scorecardresearch
 

बोरे में पैक कर फेंक दी मां की लाश, शातिर बेटी ने हत्या का राज छिपाने बनाया था ये बहाना

Daughter Kills mother: बेटी ने मां की लाश को पॉलिथिन में लपेटकर बोरी में पैक किया और हाइवे किनारे जंगल में जाकर फेंक दिया था. रिश्तेदारों से बोल दिया कि मां की नदी में डूब जाने से मौत हो गई.

X
60 साल की महिला को शादीशुदा बेटी ने मार डाला. (फोटो:Aajtak) 60 साल की महिला को शादीशुदा बेटी ने मार डाला. (फोटो:Aajtak)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • मध्य प्रदेश के बैतूल जिले का है मामला
  • 5.82 हजार रुपए के लिए मां को मारा

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में बेटे ने गोली मारकर अपनी मां का मर्डर कर दिया. इस घटना को अभी ज्यादा दिन नहीं बीते कि मध्यप्रदेश के बैतूल में भी एक बेटी ने जन्म देने वाली मां को मार डाला. पुलिस ने आरोपी बेटी और उसके पति को गिरफ्तार कर लिया है. 

बैतूल एसपी सिमाला प्रसाद ने बताया, रानीपुर थाना इलाके के हाइवे किनारे जंगल में 6 जून को बोरी में बंद एक लाश पड़ी होने की सूचना मिली थी. जब पुलिस  मौके पर पहुंची तो पाया कि लाश सड़ चुकी थी और बोरे से बदबू आ रही थी. बोरे को खोला गया तो अंदर पॉलिथिन में लिपटी बुजुर्ग महिला की लाश थी जो करीब 6-7 दिन पुरानी लग रही थी. तफ्तीश के दौरान मृतका की पहचान 60 साल की भगरती झरवड़े निवासी पाथाखेड़ा के रूप में हुई. 

पुलिस जांच में पता चला कि भागीरथी अपनी छोटी बेटी ऊषा वाईकर के घर बैतूल में कुछ दिनों से रह रही थी. भागीरथी ने एक प्लॉट बेचा था, जिससे उसे 5 लाख 82 हजार रुपये की रकम मिली थी. यह राशि उसने बेटी ऊषा वाईकर के खाते में जमा कर दी थी. भागीरथी इस राशि को अपनी दोनों बेटियों को आधी-आधी देना चाहती थी, लेकिन छोटी बेटी के मन में लालच आ गया. 

छोटी बेटी ऊषा अपनी बड़ी बहन को रुपया नहीं देना चाहती थी. इसी बात को लेकर 29 मई को मां और बेटी के बीच विवाद भी हुआ और उसी दौरान बेटी ने मां के सिर पर पत्थर मार दिया जिससे उसकी मौत हो गई. 

इसके बाद ऊषा ने अपने पति करण वाईकर की मदद से लाश को पॉलिथिन में लपेटकर बोरी में भरा और हाइवे किनारे जंगल में जाकर फेंक दिया. कुछ दिनों तक जब बड़ी बेटी की मां से बात नहीं हुई, तो उसने छोटी बहन ऊषा से मां के बारे में पूछा. 

ऊषा ने झूठी कहानी बनाते हुए बताया कि मां नर्मदापुरम (होशंगाबाद) गई थीं, जहां नर्मदा नदी में नहाने के दौरान वह डूब गईं और उनकी गुमशुदगी नर्मदापुरम पुलिस थाने में दर्ज कराई गई है.

हालांकि,  पुलिस की पूछताछ में छोटी बेटी टूट गई और उसने अपनी मां की हत्या का जुर्म कबूल कर लिया. जुर्म स्वीकार कर लेने के बाद पुलिस ने ऊषा वाईकर और उसके पति करण को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें