scorecardresearch
 

ढाई साल की बेटी के साथ ससुराल में धरने पर बैठी महिला, जानें पूरा मामला

हनुमानगढ़ में एक महिला अपनी ढाई साल की बेटी के साथ ससुराल में धरने पर बैठ गई. महिला का कहना है कि सास-ससुर उसे घर में घुसने नहीं दे रहे हैं. पुलिस के अनुसार विवाहिता करीब डेढ़ साल से अपने मायके में रह रही थी. मंगलवार अचानक वह अपने ससुराल पहुंची. सास-ससुर ने उसे घर में घुसने नहीं दिया. जिसके बाद वो घर के बाहर ही धरना देकर बैठ गई.

X
ढाई साल की मासूम बेटी के साथ धरने पर बैठी महिला
ढाई साल की मासूम बेटी के साथ धरने पर बैठी महिला

राजस्थान के हनुमानगढ़ में एक महिला बीती रात से अपनी मासूम बच्ची के साथ सुसुराल में धरने पर बैठी है. पीड़िता का आरोपी है कि उसका पति और ससुराल वाले उसे यहां  रहने नहीं दे रहे हैं. वो अपने पति के साथ रहना चाहती है. साथ ही महिला ने आरोप लगाया कि उसके सास-ससुर दहेज के लिए उसे प्रताड़ित कर रहे हैं. जिसकी वजह से वो पिछले काफी समय से वो अपने मायके में रह रही थी. मंगलवार को वो अपनी ननंद की शादी में शामिल होने आई थी.   

कंचन का कहना है कि करीब 4 साल पहले गोलूवाला सिहागान के वार्ड 1 निवासी प्रवीण पुत्र ओमप्रकाश सोनी के साथ उसकी शादी हुई थी. 1 साल पहले ससुराल पक्ष के लोगों ने उसे घर से निकाल दिया था, जिसके बाद से वह मायके में ही रह रही है. मंगलवार वो पति से मिलने और शादी में शामिल होने के लिए आई. लेकिन ससुराल वालों ने उसे घर में  घुसने नहीं दिया. कंचन ने आरोप लगया कि उसे धक्के मारकर घर से बाहर निकाल दिया.

बताया जा रहा है कि गली में हंगामा होते देख पड़ोसियों ने उसे चारपाई और बिस्तर-कंबल दिए, लेकिन लेने से इनकार कर दिया. इसके बाद लोगों ने कहा कि ठंड से उसकी बेटी बीमार हो जाएगी. फिर उसने पड़ोसियों से कंबल और बिस्तर ले लिए 

पुलिस के अनुसार विवाहिता करीब डेढ़ साल से अपने मायके में रह रही थी. मंगलवार अचानक वह अपने ससुराल पहुंची. सास-ससुर ने उसे घर में घुसने नहीं दिया. जिसके बाद वो घर के बाहर ही धरना देकर बैठ गई. रात में कई बार पंचायती भी हुई लेकिन इस समस्या का कोई हल नहीं निकला. इसके बाद अब महिला ने ससुराल पक्ष के खिलाफ गोलूवाला थाना में शिकायत दर्ज कराई है. 

(रिपोर्ट- गुलाम नबी)

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें