टीम में शामिल किए जाने और शुरुआत से ही उन्हें स्क्वाड में जगह न देने पर अजहर ने सवाल खड़े किए. उन्होंने कहा, 'पंत को लगातार मैच खिलाने ही थे तो उन्हें पहले स्क्वाड से बाहर ही क्यों रखा गया था.'

सेमीफाइनल से क्यों बाहर शमी?-

1983 विश्व कप विजेता टीम के हिस्सा रहे पूर्व क्रिकेटर मदन लाल ने भी अजहर की बात पर सहमति जताई. मदन लाल ने कहा, 'सेमीफाइनल में टीम इंडिया की प्लेइंग इलेवन मेरी भी समझ से बाहर है.' मदन लाल ने तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी को बाहर बैठाने पर भी ऐतराज जताया. उन्होंने टीम मैनेजमेंट पर सवाल खड़ा करते हुए कहा कि लीडिंग विकेट टेकर गेंदबाज को इतने बड़े मैच में बाहर बैठाने का फैसला कैसे लिया जा सकता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें