scorecardresearch
 

लंच ब्रेक

ज्ञानवापी के बाहर नमाजियों की भीड़, देखें कैसे हैं काशी के हालात

20 मई 2022

आज जुमे के मौके वाराणसी की ज्ञानवापी मस्जिद में भारी भीड़ जमा हो गई है. 700 से भी ज्यादा नमाजी पहुंचने पर मस्जिद के गेट बंद करने पड़े. ज्ञानवापी से ही नमाजियों को दूसरी मस्जिदों में जाने की अपील करनी पड़ी. हलांकि मस्जिद कमेटी ने पहले ही अपील जारी की थी कि लोग अपने घरों मोहल्लों में ही नमाज पढ़ें, क्योंकि वजूखाना सील है और इससे दिक्कतें आ सकती हैं. लेकिन इसके बावजूद नमाज के लिए बड़ी तादाद में लोग पहुंच गए और आखिरकार मस्जिद के गेट बंद करने पड़े. ज्ञानवापी मामले में हिंदू पक्ष के वकील हरिशंकर जैन का दावा है कि वजूखाने में जो शिवलिंग मिला उसमें हीरा जड़ा गया था, जिसे कब्जे के बाद निकाल लिया गया, इसी वजह से शिवलिंग पर ऊपर की ओर दरार दिख रही हैं. देखें लंच ब्रेक

मस्जिद में मौजूद सनातन धर्म संस्कृति के सबूत! कमल, डमरू, त्रिशूल के निशान

19 मई 2022

ज्ञानवापी मस्जिद को लेकर विवाद अपने पूरे चरम पर है. हिंदू पक्ष इसे मंदिर बता रहा है. मुस्लिम पक्ष इससे इनकार कर रहा है. इसी बीच अदालत के आदेश पर किए गए सर्वे की रिपोर्ट में गुरुवार को अदालत में सौंप दी गई. ज्ञानवापी सर्वें पर पूर्व कोर्ट कमिश्नर अजय मिश्रा ने 6 और 7 मई की तारीख की रिपोर्ट को कोर्ट में पेश कर दिया है. ज्ञानवापी मस्जिद पर बनाई ये रिपोर्ट दो पन्नों की है. वहीं कोर्ट कमिश्नर विशाल सिंह ने 12 पन्नों की रिपोर्ट दर्ज की है. अब अदालत को आखिरी फैसला करना है. वहीं आज सुप्रीम कोर्ट के निर्देसानुसार सुनवाई टाल दी गई है. उच्च न्यायालय के आदेश के मुताबिक पहले सुप्रीम कोर्ट सुनवाई करेगा इसके बाद ही निकली अदालत में कोई ट्रायल चलेगा.

ज्ञानवापी में वजू खाने के दो एक्सूक्लसिव वीडियो, भारी सुरक्षा के इंतजाम

18 मई 2022

ज्ञानवापी में कल कई अहम फैसले हुए, सुप्रीम कोर्ट और वाराणसी की अदालत ने अपने अपने आदेश दिए. कोर्ट कमिश्नर हटाए गए. सर्वे रिपोर्ट पेश करने के लिए दो दिन की मोहलत मिल गई. तो अब आज भी वाराणसी कोर्ट में बेहद जरूरी सुनवाई टल गई है. आज अदालत में ज्ञानवापी के अंदर नमाज का स्थान बदलने को लेकर सुनवाई होनी थी जो वकीलों के हड़ताल की वजह से स्थगित हो गई है. इस वक्त की बड़ी खबर ज्ञानवापी से जुड़ी हुई. मस्जिद के वजूखाने से जुड़ा एक और वीडियो सामने आ गया है. ये दूसरा वीडियो भी पुराना बताया जा रहा है. इसे लेकर अब तक कुल दो वीडियो वायरल हैं.

असम में बरस रही आफत, बाढ़ मलबे में बह गई खड़ी ट्रेन की बोगी

17 मई 2022

असम में भारी बारिश और बाढ़ ने लोगों का जीना मुहाल कर दिया है. पूरे सूबे में 1 लाख 97 हज़ार से ज़्यादा लोग बाढ़ से बुरी तरह प्रभावित हुए हैं. बाढ़ में क्या ट्रेन और क्या पुल, सब तिनकों की तरह बहे जा रहे हैं. ऐसे में लोगों की हालत कितनी बुरी है, ये बताने की ज़रूरत नहीं है. बाढ़ के क़हर के बीच असम में कई उम्मीद जगानेवाली तस्वीरें भी सामने आईं, जब वायुसेना के जांबाज़ों ने कई अलग-अलग ट्रेनों में फंसे लगभग तीन हजार मुसाफ़िरों को एयरलिफ्ट कर और दूसरे तरीक़ों से रेस्क्यू कर लिया. देखें पूरी रिपोर्ट

अमरनाथ यात्रा पर आतंकी ख़तरा, चलेगा 'ऑपरेशन शिवा'

13 मई 2022

दो साल बाद शुरू होने जा रही अमरनाथ यात्रा पर आतंकी ख़तरा है लेकिन इस बार फ़ौज और सुरक्षाबलों की ओर से चलाया जानेवाला 'ऑपरेशन शिवा' आतंकियों का काल साबित होने जा रहा है. खबर है कि आतंकी इस बार 'स्टिकी बम' से लेकर 'ड्रोन अटैक' तक कर सकते हैं लेकिन इस ऑपरेशन में अलग-अलग मॉडस ऑपरेंडी के सहारे लोगों की जान लेने की साज़िश रच रहे आतंकियों को उनके बिल में घुस कर मारने का प्लान है. देखें लंच ब्रेक.

मोहाली में साजिश वाया पाकिस्तान! देखें लंच ब्रेक

11 मई 2022

पंजाब के मोहाली में इंटेलिजेंस दफ़्तर पर हुए आरपीजी अटैक मामला गहरा गया है. असल में मौका ए वारदात से जो आरपीजी बरामद हुई है, उसके रशियन मेड होने का शक है और ऐसे में शक ये भी है कि शायद इस रूसी आरपीजी को तालिबान से लेकर आतंकियों ने पाकिस्तान के रास्ते यहां भिजवाया है. कुल मिलाकर हमले के तार खालिस्तान से लेकर पाकिस्तान और तालिबान तक से जुड़ते नज़र आ रहे हैं. देखें लंच ब्रेक.

नाम बदलने की मांग पर कुतुब मीनार के बाहर प्रदर्शन, देखें लंच ब्रेक

10 मई 2022

देश में जगह-जगह मंदिर-मस्जिद और ताज महल पर विवाद के बाद दिल्ली के कुतुब मीनार पर नया बवाल शुरू हो गया है. आज सुबह से ही हिन्दू संगठनों के कार्यकर्ता कुतुबमीनार का नाम बदलने को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं. हिन्दू संगठनों की मांग है कि कुतुब मीनार का नाम विष्णु स्तंभ कर दिया जाए. हिन्दू संगठनों का कहना है कि देशभर में मुगलों द्वारा जो इमारतें बनाई गई है. उन सबका नाम बदला जाए. इसी मांग को लेकर हिन्दू संगठनों ने कुतुब मीनार के पास जय हनुमान के नारे लगाए. हालांकि पुलिस ने जल्द ही एक्शन लिया और प्रदर्शकारियों को एक्शन में लिया. देखें ये रिपोर्ट.

तेजिंदर बग्गा की गिरफ्तारी, तीन राज्यों की पुलिस कर रही कार्रवाई

06 मई 2022

पंजाब पुलिस ने आज सुबह दिल्ली में भाजपा के नेता तेजिंदर पाल सिंह बग्गा को उनके घर से गिरफ्तार कर लिया है. इस पर जमकर सियासत हो रही है. आप आदमी पार्टी और भारतीय जनता पार्टी आमने सामने हैं. भाजपा इसे बदले की राजनीती बता रही है तो वहीं आप इसे कानून का काम बता रही है. इससे मुद्दे पर बीजेपी और आप के नेताओं ने अलग-अलग प्रेस कांफ्रेंस भी की. दिल्ली में पंजाब पुलिस पर अपहरण का मुकदमा दर्ज कराया गया है. एक वीडियो भी सामने आया है जो तब का है जब बग्गा को लेने पुलिस पहुंची थी. नेहा बाथम के साथ देखें लंच ब्रेक.

करनाल में आतंकी साजिश नाकाम, लवीव टू खारकीव तबाही की तस्वीरें, देखें

05 मई 2022

सांबा के बाद अब हरियाणा के करनाल में एक बड़ी आतंकी साजिश को नाकाम कर दिया गया है. 4 आतंकियों को गिरफ्तार भी किया गया है. जंग के करीब ढाई महीने होने को हैं, जंग जीतने की रूस की 9 मई की डेडलाइन भी अब बेहद करीब है. लिहाजा यूक्रेन पर रूसी हमले में फुल फॉर्म में चल रहे हैं. लवीव से खारकीव तक रूसी सेना भयंकर हमले कर रही है और इन हमलों की तस्वीरें भी सामने आ रही हैं. खारकीव में बच्चों के एक पार्क में रूसी सेना ने ताबड़तोड़ हवाई हमले किए. बड़ा सवाल ये उठता है कि क्या रूसी सेना बच्चों से डर रही है जो उनके पार्क पर बम बरसाए जा रहे हैं? देखें लंच ब्रेक.

Hanuman Chalisa Row: बेल के बाद भायखला जेल से जेजे अस्पताल लाई गईं नवनीत राणा

04 मई 2022

आखिरकार महाराष्ट्र के राणा दंपति को 11 दिनों बाद जमानत मिल गई है. सीएम उद्धव के घर के बाहर हनुमान चालीसा पाठ करने की चेतावनी देने के मामले में सांसद नवनीत राणा और उनके विधायक पति रवि राणा को 23 अप्रैल को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था. जमानत की कई अर्जियों के बाद आज उन्हें राहत मिली है. मुंबई के सेशंस कोर्ट ने आज सुनवाई के बाद दोनों को 50-50 हजार के निजी मुचलके पर जमानत दे दी है. लेकिन राणा दंपति की मुश्किलें कम होती दिखाई नहीं दे रही हैं. राणा दंपति की रिहाई से पहले ही बीएमसी की टीम उनके घर पहुंच गई है. बीएमसी ने नोटिस भी भेज दिया था कि अगर कहीं भी कोई अवैध निर्माण मिला तो तोड़फोड़ कर दी जाएगी.

जोधपुर हिंसा केस में पुलिस ने तीन लोगों को हिरासत में लिया

03 मई 2022

जोधपुर हिंसा के मामले में पुलिस ने तीन लोगों को हिरासत में लिया है. जोधपुर में कल रात से तनाव का माहौल है. ईद की नमाज के पहले झंडे को लेकर विवाद हुआ और दो गुटों में जमकर पत्थरबाजी हुई. सुबह ईद की नमाज के बाद पुलिस पर भीड़ ने पथराव किया. पुलिस उपद्रवियों की पहचान में जुटी है. फिलहाल इस मामले में तीन लोगों को पुलिस ने पकड़ा है. ईद की नमाज के बाद संभल में दो गुटों में ऐसी झडप हुई कि गोलियां चल गई. फायरिंग और लाठीचार्ज में 3 लोग जख्मी हो गए. जमीन के पुराने विवाद पर आज दो गुट आमने सामने आ गए.

कीव से दूर रहें राजनयिक वरना.. दुनिया के नाम रूस की खुली धमकी

28 अप्रैल 2022

रूस और यूक्रेन जंग के 64वें दिन हालात अब बिगड़ते नज़र आ रहे हैं, अब यूक्रेन को मिल रही विदेशी मदद और कीव में विदेशी प्रतिनिधियों के दौरों पर खामोश रहा रूस, अब भड़क गया है. रूस ने चेतावनी दी है कि अब अगर कीव में विदेशी नेताओं का आना जाना कायम रहा और हथियारों की मदद जारी रही तो इतने बम मारेंगे कि खैर नहीं. देखें ये खास पेशकश.

कराची हमले के पीछे बलूच लिबरेशन आर्मी का हाथ! देखें लंच ब्रेक

27 अप्रैल 2022

पाकिस्तान से ना सियासत संभल रही है और ना ही मुल्क. आए दिन मुल्क में हो रही उठा-पठक और धमाकों से ऐसा लगने लगा है कि पाकिस्तान के बुरे दिन अब आने वाले हैं. कराची में बलूचिस्तान लिब्रेशन आर्मी की मजीद ब्रिगेड विंग की पहली महिला सुसाइड बॉम्बर ने जो धमाका किया वो इस बात का इशारा कर रहा है पाकिस्तान से अलग, बलूचिस्तान की मांग अब तेज़ होने जा रही है. इसे समझना जरूरी है लेकिन उससे पहले ये जानते हैं कि कौन है बीएलए की ये पहली महिला सुसाइड बॉम्बर जिसने चीन और पाकिस्तान के साथ पूरी दुनिया को हिला दिया. देखें लंच ब्रेक का ये एपिसोड.

6-12 साल के बच्चों को लग सकेगा कोरोना का टीका, कोवैक्सीन को मिली मंजूरी

26 अप्रैल 2022

कोरोना की नई लहर की आशंका के बीच बड़ा फैसला लिया गया है. अब 12 साल से छोटे बच्चों को भी कोरोना टीका लगाया जाएगा. दो टीकों को इसके लिए चुना गया है. बताया गया है कि 5-12 साल के बच्चों को Corbevax और 6-12 साल के बच्चों को Covaxin का टीका लगेगा. DCGI ने इनको आपातकालीन इस्तेमाल की मंजूरी दे दी है. इसके साथ-साथ 12 से ऊपर के आयुवर्ग के लिए 'ZyCoV-D' की 2 डोज वाली वैक्सीन को मंजूरी मिल गई है.

महाराष्ट्र में हनुमान चालीसा पढ़ना राजद्रोह है? देवेंद्र फडणवीस का सवाल

25 अप्रैल 2022

महाराष्ट्र में लाउडस्पीकर विवाद को खत्म करने के लिए आज सर्वदलीय बैठक हो रही है. लेकिन विपक्ष ने इसमें शामिल होने से इनकार कर दिया. पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि अगर हनुमान चालीसा पढ़ना गुनाह है तो सरकार मुझ पर भी देशद्रोह लगाए. साथ ही उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में अराजकता का माहौल है. फडणवीस ने कहा कि हनुमान चालीसा का पाठ करना देशद्रोह है क्या? उन्होंने कहा कि अगर ऐसा है तो हम लोग भी हनुमान चालीसा का पाठ करेंगे. सरकार हम पर देशद्रोह का मुकदमा लगाए. महाराष्ट्र की जेल में कैसे नवनीत राणा के साथ बदसलूकी भी की जा रही है, ये भी गिनाया.

भारत-ब्रिटेन में द्वीपक्षीय वार्ता, यूक्रेन के 4 शहरों पर रूस का कहर

22 अप्रैल 2022

करीब 2 महीने से चली आ रही रूस-यूक्रेन की जंग के बीच अब हालात लगातार बिगड़ते जा रहे हैं. रूस को इस जंग को जीतने में जितना वक्त लग रहा है वो उतना ज्यादा घातक होता जा रहा है. एक के बाद एक रूसी सेना ने बम बारूद और मिसाइलें दाग कर रूस के एक दो नहीं बल्कि चार-चार बड़े शहरों को खंडहर में तब्दील कर दिया है. इनमें खेरसन, मारियुपोल, खारकीव और राजधानी कीव वो शहर हैं जहां रूस ने सबसे ज्यादा तबाही मचा रखी है. लेकिन सबसे ज्यादा तबाही हुई है यूक्रेन के सबसे बड़े बंदरगाह के शहर मारियुपोल में. अब शहरों के नामों निशान मिटाने के इरादे से रूस की सेना जबरदस्त एक्शन दिखा रही है. रूसी लड़ाकू विमान पूर्वी यूक्रेन के कई इलाकों पर बमबारी कर रहे हैं.

दिल्ली जहांगीरपुरी हिंसा मामले में कौन है मुख्य आरोपी अंसार?

19 अप्रैल 2022

अंसार वो नाम जिसका नाम दिल्ली हिंसा में सबसे ज्यादा सुना गया. अंसार को मुख्य आरोपी के तौर पर देखा गया और अब पुलिस उसे वो तमाम राज उगलवाने की कोशिश कर रही है जो साजिश की तह तक पहुंचा सके. अबतक 24 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है और पुलिस उन लोगों की तलाश में जुट चुकी है जो अबतक कानून के शिकंजे से बाहर हैं. अंसार को गिरफ्तार करने के बाद जब पुलिस ने उसकी कुंडली खंगाली तो खुलासा हुआ कि वो इलाके का हिस्ट्रीशीटर है. 20 फरवरी 2009 को दिल्ली पुलिस ने अंसार का डोजियर तैयार किया था. आजतक की टीम अंसार के गांव भी पहुंची. देखें लंच ब्रेक.

दिल्ली-जहांगीरपुरी हिंसा की जांच.... देखें कहां तक आंच?

