scorecardresearch
 

दंगल: सिख भावनाओं पर 'खेल गए' मोदी?

दंगल: सिख भावनाओं पर 'खेल गए' मोदी?

कांग्रेस के नेता सैम पित्रोदा के एक बयान पर हंगामा मच गया है.  वैसे तो सैम सवाल पूछ रहे थे मोदी सरकार के कामकाज पर लेकिन उनके मुंह से मोदी सरकार पर सवालों के साथ ही निकल गया कि 84 का दंगा हुआ तो हुआ. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सैम के इन्हीं तीन शब्दों -- हुआ तो हुआ --को कांग्रेस का चरित्र, मानसिकता और इरादा कहा है.  सैम के बहाने प्रधानमंत्री मोदी ने राहुल गांधी पर निशाना साधा और कहा कि सैम पित्रोदा तो राहुल के गुरु हैं, राजीव के दोस्त रहे हैं. बीजेपी ने सिख पीड़ितों को अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में बैठाकर चुनाव के पहले इस मसले पर बड़ा दांव खेला है. चुनाव की हर ख़बर मिलेगी सीधे आपके इनबॉक्स में. आम चुनाव की ताज़ा खबरों से अपडेट रहने के लिए सब्सक्राइब करें आजतक का इलेक्शन स्पेशल न्यूज़ लेटर

A controversial statement of Sam Pitroda about 1984 anti-sikh riots created stir in politics. Sam Pitroda in an attempt to question the work done by Modi government in past 5 years, made a controversial statement about anti-sikh riots. Sam Pitroda said that 84 riots happened, so what? Tell me the work, BJP has done, in 5 years. PM Narendra Modi grabbed the opportunity and attacked the Congress party over the statement of Sam Pitroda. Prime Minister Narendra Modi said that the statement by Sam Pitroda reflects the thinking, character and the intentions of Congress party.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें