scorecardresearch
 
धर्म की ख़बरें

Shani Jayanti 2021 and Surya Grahan: सूर्य ग्रहण के बीच शनि जयंती आज, भूलकर भी ना करें ये काम

शनि जयंती
  • 1/11

न्याय देव शनि की जयंती गुरुवार, 10 जून को मनाई जा रही है. शनि जयंती के साथ ही इस दिन सूर्य ग्रहण भी लग रहा है. शनि देव हर इंसान को कर्मों के अनुसार ही फल देते हैं. शनि देव अपने भोग काल में उन्हीं को नुकसान पहुंचाते हैं, जिनके कर्म बुरे होते हैं. अच्छे कर्म करने वालों पर शनि देव की सदैव कृपा बनी रहती है और उनकी समस्त मनोकामनाएं पूरी होती है. आइए जानते हैं इस दिन कौन से काम करने से बचना चाहिए.

शनि जयंती
  • 2/11

1. शनि जयंती के दिन कांच की वस्तुएं खरीदना वर्जित माना गया है. यानी इस दिन बाजार से शीशे की वस्तुएं खरीदकर घर नहीं लानी चाहिए.

शनि जयंती
  • 3/11

2. शनि जयंती के दिन घर में लोहे से बनी चीजें न लेकर आएं. शनि के विशेष काल में लोहे की वस्तुएं खरीदने से शनिदेव नाराज होते हैं और उनकी बुरी नजर आपको कंगाल कर सकती है.

शनि जयंती
  • 4/11

3. शनि जयंती के दिन पवित्र पौधे जैसे कि तुलसी, दुर्वा, बेल पत्र, पीपल के पत्ते नहीं तोड़ने चाहिए. ऐसा करने से भी शनि का प्रकोप आपको घेर सकता है.

शनि जयंती
  • 5/11

4. इस दिन पैसों के लेन-देन से बचने की कोशिश करें. किसी व्यक्ति से कर्ज लेकर रुपया घर न लाएं. झूठ बोलने, क्रोध करने और किसी की संपत्ति पर कब्जा करने से भी बचें.

शनि जयंती
  • 6/11

5.शनि जयंती पर बाल न कटवाएं, नाखून ना काटें. ऐसा करने से शनि आपकी आर्थिक तरक्की में रुकावट बन सकते हैं.

शनि जयंती
  • 7/11

6. शनि जयंती के दिन कोरे वस्त्र यानी नए कपड़े या नए जूते-चप्पल नहीं खरीदने चाहिए. इस तरह की नई चीजें खरीदकर घर लाना शुभ नहीं माना जाता है.

शनि जयंती
  • 8/11

7. शनि जयंती के दिन घर में रहने का प्रयास करें, घर से बाहर न निकलें. इस दिन जरूरी हो तो ही यात्रा करें, अन्यथा यात्रा बाद में करना ही बेहतर होगा.

शनि जयंती
  • 9/11

8. इस दिन घर पर तेल नहीं लाना चाहिए और न ही तेल से शरीर पर मालिश करनी चाहिए. इसके अलावा शनिवार को शनिदेव को तेल में काले तिल चढ़ाने से लाभ होता है.

शनि जयंती
  • 10/11

9. शनि अमावस्या के दिन शारीरिक संबंध बनाने से बचें. संयम बरतें.

शनि जयंती
  • 11/11

10. शनि देव को गरीबों और असहाय व्यक्तियों की रक्षक कहा जाता है. गरीबों और असहाय लोगों को परेशान या अपमानित करने वाला शख्स शनि की नजर में दंड का पात्र होता है. इसलिए ऐसा काम करने से हमेशा बचें.