18 अप्रैल 2022

दिल्ली के जहांगीरपुरी में हुई हिंसा के बाद इलाके में तनाव है, लेकिन इन सब के बीच पुलिस फुल एक्शन में है. हिंसा के बाद उससे जुड़े दर्जनों वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहे हैं. इन वीडियो को पुलिस बहुत बारीकी से जांच रही है और उनमें दिख रहे आरोपियों की धर पकड़ का काम भी किया जा रहा है. आज हम आपको वो 5 वीडियो दिखाने जा रहे हैं जिसने शनिवार को जहागीरपुरी में माहौल बदल दिया. इन वीडियो में गोली चलाते हुए लोग भी हैं, सड़क पर जुलूस के दौरान तलवार लहराती भीड़ भी है और पकड़े जाने के बाद स्टाइल मारते आरोपी भी हैं. ये वीडियो साज़िश के सबूत हैं, जो इस हिंसा का राज़ खोल रहे हैं. देखें ये एपिसोड.

दुनिया में सबसे क्रूर रसिच यूनिट को यूक्रेन में तैनात करेंगे पुतिन?

15 अप्रैल 2022

पुतिन के खूंखार प्लान के खुलासे के बाद ना सिर्फ यूक्रेनियन सेना और लोग दहशत में हैं बल्कि दुनिया भी परेशान हो गई है. पुतिन का ये खूंखार प्लान है यूक्रेन में अपनी उस रसिच यूनिट को तैनात करने का जो दुनिया में सबसे खूंखार, बेरहम और क्रूर माने जाते हैं. ये इस बात के लिए कुख्यात हैं कि ये सिर्फ दुश्मन को जान से ही नहीं मारते हैं बल्कि उनके जिस्म के साथ बेहद क्रूर तरीकों से पेश आते हैं. इस यूनिट के सैनिक दुश्मन को मारने के बाद उनके जिस्म से नाक-कान और बाकी हिस्से काट कर अपने पास निशानी के तौर पर रख लेते हैं और फिर बड़े फख्र से एक दूसरे को तोहफे में देते हैं. देखें लंच ब्रेक.

एमपी हिंसा, सख्ती, सियासत और शिकायत! खरगोन हिंसा पर सरकार सख्त

13 अप्रैल 2022

मध्य प्रदेश के खरगोन में हिसा को लेकर शिवराज सरकार सख्त हो गई है. शिवराज ने कहा कि किसी भी आरोपी को बख्शा नहीं जाएगा, जो भी नुकसान हुआ है उसकी वसूली उन्ही से की जाएगी. इसके लिए सरकार ने दो सदस्यीय ट्रिब्यूनल का गठन किया है. सीएम शिवराज ने ये भी कहा कि आरोपियों को कठोर सजा दी जाएगी. खरगोन में रामनवमी जुलूस के दौरान पथराव हुआ था, जिसमें एसपी सिद्धार्थ चौधरी समेत करीब दो दर्जन लोग घायल हुए थे. मामले में एक्शन लेते हुए एमपी प्रशासन ने यूपी की तरह बुलडोजर वाली कार्रवाई की थी और कई घरों-दुकानों को गिराया था. इनको पथराव करने वाले आरोपियों से संबंधित बताया गया था उधर गलत फोटो को लेकर दिग्विजय पर केस दर्ज किया गया है. देखें ये एपिसोड.

देवघर हादसा: खत्म हुआ रेस्क्यू मिशन, जानें कौन सी चुनौतियां आईं सामने

12 अप्रैल 2022

झारखंड के त्रिकूट पर्वत पर रविवार शाम से त्राहिमाम मचा है था. कैसे गुजरी होगी वो रात, जब किसी को पता नहीं था कि इतनी ऊंचाई पर अटक जाने के बाद, नीचे उतरने की मदद कब तक मिल पाएगी. एनडीआरएफ, वायुसेना, आईटीबीपी और स्थानीय प्रशासन की टीम, सब जुटे लेकिन ये ऑपरेशन इतना आसान नहीं था. झारखंड के त्रिकूट पर्वत पर बना ये रोपवे भारत में सबसे ज्यादा सीधी ऊंचाई वाला रोपवे है. 44 डिग्री कोण पर बना ये रोपवे पर्यटकों को 1500 फीट ऊंचे शिखर पर ले जाता है. रोपवे की लंबाई 766 मीटर है जिसमें 26 ट्रॉलियां लगी हैं. हर ट्रॉली में 4 लोग बैठ सकते हैं. ट्रॉली को शिखर तक पहुंचने में करीब 8 मिनट का वक्त लगता है. रोपवे की क्षमता हर घंटे 500 लोगों की है. रोपवे का संचालन दामोदर वैली कंपनी करती है. देखें लंच ब्रेक.